Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
05-23-2019, 11:26 AM,
#11
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
हम लोग देर तक सोते रहे दोपहर मे मेरी आँख खुल गई लेकिन पापा सो रहे थे मैने उन्हे जगाना मुनासिब ना समझा और मोम को कॉल की लेकिन मोम ने कॉल रिसीव नही की. मैं उठी और बाथ रूम मे चली गई बाथ लिया,कपड़े पहने और आकर टीवी देखने लगी. मेरे ज़हन मे ये बात थी कि मोम ने कॉल अटेंड क्यूँ नही की. अभी मैं ये सोच ही रही थी कि मोबाइल की ट्यून बजने लगी मैने नंबर देखा तो मोम का था मैने यस कर के पूछा मैने आप को कॉल की थी आप ने अटेंड क्यूँ नही की. मोम ने कहा ये बताओ हनीमून कैसा चल रहा है? ऑर चुदाई कैसी हो रही है कल से कितनी बार चुदवाया. मेने कहा मोम 6 बार 4 बार आगे से और 2 बार पीछे से ली पापा ने ऑर मम्मी आप ने कितनी बार किया

मम्मी-अरे मेने भी रियाज़ से कल से आज तक 4 बार चुदवाया 

मैने कहा हनीमून फॅंटॅस्टिक चल रहा है. आप ने मेरे कॉल वाले सवाल का जवाब नही दिया. 

मोम ने कहा अब तुम भी सब बातों का जानने लग गई हो तुम से क्या छुपाना जब तुम्हारी कॉल आई थी उस टाइम मैं रियाज़ के नीचे थी और वो मेरी टांगे चौड़ी करके मेरे ऊपर चढ़ा हुआ था ऑर हमारा काम एंड पर था इस लिए अटेंड नही कर पाई. 

मैने कहा ओके ये बताएँ आप का मिलन कैसा चल रहा है?

मों बोली क्या बताऊ दिन रात चुदाई चल रही है बहुत मज़ा आ रहा है . 

फिर इधर उधर की थोड़ी सी बातें हुई तो फोन बंद हो गया.

थोड़ी देर बाद पापा उठ गये और बाथ लेने चले गये जब वो बाहर आए तो प्रोग्राम घूमने ओर शॉपिंग का बना.हम होटेल से बाहर आए टेक्शी में बैठ कर पब्लिक प्लेस पर चले गये वहाँ एंजाय करने लगे वहाँ से मार्केट आए मैने पापा के लिए कुछ ड्रेस चूज किए पापा ने मेरे लिए कुछ शॉपिंग की. हमे भूक लग रही थी हम ने बाहर से खाना खाया और होटेल आ गये रूम मे आए तो मेरा इरादा था कि ज्वेलरी उतार के चेंज कर लूँ , मैने पापा से कहा आप भी चेंज कर लें 

पापा ने कहा पहले तुम कर लो मैने उन का हाथ पकड़ा और उन को बाथरूम मे भेज कर बाथ रूम का दरवाज़ा बंद कर दिया.मैं अभी ज्वेलरी उतार ही रही थी कि पापा बाथ रूम से निकल कर मेरे पीछे खड़े हो गये उन्होने सिर्फ़ लूँगी पहनी हुई थी.मेरे ज़हन मे शरारत आई मैं पापा से नेकलेस उतरवाने के लिए थोड़ा पीछे हुई और अपनी गान्ड को पीछे कर के हल्का सा पापा के लंड से टच कर दिया और गान्ड हटा ली और ऐसा शो किया जैसे मुझे कुछ पता ही नही है. मैं जानती थी कि इस हरकत का पापा पर कुछ असर तो होगा. 


वो ही हुआ पापा मेरे और करीब हो गये उन का लंड मेरी गान्ड की लकीर पर लग रहा था मैं अंजान बनी रही और ज्वेलरी उतारती रही मुझे फील हो रहा था कि पापा का लंड हार्ड हो रहा है. मैने अचानक पीछे मूड की पापा की लूँगी खोल दी.पापा बिल्कुल नंगे हो गये उन का लंड फुल हार्ड था और झटके ले रहा था.पापा भी मेरी शरारत समझ चुके थे उन्होने मुझे दबोच लिया 

मैने उन की पकड़ से निकलने की कोशिश की लेकिन पकड़ बहुत स्ट्रॉंग थी. पापा ने मेरी कमीज़ उतारने की कोशिश की लेकिन कमीज़ टाइट होने की वजह से थोड़ा उपर जा कर फँस गई.मैने कहा पापा कमीज़ की ज़िप तो खोल लें.पापा ने ज़िप खोल कर कमीज़ उतारी फिर मेरी ब्रा खोल कर दोनो को बेड पर फेंक दिया.मैं सिर्फ़ शलवार और पैंटी मे थी पापा ने मेरे शोल्डर्स से पकड़ कर मुझे नीचे बैठा दिया और अपने लंड को मेरे फेस के सामने ला कर कहा इस को चूसो मैने लंड की टोपी पर ज़ुबान फेरी और उसे चाटा पापा मज़े से पागल हो रहे थे थोड़ी देर टोपी चाट के मैने लंड मुँह मे भर लिया और चूसने लगी.पापा के मूँह से मज़े की वजह से आवाज़ें निकल रही थी थोड़ी देर लंड चुसवा कर पापा ने लंड बाहर निकाल लिया उन का लंड मेरे सलाइवा(थूक) से सना हुआ था. पापा ने मुझे उठाया और बेड पर सीधा लिटा दिया. और मेरे उपर चढ़ कर नीस(घुटनो ) के बल बैठ गये और लंड को मेरे बूब्स की लकीर पर रख कर मुझे कहा कि लंड को अपने बूब्स के दरमिया दबा लो


.मैने कहा पापा ये क्या कर रहे हैं तो पापा ने कहा तुम्हारे बूब्स चोद रहा हूँ.मैने हँसते हुए कहा ये भी कोई चोदने की जगह है ?पापा ने कहा औरत के बूब्स ,आगे, पीछे,मूँह सब को चोदा जाता है. जान जब तुम्हारे बूब्स इतने मस्त हैं तो मैं कैसे इन को छोड़ दूं. मैने अपने बूब्स दबा के लंड को उन में जकड लिया.पापा लंड को आगे पीछे करने लगे. मैं भी लंड चूसने और बूब्स फक्किंग से हॉट हो रही थी मेरी चूत मे करेंट दौड़ रहा था.मैं काफ़ी गीली हो रही थी. 20 मिनट तक पापा बूब्स चोदते रहे फिर उन के मूँह से अहाहोहोहहह की आवाज़ें निकलने लगीं और उन के लंड ने पानी की धार छोड़ी जो मेरी नेक और बूब्स पर गिरने लगी जब कुछ देर के बाद पानी निकल गया तब पापा ने मेरी ब्रा से मेरी नेक और बूब्स साफ किए.

मैने पापा से कहा प्लीज़ मेरी चूत चाटे पापा मेरी लेग्स के दरमिया आ गये लेग खोल के चूत पे ज़ुबान फेरने लगे.मैं मज़े से आवाज़ें निकालने लगी पापा ने अपनी फिंगर गीली चूत मे डाल कर निकाली और मुझे कहा लो अपनी चूत का पानी टेस्ट करो.

मैने उन की फिंगर चाट ली पानी का टेस्ट नमकीन मगर अच्छा था.पापा ज़ोर से चूत चाटने लगे दरमिया मे चूत की क्लिट को काट लेते.मज़े की वजह मैं कंट्रोल नही कर सकी और फारिघ् हो गई.पापा का लंड इतनी देर मे खड़ा हो गया था पापा मुझे उठा के नीचे सोफे के पास लाए और मुझे सोफे का सहारा लेकर झुकने को कहा . जब मे झुकी तो मेरी चूत के लिप्स पीछे से पापा के सामने हो गये पापा ने मेरे पानी से लंड गीला किया और चूत पर रख के ज़ोर का धक्का लगाया. 
Reply

05-23-2019, 11:26 AM,
#12
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
मैं लड़खड़ा गई.हाफ लंड चूत के अंदर जा चुका था.पापा ने और ज़ोर का धक्का लगाया और पूरा लंड अंदर डाल दिया. मैने कहा पापा आराम से लेकिन पापा पे असर नही हुआ और वो लंड को अंदर बाहर करने लगे. मेरे बूब्स हवा में झूल रहे थे.पापा पूरी मेहनत और ताक़त से चुदाई कर रहे थे तकरीबन 20 मिनट ऐसे ही चोदने के बाद पापा ने दोनो हाथ से मेरे बूब्स पकड़ लिए और चोदने की स्पीड तेज़ कर दी. चुदाई का ये अंदाज़ मुझे बहुत मज़ा दे रहा था.


कुछ देर पापा बूब्स पकड़ के चोदते रहे. मैं फारिघ् होने वाली थी और मेरी लेग्स और कमर मे झुकने की वजह से पेन होने लगा मैने कहा पापा कमर और लेग्स मे पेन हो रहा है.पापा ने कहा थोड़ी देर और मैं फारिघ् होने वाला हूँ फिर उन के धक्कों की स्पीड और तेज़ हो गई. लंड चूत के अंदर तक टकराता तो मूँह से आह निकल जाती तकरीबन 2 मिनट चोदने के बाद पापा के पानी की धार मुझे अपनी चूत मे गिरती फील हुई. जब पानी निकल गया तब पापा ने लंड बाहर निकाला मैं बुरी तरह थक गई थी और वहीं सोफे पर गिर पड़ी. जब हमारी साँसें बहाल हुई तब पापा मुझे उठा के बाथरूम मे ले गये और मुझे और अपने को साफ किया. हम बेड पर आ गये पापा ने मेरी चूत और मैने उन के लंड पर किस किया और सो गये.


सुबह मेरी आँख खुली तो देखा पापा का लंड खड़ा था जो बहुत प्यारा लग रहा था लंबा मोटा मैने उठ कर लंड पर किस की. जैसे ही किस की पापा उठ गये और मुझे पकड़ कर अपने साथ लिटा लिया.पापा मेरे बूब्स को देखने लगे मैने कहा ऐसे क्या देख रहे हैं क्या दूध पीना है? 

पापा ने कहा हाँ पिलाओगी अपना दूध? 

मैने कहा वो तो आप रोज़ पीते हैं.

पापा बोले वो तो मैं खुद पीता हूँ लेकिन कभी तुम खुद से पिलाओ.

मैने कहा ये कॉन सी बड़ी बात है और अपने एक बूब को हाथ से पकड़ कर निपल पापा के मूँह से लगा दिया.पापा ने निपल मूँह मे लिया और चूसने लगे. चूसने के साथ साथ दाँतों से काट भी लेते. मज़े से मैं पागल हो रही थी.थोड़ी देर एक बूब्स चुसवा कर मैने निपल पापा के मूँह से निकाल लिया और उठ गई.पापा सवालिया नज़रो से मुझे देखने लगे.मैने पापा को अपनी जगह पर जाने को कहा जब पापा मेरी जगह पर लेट गये तो मैं उन की जगह पर आ गई और लेट गई. फिर मैने दूसरे बूब को पकड़ कर निपल पापा के मूँह से लगाया और कहा ये रह गया था.

पापा ज़ोर से निपल चूसने लगे काफ़ी देर बूब्स चुसते और काटते रहे.मेरे दोनो बूब्स पर काटने से निशान बन गये थे. मैं हॉट हो गई थी और चूत मे गीला पन फील कर रही थी. पापा भी बहुत हॉट हो गये थे उन का लंड झटके खा रहा था. पापा ने मुझे हाथ उपर कर के सीधा लेटने को कहा जब मैं इस पोज़िशन मे लेट गई तो पापा ने मेरी आर्म्पाइट(बगल)को पहले सूँघा और कहा किरण क्या महक है तुम्हारी बगल की फिर मेरी बगल को चाटने लगे और अपनी फिंगर मेरी गीली चूत मे डाल दी.


मैं तो एक लम्हे को मज़े से सिहर उठी पापा ज़ोर से फिंगर करने लगे कुछ देर के बाद दूसरी फिंगर भी डाल दी.फिंगर्स ने मेरी चूत मे आग लगा दी थी मुझे लंड की ज़रूरत फील हो रही थी मैं अपने चूतड़ बेड पर पटकने लगी.पापा मेरी कंडीशन को समझ गये और लेटे लेटे ही मेरी एक लेग उठा कर लंड को गीली चूत मे डाल दिया.लंड के चूत मे आने से मुझे अच्छा लगा और मैं लंड को चूत से भींचने लगी पापा पहले स्लो स्लो लंड पेलते रहे फिर ज़ोर ज़ोर से पेलने लगे. इस पोज़िशन मे मैं 1स्ट टाइम करवा रही थी लेकिन पापा के स्ट्रॉंग और मोटे लंबे लंड ने बहुत मज़ा दिया था. तकरीबन आधा घंटा वो मुझे चोदते रहे इस दोरान मेरे बूब्स को भी दबाते और मसल्ते रहे जिस से मुझे बहुत मज़ा आया.


फिर पापा फारिघ् हो गये मैने उन के पानी को हमेशा की तरह अपनी चूत मे वेलकम कहा.जब पापा ने लंड बाहर निकाला तो मैं ने शरारत से लंड पर हल्के से मारते हुए कहा कि बहुत तंग करता है ये.पापा फॉरन बोले जब इतना मस्त माल देखेगा तो तंग तो करेगा . फिर हम उठे कपड़े पहने और नाश्ता किया.
Reply
05-23-2019, 12:21 PM,
#13
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
सुबह की चुदाई से मैं बहुत रिलॅक्स फील कर रही थी. कुछ देर हम ने टीवी देखा और गॅप शॅप की फिर पापा कहने लगे कि जान तैयार हो जाओ बाहर चलते हैं. मैने कहा कि क्या पहनू पापा ने कहा ब्लू वाली साड़ी पहन लो. हम एक साथ नहाए फिर नंगे बाहर आ गये पापा ने मुझे ब्रा पहनाई मैने साड़ी पहनी पापा ने मुझे झप्पी डाल कर कहा बहुत हसीन लग रही हो फिर मुझे कहा बाल खुले छोड़ दो.मैने अपने बाल खुले छोड़ दीए और लाइट सा मेकप किया और हम बाहर आ गये पापा ने मेरी कमर मे हाथ डाला हुआ था. हम बाहर निकले आज देर तक घूमने का मूड था हम काफ़ी देर तक घूमती रहे. 

मैने पापा से पूछ लिया कि आप के और मोम के रीलेशन क्यूँ खराब हुए.पापा कुछ नही बोले जब मैने ज़िद की तो कहने लगी तुम्हारी मोम बहुत चुदक्कड़ औरत है मैं शुरू मे खराब नही था. शुरू ही से मैं बहुत सेक्सी था और तुम्हारी मोम को टाइम भी देता था लेकिन उसे दूसरों से चुदवाने की जो आदत पड़ चुकी थी उस ने हमारे रीलेशन को खराब कर दिया.मैने कई बार उसे अपने ब्रदर इन लॉ से करवाते हुए देखा.मैने उसे मना किया लेकिन वो नही मानी फिर मैं उस से दूर होता गया और सेक्स की भूक मिटाने के लिए रंडियों से रीलेशन बना लिए. 


पापा का मूड ऑफ हो गया था उस को ठीक करने के लिए मैने कहा मेरे होते हुए आप को किसी रंडी के पास जाने की ज़रूरत नही है. पापा ने कहा सच कह रही हो?मैने हाँ मे सिर हिलाया और पापा ने मुझे अपने से करीब कर लिया. हम होटेल मे आए तो काफ़ी टाइम हो गया था.हम रूम मे आए पापा कपड़े चेंज करने चले गये जब कि मैने ज्वेलरी उतारी और पापा का वेट करने लगी कि वो निकलें तो मैं चेंज करने जाऊ.जब पापा निकले तो लूँगी मे थे.मैं उन के निकलते ही बाथरूम मे चली गई और कपड़े चेंज कर के बाहर आ गई.बाहर आ के मैं पापा के साथ जा कर लेट गई तब ही मेरे जहाँ मे आइडिया आया मैं उठी समान मे से आयिल की बॉटल निकाल के बेड पे आ गई.पापा ने पूछा ये किस लिए लाई हो? मैं ने कहा आप के लंड की मालिश के लिए.इतना काम कर के वो भी थक गया होगा. ये कह कर मैं ने पापा की लूँगी हटा के लंड बाहर निकाला और उस पर आयिल लगा के हल्के हल्के मालिश करने लगी . थोड़ी देर मे पापा का लंड हार्ड हो गया अब उस पर मालिश करने मे आसानी हो रही थी.मैं ने पापा से पूछा कैसा लग रहा है? पापा ने जवाब दिया कि बहुत माज़ आ रहा है और रेलेक्ष फील हो रहा है. मैं थोड़ी तेज़ी से मालिश करने लगी फिर मैं ने पापा की बॉल्स पर आयिल लगाया और सॉफ्ट हाथ से बॉल्स को सहलाना शुरू किया .


पापा मज़े मे मस्त हो रहे थे मुझे भी बॉल्स सहलाने मे मज़ा आ रहा था तकरीबन 20 मिनट पापा के लंड की मालिश की फिर टिश्यू से लंड को साफ किया और लंड की टोपी पर किस कर के पापा के साथ लेट गई.पापा ने मुझे झप्पी डाल ली और कहा जान क्या मूड है?मैने कहा मूड तो है लेकिन कल करेंगे क्यू कि मालिश से जो ताक़त लंड को मिली है चुदाई कर वो कम हो जाएगी.पापा ने मेरी बात मान ली और उठ कर मेरी शलवार नीची की मैं ने पैंटी नही पहनी थी.शलवार नीचे कर के पापा ने मेरी चूत पर किस किया और हम सो गये.


हम गहरी नींद सो रहे थे कि पापा के मोबाइल की बेल बजने लगी. जिस से पापा तो जागे ही थे मेरी भी आँख खुल गई. मैने घड़ी मे टाइम देखा तो 10 बज रहे थे पापा फ़ोन पर बात करने लगे. मैं लेटी उन्हें बात करता देखती रही. थोड़ी देर बाद पापा ने फ़ोन बंद कर दिया और मुझे कहा कपड़े पहनो मैने कपड़े पहने और पूछा किस का फ़ोन था?

पापा:ऑफीस से फ़ोन था.

मैं: सब ठीक तो है.क्या कह रहे थे ऑफीस वाले?

पापा: वो कह रहे थे कि कल ऑफीस मे आ जाएँ ट्रान्स्फर पेपर्स रेडी हैं और जो एंप्लाय पापा की जगह पर आया है उसे कुछ चीज़ो का समझाना है.

मैं: क्या करेंगे आप?

पापा: ऑफीस जाना तो पड़ेगा.किरण आइ एम सॉरी हनीमून यहीं ख़तम करना पड़ेगा.

मैं: इस मे सॉरी की क्या बात है मजबूरी है.वैसे भी इतने थोड़े टाइम मे भी मैं ने बहुत एंजाय किया है.

पापा ने मुझे बाहों मे भर लिया और मेरे होंठो को चूस कर बोले हम शाम को यहाँ से निकल जाएँगे और सुबह सुबह घर पहुँच जाएँगे मैं तैयार हो कर ऑफीस चला जाउन्गा. हम ने नाश्ता किया और थोड़ा बहुत जो कपड़े और मेकअप का समान बाहर पड़ा था वो बेग मे रखा. जब सब हो गया तो मैने कहा पापा एक बात कहूँ अगर बुरा ना मानें.पापा ने कहा कहो.मैने कहा अगर आप की इजाज़त हो तो मैं कुछ शॉपिंग मोम के लिए कर लूँ? 

पापा ने कोई जवाब नही दिया. मैने उन को समझाया कि आप उन से इस लिए नाराज़ हैं ना कि उन्होने अंकल से रीलेशन बनाया लेकिन ये भी तो सोचें उन्होने आप का रीलेशन मेरे साथ भी तो बनवाया है. अपनी जगह मुझे दे दी.वो हमारे राज़ को जानती हैं अगर हम उन का राज़ लोगो को बता दें तो उन की कम बदनामी हो गी लेकिन अगर उन्होने किसी को हमारे रीलेशन के बारे मे बता दिया तो बहुत बुरा होगा हमे उन से रिश्ता खराब नही करना चाहिए. पापा कुछ देर सोचते रहे फिर बोले ठीक है. मैने पापा से पूछा कॉन सा ड्रेस पहनूं पापा ने मेरे लिए लाइट पर्पल कलर का सूट चूज़ किया जिस की कमीज़ बहुत छोटी और टाइट थी,कमीज़ का गला बहुत खुला था. मैं जल्दी से तैयार हुई.पापा भी तैयार हुए जब हम होटेल से निकले मैं पापा के आगे थी जब पापा थोड़ी देर तक मेरे साथ नही हुए तो मैने पीछे मूड कर देखा तो पापा वहीं खड़े मुझे देख रहे थे. मैं पापा के पास आई और कहा क्या हुआ आप यहाँ क्यूँ रुक गये हैं .पापा ने मेरे चुतड़ों पर हाथ फेर कर कहा तुम्हारे चूतड़ इस ड्रेस मे कुछ ज़्यादा ही मटकते फील हो रहे हैं मैं तुम्हारे हसीन चुतड़ों को मटकते देख रहा था. मैने झेन्पते हुए कहा पापा आप भी ना.हम साथ निकल पड़े सारा टाइम पापा मेरे पीछे ही रहे.मैं जानती थी उन की नज़र मेरे चुतड़ों पर है. जहाँ रश मे मोका मिलता पापा मेरी गान्ड से अपना लंड टच कर देते. मुझे भी गान्ड लंड की इस आँख मिचोली मे मज़ा आने लगा. 



मैने मोम के लिए 2 सेक्सी से सूट लिए. फिर पापा से पूछा मोम के बूब्स का साइज़ क्या है. पापा ने कहा तुम क्यूँ पूछ रही हो? 

पापा आप भी ना... मोम के लिए ब्रा लेनी है उस के लिए पूछा है. पापा ने बताया 36डी. मैने वाइट कलर की एक ट्रांसपेरेंट लो कट ब्रा ली और मॅच की पैंटी ली और हम शॉप से निकल आए. हम ने टाइम देखा तो 2 बज रहे थे हम ने खाना खाया और होटेल वापिस आ गये रूम मे आ कर मैने शॉपिंग का समान भी बॅग मे रखा.इतनी देर मे पापा कपड़े चेंज कर के लूँगी पहन कर बाहर आ गये. पापा ने मुझे पीछे से ही पकड़ लिया और मेरे बूब्स दबाने लगे. पापा ने अपने होंठ मेरे पीछे से मेरी नेक पर रख दीए और किस करने लगे. मज़े से मेरा जिस्म कांप गया. मेरी कमीज़ और शलवार पसीने से भीगी हुई थी और मेरी ब्रा साफ नज़र आ रही थी.पापा मेरी कमीज़ से मेरे पसीने को सूंघते करते जा रहे थे साथ साथ. पापा ने मेरी इयर लॉब को दाँतों से दबा कर कान मे कहा जान तुम्हारे जिस्म की स्मेल भी तुम्हारी तरह मस्त है. 
Reply
05-23-2019, 12:21 PM,
#14
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
पापा आप भी ना... मोम के लिए ब्रा लेनी है उस के लिए पूछा है. पापा ने बताया 36डी. मैने वाइट कलर की एक ट्रांसपेरेंट लो कट ब्रा ली और मॅच की पैंटी ली और हम शॉप से निकल आए. हम ने टाइम देखा तो 2 बज रहे थे हम ने खाना खाया और होटेल वापिस आ गये रूम मे आ कर मैने शॉपिंग का समान भी बॅग मे रखा.इतनी देर मे पापा कपड़े चेंज कर के लूँगी पहन कर बाहर आ गये. पापा ने मुझे पीछे से ही पकड़ लिया और मेरे बूब्स दबाने लगे. पापा ने अपने होंठ मेरे पीछे से मेरी नेक पर रख दीए और किस करने लगे. मज़े से मेरा जिस्म कांप गया. मेरी कमीज़ और शलवार पसीने से भीगी हुई थी और मेरी ब्रा साफ नज़र आ रही थी.पापा मेरी कमीज़ से मेरे पसीने को सूंघते करते जा रहे थे साथ साथ. पापा ने मेरी इयर लॉब को दाँतों से दबा कर कान मे कहा जान तुम्हारे जिस्म की स्मेल भी तुम्हारी तरह मस्त है. 

अब आगे..........................


काफ़ी देर पापा मेरी नेक और एअर को किस करते रहे फिर वो नीचे बैठ गये और अपनी नोज को मेरी गान्ड से लगा दिया और पसीने से गीली शलवार मे से गान्ड की स्मेल को सूँघा और कहा जान तुम्हारी गान्ड जितनी मस्त है उतनी ही इस की महक भी मस्त है. मैं भी हॉट हो चुकी थी. पापा थोड़ी देर गान्ड सूंघ कर उठे और मेरी कमीज़ और ब्रा उतार कर बेड पे फेंकी और पीछे से मेरे दोनो बूब्स को कस के पकड़ा और और मेरी नेक को और कमर को चाटने लगे. मज़े से मेरे मूँह से आह ओह्ह की आवाज़ें निकल रही थी. 



कुछ देर क बाद पापा ने मुझे सीधा किया और मेरे बूब्स को चाटने और चूसने लगे.मेरे निपल हार्ड हो कर खड़े हो गये थे जिन्ही पापा दाँतों से जब काटते तो मेरी आह निकल जाती थोड़ी देर ये सिलसिला चला फिर पापा ने मेरे कान मे कहा जान आज मैं सितार नही ढोल बजाने के मूड मे हूँ.

मैने कहा क्या मतलब?

पापा ने कहा सितार छूट और ढोल गान्ड. मैं फॉरन पापा से अलग हो गई और कहा ना बाबा ना गान्ड मरवाने मे तो बहुत पेन होगा .पापा ने कहा कि मुझे पर ऐतबार करो मैं बहुत आराम से करूँगा और तुम्हें भी बहुत मज़ा आए गा. मैने इनकार किया तो पापा बोले अच्छा मैं सिर्फ़ तुम्हारी गान्ड चाटुन्गा और फिंगर करूँगा .मैं मान गई तो पापा नीचे झुके और मेरी शलवार उतार दी मैं सिर्फ़ पैंटी मे थी.पापा ने मेरी पैंटी भी उतारी और मुझे सोफे के सहारे से झुकने को कहा जब मैं झुकी तो मेरी गान्ड का होल उभर के पापा के सामने आ गया .पापा ने गान्ड के होल पर अपनी ज़ुबान फेरी फिर होल के बाहर ज़ुबान से चाटने लगे.


मैने शरारत से पूछा कैसा लगा आप को मेरी गान्ड का टेस्ट? 

पापा बोले तुम्हारी तरह मस्त है. कुछ देर ऊपर से चाटने के बाद पापा ने मेरे होल को थोड़ा सा फेलाया और ज़ुबान की टिप अंदर डाल दी. मज़े से मैं पागल हो रही थी और मेरी पानी निकल गया था. पापा रुके और बेग मे से क्रीम निकाली और मेरी गान्ड के होल पर लगाई और अपनी एक फिंगर अंदर डाल दी.मुझे पेन होने लगा.मैने कहा पापा पेन हो रहा है. पापा ने कहा बर्दाश्त करो जान. पापा ज़ोर ज़ोर से फिंगर करते रहे जिस से गान्ड का होल थोड़ा खुल गया और फिंगर आसानी से अंदर बाहर होने लगी. अब मुझे भी फिंगर मे मज़ा आ रहा था. पापा खड़े हुए और क्रीम अपने लंड पी लगाई और लंड की टोपी गान्ड के होल पर रख दी. 

मैने कहा पापा आप ने तो कहा था कि आप सिर्फ़ गान्ड चाटेन्गे और फिंगर करेंगे लेकिन आप ने लंड को क्यूँ रखा यहाँ पर.

पापा ने कहा सिर्फ़ तुम्हारी गान्ड के होल के साथ लंड रगड़ रहा हूँ. मैं रिलेक्स हो गई. पापा थोड़ी देर लंड को गान्ड के होल पर रगड़ते रहे फिर अचानक धक्का लगाया लेकिन गान्ड के होल के टाइट होने की वजह से लंड फिसल गया और अंदर नही गया.इस से पहले कि मैं संभालती और सीधी होती पापा ने मेरे दोनो बूब्स कस के पकड़े और मुझे काबू कर लिया.इतनी ज़ोर से बूब्स दबाने पर मेरे मूँह से आह निकल गई. मैने कहा पापा प्लीज़ गान्ड मे ना डालें लेकिन पापा ने मेरी एक ना सुनी और कहा बहुत मटकती है ना तेरी गान्ड अब इस का मज़ा मैं ले के रहूँगा और ये कह कर पापा ने लंड सेट कर कर ज़ोर का धक्का लगाया .लंड की टोपी मेरी गान्ड के अंदर घुस गई. पेन की वजह से मेरी चीख निकल गई. पापा वहाँ रुक गये और मेरे निपल पकड़ के मसल्ने लगे मेरा पेन से बुरा हाल था.मैने कहा पापा लंड को निकाल लो.पापा बोले बस जान काम हो गया है थोड़ा पेन बर्दाश्त कर लो. पापा मेरे बूब्स मसल्ते रहे


उन का लंड मेरी गान्ड मे फँसा हुआ था.थोड़ी देर वेट कर के पापा ने आहिस्ता आहिस्ता लंड को अंदर डालना शुरू किया. मुझे फिर पेन होने लगा. लेकिन पापा नही रुके और हाफ लंड से चोदने लगे. 10 मिनट तक वो ऐसे ही चोदते रहे.मेरी गान्ड का होल थोड़ा खुल गया था और मेरा पेन कुछ कम हुआ था. पापा ने मुझे थोड़ा रेलेक्स देखा तो स्लो स्लो पूरा लंड अंदर डाल दिया.पेन से मेरा बुरा हाल था. पापा इस बार नही रुके और ज़ोर ज़ोर से लंड पेलने लगे. जब पापा का लंड जड़ तक अंदर आता तो पापा की बॉडी मेरे चुतड़ों से टकराती और लंड के अंदर बाहर होने से गान्ड मे से पच पच की आवाज़ आने लगी. तकरीबन 20 मिनट तक गान्ड चुदवा कर मेरा पेन काफ़ी हद तक कम हो चुका था और मुझे मज़ा आने लगा था. मैं भी गान्ड को पीछे कर कर के लंड को अंदर लेने लगी.मैं बहुत मस्त हो गई थी और मेरी चूत ने फिर से पानी छोड़ दिया. 

पापा ने मेरे बूब्स छोड़ कर मेरी कमर पकड़ी और पूरी ताक़त से धक्के लगाने लगे. 10 मिनट तकरीबन ये सिलसिला और चला और पापा का पानी मेरी गान्ड मे निकल गया.मुझे गान्ड मे गरम गरम फील हो रहा था जब पापा का सारा पानी निकल गया तो पापा ने लंड बाहर निकाला. मैं तो सोफे पर गिर गई. थोड़ी देर के बाद पापा ने मुझे उठ के बाथ रूम मे चलने का कहा. मैं उठी तो लड़खड़ा गई. मुझ से चला नही जा रहा था पापा मुझे उठा के बाथरूम ले गये वहाँ मुझे और अपने लंड को साफ किया और मुझे बेड पर लिटा दिया. थोड़ी देर मैं लेती रही फिर उठ कर बैठ गई पापा नंगे ही सोफे पे बैठे थे उन का लंड मुरझा गया था लेकिन मुरझाया हुआ भी बहुत बड़ा था.मैने साइड मे रखी ड्रेसिंग टेबल के मिरर मे देखा तो पता चला कि पापा के मसलने और दबाने से मेरे दोनो बूब्स रेड हो रहे थे. कुछ देर के बाद जब मैं थोड़ी रेलेक्ष हुई तो उठी और कपड़े पहने.पापा मेरे पास आए और झप्पी डाल कर कहा अब तुम कंप्लीट औरत बन गई हो कैसा लगा तुम्हें? 


मैने कहा आप मुझ से बात ना करें आप ने चीटिंग की है.इस पर पापा ने मुझे समझाया कि किरण एक अच्छी मॅरीड लाइफ के लिए हज़्बेंड और वाइफ को सब जगह के मज़े का पता होना चाहिए . पहली बार गान्ड चुड़वाई है इस लिए पेन होने की वजह से पूरा मज़ा नही मिला होगा तुम्हें चूत की तरह नेक्स्ट टाइम पेन नही होगा और तुम्हें मज़ा भी पूरा मिलेगा. पापा ने मुझे झप्पी डाल के किस किया मैने भी उन को अपनी तरफ खेंच लिया और किस किया.

पापा ने घड़ी पर टाइम देखा तो काफ़ी टाइम हो गया था पापा ने कहा किरण हमे अब स्टेशन चलना चाहिए. पापा ने समान लिया और हम रिसेप्षन पर आए.पापा ने होटेल का बिल पे किया.हम टेक्शी मे बैठ क स्टेशन आ गये. पापा ने टिकेट्स लिए.थोड़ी देर मे ट्रेन आ गई और हम उस मे बैठ गये. ट्रेन मे और लोगो के होने की वजह से सारे रास्ते कोई मस्ती नही हुई सुबह 6 बजे हम अपने सिटी पहुँच गये. स्टेशन से घर पहुँचे.

घर पहुँच कर बेल बजाई. थोड़ी देर के बाद मोम ने डोर ओपन किया. हम अंदर आए पापा ने मोम से पूछा रियाज़ कहाँ है?

मोम ने कहा कि वो तो कल शाम मे ही चले गये थे उन की हॉलिडेज़ ख़तम हो गयी थी.पापा ने मुझे कहा कि तुम अपने रूम मे जा कर आराम करो और खुद मोम के साथ उन के रूम मे चले गये.मैं अपने रूम मे आ कर सो गई क्यूँ कि थकान बहुत थी. सुबह 10 बजे मोम ने मुझे जगाया नाश्ते के लिए . मैं जल्दी से उठी और नाश्ता करने के लिए नीचे आई. नाश्ता करने के बाद मोम और मैं बैठ के बातें करने लगे.मोम ने मुझे कहा तुम्हारे पापा तुम से बहुत खुश हैं क्या तुम भी उन से...
Reply
05-23-2019, 12:21 PM,
#15
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
मैं ब्लश हो गई पर चुप रही.मोम ने मुझे समझाया अब हम दोनो का हज़्बेंड एक ही है और तुम भी सेक्स का मज़ा ले चुकी हो क्यूँ ना हम दोस्त की तरह रहें और एक दूसरे से अपनी बातें शेर कर लें. मैने कहा बात तो आप की ठीक ही है. मैं बहुत खुश हूँ पापा से.मोम ने कहा ज़रा मुझे भी तो दिखाओ कि क्या क्या मेहनत करवाई है इन दिनो मे. मैने कहा क्या मतलब. 

मोम आँख मारते हुए कहा तुम अपने बूब्स,चूत और गान्ड दिखाओ.इस से पहले कि मैं कुछ कहती मोम बोल पड़ी हम आज से दोस्त भी हैं मैं ये सब एक दोस्त की हसियत से कह रही हूँ अगर तुम नही दिखाना चाहती तो कोई बात नही लेकिन मैं ये समझूंगी कि तुम ने मुझे दोस्त नही बनाया. 

मैने कहा क्या आप भी मुझे अपना जिस्म देखाएँगी ?

मोम ने कहा क्यूँ नही. मेरे दिल मे मोम को नंगा देखने की ख्वाइश थी.मैने कहा यहाँ ठीक नही है रूम मे चलते हैं. हम मोम के रूम मे आए.मोम बोली अब नखरे ना करो. मैने अपनी कमीज़ उतार दी फिर ब्रा भी. मेरे बूब्स,नेक पर चूसने और काटने से निशान पड़े थे मोम उन को गौर से देखने लगी फिर बोली नीचे की क्या हालत है?

मैने शलवार और पैंटी उतार दी मोम ने करीब आ कर मेरी लेग्स को थोड़ा खोल के चूत देखी फिर पीछे कर के मुझे झुकाया और मेरी गान्ड का होल देख कर बोलीं किरण तुम तो छुपी रुस्तम निकली मेरी सोच से बढ़ कर तुम ने प्रोग्रेस दी है चूत तो चूत गान्ड के होल की हल्की हल्की सूजन बता रही है कि तुम ने गान्ड भी मरवा ली है इतनी जल्दी. फिर वो बोली तुम देखने मे ही छोटी हो पर काम बड़े किए हैं तभी तो तुम्हारे पापा तुम से खुश हैं.मैं ब्लश हो गई. मैने कहा अब आप दिखाओ .


मोम ने कमीज़ उतारी उन के बड़े बड़े बूब्स ब्रा से बाहर निकलने को थे. मोम ने अपनी ब्रा उतारी तो उन के बूब्स उछल कर ब्रा से बाहर आ गये. बूब्स पर मेरी तरह ही निशान थे.मैने कहा नीचे भी दिखाओ. मोम ने शलवार उतार दी उन्होने पैंटी नही पहनी थी.मोम की चूत बहुत फूली हुई थी उस के लिप्स भी मोटे और क्लिट भी उभरी हुई थी. मैने कहा मेहनत तो आप पी भी लगता है बहुत हुई है.

मोम ने आँख मार के कहा इस तरह तो होता है इस तरह के कामो मे. मैने कहा आप की चूत के लिप्स और क्लिट इतने मोटे क्यूँ हैं मेरे तो नही हैं. इस पर उन्होने कहा तुम्हारी चूत कम चुदि है इस लिए जब ये भी काफ़ी बार चुदेगी तो मेरी चूत जैसा हाल हो जाएगा.मोम ने चस्का लेते हुए बताया तुम से भी छोटी थी तब से चुदवा रही हूँ जब ही तो चूत का फुद्दा बन गया है. मैने बातों बातों मे पूछा की अंकल क्या आप को दिन रात करते थे.मोम ने कहा नही वो सुबह आते थे और शाम को चले जाते थे रात नही रुक सकते थे कही उन की वाइफ को शक ना हो जाए.घर वो कह कर जाते थे कि वो काम पर जा रहे हैं लेकिन वो मेरे पास आ जाते थे. काम से उन्होने छुट्टी ले रखी थी. फिर मोम ने कहा आज का दिन आराम करो तुम्हारा हनीमून भी हो गया कल से तुम ने पहले की तरह काम करना है.मैने यस कहा फिर अपने रूम मे आ गई और रेस्ट करने लगी.थोड़ी देर के बाद मुझे याद आया उस शॉपिंग के बारे मे जो मैने मोम के लिए की थी मैने सोचा कि वो ड्रेस मोम को दे आती हूँ.मैने बॅग से ड्रेस निकाले और मोम के रूम मे आई


मोम लेटी हुई थी मुझे देख कर उठ गईं और मेरे हाथ मे पॅकेट देख कर पूछा ये क्या है? मैं उन के बेड पर बैठ गई और पॅकेट उन को दे कर कहा ये मैने आप के लिए लिए थे.मोम ने पॅकेट खोला ड्रेसस देखी. फिर बोलीं ड्रेसस बहुत प्यारी हैं लेकिन इस एज मे इतने सेक्सी ड्रेस?

मेरे ज़हन मे अब एक आइडिया था. मैं वो हर्बा यूज़ करने जा रही थी जो मोम ने मुझ पर यूज़ किया था यानी पहले मोम ने मुझे फँसाया था और मेरी ट्रैनिंग कर के मुझे चुदवाया था.मैं चाहती थी कि मैं मोम को फँसाऊ. मैने फॉरन कहा अब इतनी ओल्ड भी नही हैं आप जितना आप ने अपने आप को बना लिया है. आप ने पापा पर गौर क्या है वो अपनी फिटनेस का कितना ख़याल रखते हैं जब ही तो 40 के हो के भी 40 के नही लगते और सेक्स मे भी स्ट्रॉंग हैं. मैने सोच लिया था कि जब मोम ने मुझे इस चुदाई के काम पर लगा दिया है और खुद भी बेशर्मी से दूसरी लोगो से चुदवाति हैं तो मैं मोम के सामने बेशरम हो गई थी क्यू कि जो सिलसिला शुरू हो चुका था उस के बाद शर्म का कोई काम नही था. मोम ने कहा मैं समझी नही. मैने कहा सो सिंपल आप भी किसी से कम नही हैं बस आप को थोड़ी केर की ज़रूरत है.आप सिर्फ़ 35 की हैं लेकिन केर ना करने की वजह से पापा से भी बड़ी लगती हैं. आप का फिगर भी खूबसूरत है आप को ज़रूरत है अपने आप को मेनटेन करने की.

मों ने कहा तुम्हारे पापा नाराज़ ना हो जाएँ .मैं तो चान्स की तलाश मे थी मैने कहा मोम पापा को मैं संभाल लूँगी.आप भी कमाल करती हैं जब आप पापा के सामने दूसरे लोगो से चुदवा सकती हैं और उस मे आप को डर नही लगता तो इस मे क्यूँ डरती हैं? ये बात सुन कर मोम का मूड कुछ चेंज होने लगा तो मैने बात को बनाते हुए फॉरन कहा आप खूबसूरत लगेंगी तो ज़्यादा मज़ा करेंगी.मैने आँख मार के उन से कहा कि आप ही से तो सीखा है और आप खुद भूल गई फिर मैने ड्रामा करते हुए कहा आप मेरी सौतेली मोम ज़रूर हैं लेकिन मैने आप को अपनी मोम ही समझा है. फिर मैने कहा आप रेस्ट करो मैं अपने रूम मे चलती हूँ. 

मैं रूम मे आ कर मॅगज़ीन पढ़ने लगी ताकि टाइम पास हो. थोड़ी देर ही गुज़री थी कि मोम आ गईं उन को देख कर मैने मॅगज़ीन बंद कर दिया और बनावटी प्यार से पूछा कोई काम था आप को?

मोम ने मेरा हाथ पकड़ कर मुझे अपने साथ बैठा लिया और थोड़ी देर चुप रहने के बाद बोलीं. किरण मैं तुम्हारा थॅंक्स कहने आई हूँ.मैने बनते हुए कहा किस बात का थॅंक्स. मोम ने कहा किरण मैने तुम्हें हमेश तंग किया है और ग़लत समझा है. लाइफ मे तुम्हारे पापा और किसी ने मेरी तारीफ नही की . बस अपनी सेक्स की भूक पूरी की. मेरे भी जज़्बात थे. मैने तुम्हारे पापा की केर इस लिए नही की कि मैं अपने अफेर्स मे मगन थी. थोड़ा रुक कर वो बोली कि तुम ने मुझे समझा और तारीफ की मुझे बहुत अच्छा लगा इस लिए मैं थॅंक्स कहने आई हूँ.
Reply
05-23-2019, 12:22 PM,
#16
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
मुझे अपना प्लान कामयाब होता नज़र आ रहा था मैने बनावट के साथ कहा मॉम आप भी कमाल करती हैं हम दोस्त भी हैं और दोस्ती मे थॅंक्स नही होता. मोम ने मुझे ज़ोर से झप्पी दलाल ली उन के बड़े बड़े बूब्स मेरे बूब्स के साथ मिले हुए थे.



जैसे ही मेरे बूब्स से उन क बूब्स मिली मुझे स्कूल का टाइम याद आ गया जब मैं और मेरी सहेलियाँ कभी कभी शरारत मे एक दूसरे के बूब्स पकड़ लेती थी और कभी स्कूल के टाय्लेट मे जा कर एक दूसरे के बूब्स नापति थीं कि किस के बूब्स बड़े हैं . मैं उन ख़यालो से बाहर उस वक्त आई जब मॉम ने मुझे छोड़ा और हिला कर पूछा कहाँ खोई हुई हो. मैने फॉरन कहा कुछ नही मैं रात के खाने की तैयारी करती हूँ.ये कह के मैं किचिन मे आ गई और खाना बनाया. पापा घर आए मैने खाना लगाया. खाने के दोरान पापा ने बताया ऑफीस ने उन का ट्रान्स्फर क्लियर कर दिया है 1 वीक के बाद जाय्न करना है. पापा बोले काम बहुत है घर का समान पॅक करना है फिर जहाँ ट्रान्स्फर हुआ है उस जगह रेंट पे होम तलाश करना है.खाना खा के पापा ने अपने एक दोस्त को फ़ोन किया जिस का कोई रिलेटिव उस सिटी मे रहता था जिस मे पापा का ट्रान्स्फर हुआ था उस ने कहा कि वो अपने रिलेटिव से पता कर के थोड़ी देर मे बताएगा.





मैने पापा से पूछा टी बना लाऊ आप के लिए? इस से पहले कि पापा जवाब देते मोम बोल पड़ी किरण तुम्हारे पापा को टी की नही इस टाइम दूध की ज़रूरत है. मेरी नज़रें पापा की नज़रो से मिली तो पापा ने आँखो से मेरे बूब्स की तरफ इशारा किया मैने शरारत मे सिर हिला के इशारे से नही कहा और किचिन मे दूध गरम करने आ गई .किचिन मे आ कर मैने दूध हल्का सा गरम किया और ग्लास मे डाल कर पापा के लिए ले आई. मैने पापा को दूध दिया पापा ने ग्लास मे कुछ दूध बचा कर मुझे अपने पास बुलाया जब मैं उन के पास गई तो मुझे अपनी गोद मे बैठा लिया और मुझे वो दूध पीने को कहा मैने कहा आप पी लें.पापा ने मेरे कान मे कहा जल्दी से पी लो क्यूँ कि बाद मे तुम्हारा दूध पीना है. मोम की वजह से मैं चुप रही और दूध पी लिया. पापा के मोबाइल पर कॉल आ रही थी पापा ने कॉल अटेंड की और बात करने लगे जब कि मैने ग्लास उठाया और किचिन मे चली गई. वापिस आई तो पापा मोम को बता रहे थे कि उन के दोस्त का फ़ोन था वो कह रहा था कि उस ने अपने रिलेटिव से बात की है उस की नज़र मे एक मकान है पापा जा कर वो देख लें पसंद आ जाए तो रेंट अड्वान्स दे कर घर की चाभी ले लें. पापा ने कहा वो कल ही वहाँ घर देखने जाएँगे क्यूँ कि टाइम बहुत कम है.





पापा मेरे साथ मेरे रूम मे आए और मुझे बाहों मे भर लिया मैने भी उन्हे कस के पकड़ लिया.हम एक दूसरे के लिप्स को किस करने लगे.पापा के हाथ मेरी बॅक को सहला रहा था कुछ देर किस्सिंग करने के बाद मैने पापा की शलवार का नाडा खोल दिया उन की शलवार नीचे गिर गई. पापा के लंड को हाथ मे ले लिया और सहलाने लगी पापा ने मस्ती मे मेरा एक बूब दबा कर कहा जान इसे चूसो ये तुम्हारे होंठो के लिए बेताब हो रहा है. मैनीचे बैठ गई और लंड की कॅप को ज़ुबान से चाटना शुरू किया बीच बीच मे मैं लंड के पी होल पर भी ज़ुबान फेर देती जिस से पापा मज़े से सिहर उठे. थोड़ी देर मैं लंड चूसती रही फिर पापा ने मुझे रुकने का इशारा किया मैं रुक गई.



पापा ने अपनी कमीज़ और बनियान उतारी फिर मेरी कमीज़ और ब्रा उतार कर मुझे टॉपलेस कर दिया.और मेरे बूब्स पर हमला कर दिया. पापा के मुँह लगाते ही मेरे निपल हार्ड हो गये जिन्हें वो मज़े से चूसने लगे और दाँतों से काटने लगे. 10 मिनट बूब्स की टाइट चुसाइ करने के बाद पापा ने मेरी शलवार उतार दी मैने पैंटी नही पहनी थी.पापा ने मुझे बेड पे लिटाया और मेरी चूत पी हाथ फिराने लगे.मैं बहुत हॉट हो रही थी मैने कहा पापा इस को चूसो .



पापा ने जैसे ही अपने गरम होंठ चूत के लिप्स पर रखे मैने पापा का सिर पकड़ कर चूत पे दबा दिया. पापा समझ गये कि मैं क्या चाह रही हूँ. पापा ज़ोर ज़ोर से चूत चाटने लगे वो जब मेरी क्लिट को मुँह मे ले के चुसते तो मैं मज़े से पागल हो जाती पापा काफ़ी देर चूत चाटते रहे इस दोरान मे फारिघ् हो गई लेकिन पापा ने चूत से मुँह नही हटाया बल्कि सारा पानी चाट लिया. पापा चुदाई के लिए रेडी थे वो मेरे ऊपर आ गये लंड को चूत का रास्ता दिखा के धक्का मारा और आधा लंड अंदर डाल दिया.मज़े से मेरी आह निकल गई. पापा काफ़ी देर आधा लंड अंदर किए चोदते रहे.मैने अपनी लेग्स उन की बॅक पर लपेट लीं और अपने आर्म्स से उन को कस के पकड़ लिया. पापा ने चूत के गीले होने का फ़ायदा उठाया और धक्का मार के पूरा लंड अंदर डाल के चोदना शुरू कर दिया. मज़े से पागल होते हुए मैने अपने नेल्स उन की कमर मे गढ़ा दीए. काफ़ी देर ये सिलसिला चलता रहा मैं भी चूतड़ उठा के उन का साथ दे रही थी.





थोड़ी देर बाद पापा के धक्कों मे तेज़ी आ गई और उन का पानी मेरी चूत मे गिरने लगा.पापा मेरे ऊपर ही लेट गये और मुझे किस करने लगे. तब मैने पापा से कहा मोम ने जो प्लान बना के हमे फँसाया है उस को आप जानते हैं कि उस प्लान से उन्होने आप को और मुझे बाउंड कर दिया है. आप उन को रोक नही सकते चाहे वो किसी से भी चुदवाये .मैं जानती हूँ कि आप को मोम के ये रिलेशन्स अच्छे नही लग रहे इसी लिए मैने उन के लिए प्लान बनाया है आप वादा करें कि उन को नही बताएँगे और जैसा मैं कहूँ करते जाएँगे .




पापा ने कहा तुम ठीक कहती हो वो हमारे सेक्स के राज़ को जानती है और ब्लॅकमेल करती रहेगी.मैने कहा उन से जान छुड़ाने का तरीका ये है हम पहले किसी और शहर मे जाएँगे फिर मोम को सिटी मे ले जाएगे फिर वहाँ से आप मोम को तलाक़ देने के बाद हम बिना किसी को बताए 1 मंत के अंदर ही किसी ऑर सिटी मे चले जाएगे वहाँ हम दोनो पति पत्नी की तरह रह पाएगे ऑर वहाँ मैं आप के बच्चे को जनम भी दूँगी. उन से झूठे प्यार का ड्रामा किया जाए .आप कुछ दिन उन के साथ अधूरा सेक्स करेंगे यानी जब वो फारिघ् होने लगें तो सेक्स रोक देना इस तरह मोम रिलेक्स नही हो पाएँगी .उन की इस हालत का फ़ायदा मैं उठाउंगी और फिर हफ्ते मे 1 बार आप उन को चोद दिया करना. मैं घर मे ही आप के साथ मिल के ऐसा सेक्सी महॉल बना दूँगी कि मोम को बाहर मुँह मारने की ज़रूरत नही पड़े गी. पापा के फेस पर ये सुन कर मुस्कराहट आ गई.वो बोले अब क्या करना है?
Reply
05-23-2019, 12:22 PM,
#17
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
मैने कहा अभी आप मोम के रूम मे जाएँ और और बातों बातों मे उन को ये बताएँ कि आप नही आ रहे थे मैने आप को मोम के लिए भेजा है ता कि उन को यकीन होता रहे कि मैं उन के लिए बुरा नही सोचती.पापा ने हाँ मे सिर हालाया और थोड़ी देर चूमा चाटी कर के चले गये.टाइम काफ़ी हो गया था इस लिए मैं भी सो गई. सुबह मैं जल्दी उठ गई क्यूँ कि पापा को मकान देखने आज दूसरे सिटी जाना था इस लिए मैने नाश्ता बनाया.पापा और मों अभी अपने रूम मे ही थे मैने सोचा उन को नाश्ते के लिए उठा दो.मैने उन के रूम का दरवाज़ा नौक क्या थोड़ी देर के बाद मोम ने डोर ओपन किया वो ऊपर से सिर्फ़ ब्रा मे थी. पापा सो रहे थे मैने मोम से कहा आप लोग जल्दी से नाश्ते की टेबल पर आ जाएँ नाश्ता ठंड हो रहा है. 


मैं नाश्ते की टेबल पर आ गई थोड़ी देर बाद मोम और पापा भी आ गये और हम नाश्ता करने लगे.नाश्ते के दोरान मैने देखा कि मोम कुछ बेचैन सी हैं उन की आँखे लाल हो रही थी. नाश्ते से फ्री हो के पापा ने मोम और मुझे कहा कि वो मकान देखने जा रहे हैं तुम लोग अपना समान पॅक कर लो.फिर पापा तैयार हो के चले गये मोम बोली किरण पहले तुम्हारे समान की पॅकिंग करते हैं हम दोनो मेरे रूम मे आ गये और पॅकिंग करने लगे. मैं कपबोर्ड से कपड़े निकाल के मोम को देने लगी मोम उन्हें बॅग मे रखने लगी. अचानक मोम ने मुझे बुलाया और मुस्कुराते हुए मुझे एक ब्रा दिखाई जिस पर वाइट कलर का निशान था.उस को देख कर मुझे याद आ गया होटेल मे पापा ने जब मेरी बूब्स फक्किंग की थी तो इस ब्रा से अपना पानी साफ कर दिया था और मैं भूल गई कि ब्रा को वॉश करना है. मोम ने मुझे मुझे ख़यालो मे डूबा देखा तो मेरे सामने ब्रा को लहरा के कहा ये क्या है?


मैने अपने आप को संभाला और कहा वो होटेल मे मैं कुछ ज़्यादा ही गीली हो रही थी जल्दी मे ब्रा से सॉफ कर ली थी. मोम ने हंस के कहा इस ब्रा को ऐसे ही रख लो यादगार रहेगी. मेरी पॅकिंग ख़तम होने के बाद मोम और मैने खाना बनाया और तय किया कि खाना खा के मोम की पॅकिंग करेंगे .खाना खाने के बाद हम मोम के रूम में आ गए. हम पॅकिंग करने लगे मैं जानना चाहती थी कि कल रात मोम और पापा के दरमिया क्या क्या हुआ ये पता करने के लिए मैने बातों बातों मे मोम से पूछा कल रात तो पापा से बहुत काम करवाया आप ने जब ही तो कमीज़ पहनने का टाइम भी नही मिला आप को. मोम ने उदासी से कहा किरण काम पापा ने कल थोड़ी किया था मुझ से ही करवाते रहे थे. मेरे अंदर की आग भड़का के खुद सो गये और मैं बेचैन होती रही. 


मैने अंजान बन के पूछा क्यूँ क्या पापा ने आप को प्यार नही किया? मोम बोलीं तुम्हारे पापा ने अपना तो चुस्वा लिया लेकिन जब मेरा टाइम आया तो वो ये कह कर सो गये कि नींद आ रही है.मैं सारा टाइम तड़पती रही और फिंगर करती रही. मैने मोम से हमदर्दी का ड्रामा करते हुए कहा काश मैं लड़का होती तो मैं आप को खुश कर देती. वैसे एक बात है मोम आप के बूब्स इतने प्यारे हैं कि मुझे इन से जलन हो रही है. मोम ने हैरान होते हुए कहा मज़ाक ना करो. मैने मोम के बूब्स को देखते हुए कहा मैं मज़ाक नही कर रही ये रियल मे बहुत प्यारी हैं. मेरा ड्रामा कामयाब हो रहा था मोम अपनी तारीफ सुन कर खुश हो गई और मुझे गले लगा के कहा किरण तुम बहुत अच्छी हो. मैने मोके का फ़ायदा उठा के मोम की कमर पर हाथ फेर दिया और कहा आप भी बहुत अच्छी हैं हम दोस्त हैं आप को मेरी कभी भी ज़रूरत पड़े तो मुझे ज़रूर याद कर लेना मुझे अच्छा लगेगा.


फिर हम लोगो ने पॅकिंग कंप्लीट की टाइम भी काफ़ी हो गया था हम ने दोपहर का बचा हुआ खाना खाया. उस के बाद मोम ने कहा काफ़ी थक गये हैं हम लोग बाथ ले के फ्रेश हो जाती हैं. मोम अपने बाथरूम और मैं अपने बाथरूम मे घुस गई. मोम को सिड्यूस करने के लिए मैने पिंक कलर की टीशर्ट और जीन्स निकाली जो मैने हनीमून मे ली थी. जब मैं नहा के बाहर आई तो टीशर्ट मे मेरे गोल गोल बूब्स संतरों की तरह फील हो रहे थे. मोम बाथरूम मे ही थी मुझे शरारत सूझी मैने आवाज़ दे के मोम से कहा इतनी देर लगा दी क्या कुछ खास काम कर रही हैं? थोड़ी देर मे मोम बाथरूम से निकल आई जिस्म गीला होने की वजह से उन की कमीज़ उन के जिस्म से चिपकी हुई थी और उन की ब्रा साफ नज़र आ रही थी उन के बड़े बड़े बूब्स जब वो चलती तो इधर उधर झूम रहे थे. 


मैने फील किया कि मोम की नज़र मेरे जिस्म पर ही है उन्होने कह ही दिया इस ड्रेस मे तुम बहुत प्यारी लग रही हो . मैने ड्रामा करते हुए कहा आप मज़ाक कर रही हैं तब मोम बोली ये मज़ाक नही है तुम इतनी प्यारी लग रही हो कि कोई भी पागल हो जाए.फिर वो आँख मार के बोली अगर तुम मेरी बेटी ना होती तो मैं तुम्हें नही छोड़ती.

मैं लेज़्बीयन सेक्स के बारे मे जानती थी स्कूल मे हम सहेलियाँ एक दूसरे से किस्सिंग, बूब्स दबाना और जब चान्स मिल जाता तो एक दूसरे को नंगा भी देखती थी. मुझे याद आ गया कि स्कूल मे होने वाली पार्टी मे हम सहेलियाँ जब तैयार हुई थी तब एक साथ सारी कपड़े उतार के मस्ती की थी अब लाइफ मे चेंज आ गया था पापा के लंबे मोटे लंड से चुदवाने के मुक़ाबले मे सहेलियो के बूब्स दबाने,उन को नंगा देखने मे मज़ा कम था लेकिन अब भी सहेलियो के जिस्मो से आने वाली महक मुझे याद थी. मैं एज मे छोटी ज़रूर थी लेकिन कुछ अरसा पहले से चुदाई का जो सिलसिला वो भी पापा के साथ शुरू हुआ था उस ने मुझे बहुत कुछ सिखा दिया था और बहुत बेशर्म बना दिया था मैने सोच लिया था जब पापा मुझे चोदने मे शर्म नही करते और मोम अपनी चुदाई की बातें बेशर्मी से कर सकती हैं तो मुझे भी बेशर्म हो कर अपने लिए रास्ता बनाना है.


कल बच्चे होंगे और अगर मोम हमारे हाथ से निकल गईं तो वो बच्चो को और दूसरे लोगो को सच बता कर हमारा काम ख़तम करवा सकती थी. मैं समझ रही थी कि मोम की नियत मुझ पर खराब हो रही है और मैं भी ये ही चाहती थी क्यूँ कि मोम को मुझे अपना आदि बनाना था इस तरह उन से ताल्लुक बना कर मैं आराम से पापा क साथ उन की वाइफ बन कर रह सकती थी. वीक में एक दिन मोम को दे देने से बाकी के दिन मेरे ही थे. मैने अंजान बन कर मोम से पूछा कि क्या मतलब आप मुझे ना छोड़ती?


मों बोली मैं तुम्हारा रेप कर देती. 

मैने फॉरन कहा लेकिन आप कोई लड़का थोड़ी हो जो मेरा रेप करेंगी आप के पास तो लंड ही नही है.

मोम ने कहा उस के अलावा भी बहुत कुछ होता है. 

मैने अंजान बन के पूछा वो क्या?
Reply
05-23-2019, 12:22 PM,
#18
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
मोम जवाब देतीं उस से पहले उन के मोबाइल पर कॉल आ गई वो अपने रूम मे चली गईं .मैने थोड़ी देर उन का वेट किया लेकिन वो नही आई तो बात को अधूरा छोड़ के मैं अपने रूम मे आ गई और सो गई.


दोपहर को मेरी आँख खुली मैनीचे आई तो देखा मोम नीची बैठी थी मैं उन के पास गई और पूछा आप यहाँ अकेली बैठी हैं पापा कहाँ हैं.

मोम बोली वो अंदर सो रहे हैं.

मैने शरारत भरे लहजे मे पूछा रात तो खूब मज़े किए होंगे ? 

मों का चेहरा उतर गया वो एक लंबी आह भर के बोली कहाँ क्या मज़ा सारा टाइम मुझ से लंड चुसवाते रहे जब मैने कहा मुझे चोद दें तो नींद का कह के सो गये. 

मैने कहा सो सॅड आप को तो बहुत प्राब्लम हुई होगी .इस से पहले कि बात आगे बढ़ती पापा आ गये और कहने लगे कि मैने लेबर को बुलाया है वो लोग आते ही होंगे घर का समान आज ही ट्रक मे लोड करवा के हम लोग भी आज ही यहाँ से चले जाएँगे. थोड़ी देर मे लेबर आ गई मैं और मोम रूम मे चले गये दिन बहुत बिजी गुज़रा समान लोड हो चुका था हम लोग भी रेडी थे जाने क लिए. ये घर छोड़ते हुए मुझे बहुत दुख हो रहा था मैने फ़ैसला कर लिया था कि मोम को मैं अपनी लाइफ से निकाल के रहूंगी. 


पापा ने ट्रेन से जाने की बजाय बाइ रोड जाने का फ़ैसला किया था और कार बुक करवाई हुई थी. मैं बोझल कदमो से कार मे आ कर बैठ गई मुझे मोम से इतनी नफ़रत हो रही थी कि मेरा बस चलता तो उन का मुँह नोच लेती. हमारा सफ़र शुरू हुआ थोड़ी देर मे रात का अंधेरा छा गया ड्राइवर ने कार की लाइट्स ऑन नही की मोम ने उस से लाइट ऑन करने का कहा तो उस ने कहा मेडम हाइवे पर लाइट ऑन करना अलाउ नही है. कार मे अंधेरा छाया हुआ था जिस का फ़ायदा पापा ने उठाया.

पापा दरम्यान मे बैठे थे और मैं डोर के साथ थी हम काफ़ी अटॅच हो के बैठे थे कि अचानक पापा ने मेरी कमर पर हाथ फेरना शुरू कर दिया.उन के हाथ ने मेरे जिस्म मे बेचैनी सी भर दी थी. काफ़ी देर तक वो कमर सहलाते रहे फिर उन का हाथ मेरे बूब्स पर आ गया वो हल्के हल्के मेरे बूब्स दबाने लगे मैं तो मज़े से पागल हो रही थी मैने पापा की शलवार का नाडा खोल के हाथ अंदर डाल दिया.अंदर उन का लंड भी हार्ड हो चुका था मेरा हाथ लगने से झटके खाने लगा. पापा ने जब मेरी ये हरकत देखी तो उन्होने अपना हाथ मेरी कमीज़ के अंदर डाल दिया और मेरी ब्रा के हुक खोल दिए और हाथ आगे की तरफ ला कर मेरा एक बूब ब्रा मे से बाहर निकाला और उसे ज़ोर से दबाया. मैने पापा के नज़दीक हो कर आहिस्ता से कहा कि पापा आराम से पेन होता है. 


पापा मेरे बूब की गोलाई पर हाथ फेर रहे थे जब कि मेरा हाथ उन के लंड की सेवा कर रहा था. मेरे निपल जो कि लंबे तो बहुत ज़्यादा नही थे लेकिन मोटे थे और हार्ड हो कर अंगूर के दाने की तरह हो गये थे.पापा ने मेरे निपल को पिंच करना शुरू कर दिया था जिस के जवाब मे मैं उन के लंड को कॅप से जड़ तक टाइट हाथ से मसल रही थी. हम दोनो अपनी मस्ती मे मस्त थे टाइम गुज़रने का पता नही चला. पापा ने मेरे कान मे कहा जान अपनी लेग्स खोल लो मैं समझ गई कि उन का हाथ मेरी चूत को सहलाना चाहता है मैं लेग्स खोल के बैठ गई पापा ने अपना हाथ मेरी शलवार के अंदर डाल दिया और पैंटी हटा के मेरी चूत के लिप्स को सहलाने लगे मेरे जिस्म मे करेंट दौड़ने लगा था.मैं पापा के पी होल को छेड़ने लगी पापा का लंड मज़े मे और भी झटके खा रहा था. पापा ने अपनी फिंगर मेरी चूत मे डाली मैं पहले ही गीली हो रही थी पापा की फिंगर ने तो आग ही लगा दी थी. पापा फिंगर करने के दोरान कभी कभी अपनी फिंगर निकाल कर चाट लेते. मैं बहुत हॉट हो रही थी सो मेरा पानी निकल गया मेरी चूत से पानी बह कर मेरी शलवार को गीला कर रहा था. मैने पापा की बॉल्स को सहलाना शुरू कर दिया जिस से पापा को इतना मज़ा मिला कि वो भी ज़्यादा देर कंट्रोल नही कर सके और उन के लंड ने भी पानी छोड़ना शुरू कर दिया मैं पानी निकल जाने से कुछ रिलॅक्स फील कर रही थी.

पापा ने मेरे कान मे कहा जान मज़ा आया? 

मैने कहा बहुत मज़ा आया लेकिन एक मसला हो गया है.

पापा ने पूछा वो क्या? 

मैने कहा इस कार्यवाही ने तो अंदर और बेचैनी कर दी है. 

पापा ने मेरे बूब को दबा कर पूछा वो बेचैनी कैसे दूर हो गी? 

मैने उन के लंड को जो पानी छोड़ के मुरझा गया था दबा के कहा इस से दूर होगी. 

पापा कहने लगे ये भी तुम्हें चोदने को तरस रहा है. 

मैने कहा तो घर पहुँच के क्या इरादा है? 

पापा बोले जो तुम कहो. 

मैने कहा घर चल कर बताउन्गी कि क्या चुदवाने का मूड है. 

पापा ने कहा ठीक है. 

फिर हम लोग ईज़ हो के बैठ गये. सफ़र तेज़ी से कटने लगा सुबह हम सिटी मे पहुँच गये. ड्राइवर ने पापा से पूछा अब कहाँ जाना है पापा ने उस को अड्रेस समझाया और उस आदमी को कॉल कर के समान रखवाने के लिए लेबर का अरेंज करने को कहा जिस ने वो मकान रेंट पर दिलवाया था. उस ने काफ़ी कॉपरेट किया. तकरीबन हाफ अवर के बाद हम घर पहुँच गये.
Reply
05-23-2019, 12:22 PM,
#19
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
पापा ने लॉक खोला हम अंदर आ गये घर अच्छा था मैं फॉरन बाथ रूम मे गई और कपड़े चेंज किए. पापा ने भी चेंज किया क्यूँ कि उन की शलवार भी उन के पानी से गीली हो रही थी. थोड़ी देर मे ही ट्रक समान ले के आ गया और लेबर भी पहुँच गई.पापा उन लोगो के साथ समान सेट करवाने लगे. मैने मोम से कहा हम छत पर चलते हैं हम छत पर आ गये. मैने मोम से कहा आप कुछ परेशान लग रही हैं वो बोली नही एसी कोई बात नही है मैने उन से कहा क्या आप मुझे दोस्त समझती हैं?

मोम ने कहा हाँ. 

मैने कहा अगर मैं आप से कुछ पर्सनल सवाल करूँ तो आप को बुरा तो नही लगे गा?मैं किसी को नही बताउन्गी. 

मोम ने कहा मुझे तुम पे ऐतबार है तुम सवाल करो.

मैं: आप ने किस एज मे पहली बार चुदवाया था ?

मोम: मैं तब 8थ क्लास मे थी.

मैं: किस ने आप को फर्स्ट टाइम चोदा था?

मोम?मेरे बड़े जीजा ने.

मैं: कुछ बताओ कि कैसे हुआ ये सब?

मोम:ये एक लंबी बात है लेकिन इतना बता देती हूँ कि मैं अपनी बाजी के घर कुछ दिन रहने गयी थी जीजा जी से दोस्ती हो गई शुरू मे तो वो बहाने से बूब्स पर गान्ड पर हाथ लगा देते. फिर एक दिन बाजी घर पर नही थी जीजा जी ने काम से छुट्टी कर रखी थी बाजी के जाने के बाद वो मुझ से गॅप शप करने लगे वो कहने लगी किरण तुम तो अपनी बाजी से भी खूबसूरत हो और तुम्हारे जिस्म के तो क्या कहने मेरा तो हाल बुरा हो जाता है तुम्हारे मटकते चूतड़ और लचकती कमर देख के . ये कह कर उन्होने अपना मोटा लंड पेंट की ज़िप खोल के बाहर निकाला और कहा ये देखो कैसे तुम्हारे लिए तड़प रहा है अचानक उन्होने मुझे अपनी बाहों मे जकड लिया और धमकी दी जैसा मैं कहता हूँ करती जाओ वरना जान से मार दूँगा. मैं डर गई उन्होने मुझे नंगा कर के अपने मोटे लंड से चोद दिया.


मैं: आप ने अपनी बाजी को बताया?

मोम: नही जीजा ने धमकी दी थी कि अगर मैने किसी को बताया तो वो बाजी को तलाक़ दे देंगे .

मैं: कितने अरसे चला ये सिलसिला?

मोम: मैं 2 वीक्स वहाँ और रही इस दोरान जीजा को जब चान्स मिलता मुझे चोद देते.

अभी बात हो ही रही थी कि मोम की कॉल आई मोम ने कॉल कट कर दी. कॉल फिर से आने लगी मोम ने फिर कट कर दी.

मैने मोम से कहा आप मेरी वजह से अगर कॉल रिसीव नही कर रही तो मई नीचे चली जाती हूँ .ये कह कर मैनीचे आ गई मेरे रूम का समान सेट हो चुका था. रूम मे आ कर मैं सोचती रही मोम उस कॉल को रिसीव करने मे घबरा क्यूँ रही तीन मेरी चुदाई के बाद तो घर का महॉल बहुत खुला हो गया था किसी को किसी का लिहाज और शर्म नही रही थी. जब सब समान सेट हो गया तो पापा ने कहा कि काम कंप्लीट हो गया है तुम तैयार हो जाओ खाना बाहर खाएँगे मैने कहा मैं रेडी ही हूँ मोम मैं और पापा बाहर आ गये न्यू सिटी था लोगो से पता कर के हम एक रेस्टोरेंट मे आ गये. खाना खाने लगे मैने नोट किया खाने के दोरान भी मोम परेशान थी. खाना खा के और कुछ समान ले के हम लोग घर आए बहुत थके हुए थे मैने आहिस्ता से कहा पापा आज आप मेरे साथ सोना.

पापा ने कहा जान मैं भी ये ही चाहता हूँ. पापा मेरे साथ रूम मे आ गये मैने कहा मुझे ज़रूरी बात करनी है.मैने मोम की कॉल वाली बात और अपना शक उन को बता दिया पापा ये सुन कर सोच मे पड़ गये.

मैने उन्हे कहा पापा आप ने चोदा मैं कुछ नही बोली लेकिन मैं आप से 2 चीज़ मांगती हूँ सोच समझ कर फ़ैसला कीजिएगा.

पापा ने परेशान हो कर कहा कैसी बातें कर रही हो कोई मसला है क्या?

मैने कहा मुझे आप से चुदवाने मे मोम के साथ आप की भी मर्ज़ी थी ना?

पापा ने कहा हाँ थी. 

मैने कहा हम जो कर रहे न अगर उस के बारे मे किसी को पता चल गया तो हमारा अंजाम बहुत बुरा होगा. और इस सिलसिले मे मोम से ही ख़तरा है. आप वादा करें कि टाइम आने पर अगर मैं मोम को फँसा दूं तो आप उस बात को इश्यू बना कर मोम को तलाक़ दे देंगे. 

पापा बोले ये कैसी बातें कर रही हो इस एज मे तलाक़ लोग क्या कहेंगे? 

मैने कहा ये सोचें जब हमारा राज़ लोगो तक पहुँचेगा तो लोग क्या नही कहेंगे. क्या आप नही चाहते कि हम खुल के लाइफ गुज़ारें?

पापा बोले चाहता हूँ. 

मैने कहा लेकिन जब तक मोम हमारे दरम्यान से नही निकल जाती ये हो नही सकता कभी भी उन की कोई डिमॅंड हम से पूरी ना हो सकी तो याद रखिएगा हमारा खेल ख़त्म हो जाएगा और आप हाथ मलते रह जाएँगे.
Reply

05-23-2019, 12:22 PM,
#20
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
पापा काफ़ी देर सोचते रहे फिर बोली मुझे तुम्हारी ये शर्त मंज़ूर है दूसरी बताओ ,

मैने कहा पापा हम यहाँ कुछ अरसे के लिए हैं जैसे ही हमारा प्लान कामयाब होगा हम वापिस अपने घर चले जाएँगे. प्लीज़ आप उस घर को सेल मत करना. 

पापा ने मुझे गले लगा लिया और कहा मेरी जान तुम बहुत समझदार हो हालात ऐसे थे कि उस घर को छोड़ना पड़ा लेकिन मुझे उस को छोड़ने का बहुत दुख है मैं वादा करता हूँ कि मैं उस को सेल नही करूँगा अब खुश हो? 

मैने आइ लव यू पापा कह कर पापा को ज़ोर से झप्पी डाल दी मेरे बूब्स पापा की चेस्ट मे गढ़े हुए थे 

पापा ने कहा जान अपने इन रसीली होंठो का रस नही पिलाओगी? 

मैने झट से अपने होंठ पापा के होंठो पर रख दिए पापा उन को चूसने लगे. लिप्स किस्सिंग मे मस्त हम दोनो एक दूसरे की कमर को सहला रहे थे. हम ने काफ़ी देर एक दूसरे के होंठो का मज़ा लिया कभी मैं अपनी ज़ुबान पापा के मुँह मे डाल देती और पापा उसे टॉफी की तरह चूस्ते कभी पापा अपनी ज़ुबान मेरे मुँह मे देते तो मैं उसे चूस्ति इस सिलसिले मे हम दोनो हॉट हो गये थे पापा का लंड खड़ा हो के मेरी चूत से टकरा रहा था जब कि मेरे बूब्स और निपल दोनो हार्ड हो रहे थे. मुझ से रहा नही गया मैने पापा की शलवार का नाडा खोल दिया पापा का लंड मेरे सामने था मैने उस को पकड़ लिया और सहलाने लगी.

पापा ने मुस्कुरा के कहा लगता है मेरी बेटी बहुत उतावली हो रही है चुदवाने के लिए.

मैने कहा और नही तो क्या जब से शिफ्टिंग शुरू हुई कहाँ चुदवा पाई मैं आप से? 

पापा ने जोश मे मुझे बाहों मे कस के भींच लिया. 

मुझ से भी अब कंट्रोल करना मुश्किल हो रहा था मैं पापा को लंड से पकड़ कर बेड पर ले आई फिर खुद पापा की कमीज़ और बनियान उतारी और उन को सीधा लेटने को कहा और उन पर चढ़ गई पहले मे ने पापा की चौड़ी चेस्ट पर किस्सिंग शुरू की पापा की चेस्ट को चाट्ती रही अचानक मेरे ज़हन मे ख़याल आया मैने पापा के निपल्स को चाटना शुरू कर दिया.

पापा के लिए ये नई बात थी उन्होने पूछा तुम ने ये कहाँ से सीखा ?

मैने मुस्करा कर कहा आप ही से तो सीखा है. आप मेरे निपल्स चाटते हैं मैने आप के चाट लिए. आप को अच्छा नही लगा?

पापा ने कहा ये बात नही है मुझे तो लाइफ मे पहली बार नया मज़ा मिला है. 

मैं आहिस्ता आहिस्ता पापा की बॉडी को चाटते हुए नीचे आ गई और पापा के लंड को कस के पकड़ा पापा के मुँह से आहह की आवाज़ निकली मगर मैने परवाह किए बाघैर लंड को कस के पकड़े हुए लंड की टोपी को चाटना शुरू कर दिया मैं गोल गोल टोपी पर ज़ुबान घमाती तो पापा मज़े से पागल हो जाते थोड़ी देर मैं पापा के लंड को चूस्ति रही फिर पापा ने मुझे रुकने को कहा मैं रुक गई पापा ने मुझे करीब किया और और मेरी कमीज़ और ब्रा उतार दी और मेरे नेक, चीक्स पर किस की बारिश कर दी

थोड़ी देर पापा ऐसे ही करते रहे फिर जैसे ही उन्होने मेरे बूब्स पर लिप्स रखे मेरी बर्दाश्त ख़त्म हो गई मेरी चूत से पानी निकलने लगा लेकिन पापा नही रुके वो बहुत महारत और प्यार से मेरे बूब्स से खेलने लगे काफ़ी देर तक मेरे बूब्स चाटते ,दबाते और काटते रहे इस दोरान मैं फिर से गरम हो गई. पापा रुक गये मुझे कहा कि बेड पे खड़ी हो जाओ मैं खड़ी हो गई पापा ने मुझे घुमाया और खुद नीचे बैठ गये. अब मेरी गान्ड उन के मुँह के सामने थी. पापा ने मेरी शलवार नीची की और गान्ड की लाइन पर हाथ फेरा. मेरी गान्ड मे तो सनसनी की लेहायर दौड़ गई. फिर पापा ने मेरे चुतड़ों को हाथ से थोड़ा खोला और अपनी नोज अंदर डाल के सूंघने लगे. फिर कहने लगे तुम्हारी गान्ड की स्मेल ने तो मुझे पागल कर दिया है ये कह कर उन्हो ने गान्ड के होल पर ज़ुबान रख दी. 

मज़े से पागल होते हुए मैने अपनी गान्ड उन के मुँह पर दबा दी. पापा ने मुझे झुकाया और गान्ड के होल को चाटने लगे बीच बीच मे गान्ड मे फिंगर भी करते जाते. फिर वो टाइम आ गया जब पापा बोले कि जान आयिल देना. मैं समझ गई कि अब लंड महाराज मेरी गान्ड का ढोल बजाएँगे .मैने पापा को आयिल दिया पापा ने बहुत सा आयिल अपने लंड पे लगाया और फिर गान्ड मे बहुत सा आयिल लगाया और मुझे बेड से नीचे ले आए और कहा चल मेरी रंडी बेटी जल्दी से कुतिया बन जा.

मैं भी मस्त हो रही थी और मैने भी बड़ी अदा से नीचे झुकते हुए कहा बन गई कुतिया अब चढ़ जाओ मेरे बेटी चोद पापा.

पापा ये वर्ड्स सुन कर जोश मे आ गये और लंड को गान्ड के होल पे सेट किया और कमर पकड़ कर एक ज़ोरदार धक्का लगाया लंड गान्ड की दीवारों को चीरता हुआ अंदर फँस गया. मेरी चीख निकल गई और मैने कहा हाए पापा आराम से डालो.

पापा ने कोई परवाह नही की थोड़ी देर तक रुक कर फिर धक्का मारा और हाफ लंड अंदर पेल कर स्लो स्लो अंदर बाहर करने लगे. मैं 2न्ड टाइम तो गान्ड मरवा रही थी इस लिए मुझे थोड़ा पेन हो रहा था लेकिन उस पेन मे मज़ा आ रहा था. पापा रुक गये लेकिन लंड अंदर ही डाले रखा उन्होने मेरे बूब्स को दबाना शुरू किया. अचानक पापा ने मेरे बूब्स को कस के पकड़ा और ज़ोर का धक्का लगाया और जड़ तक लंड अंदर डाल दिया.


मैं चीख पड़ी और कहा हाइईईईई मर गई बेटी चोद क्या गान्ड फाड़ेगा क्या? 
Reply


Possibly Related Threads...
Thread Author Replies Views Last Post
  Mera Nikah Meri Kajin Ke Saath desiaks 8 44,646 09-18-2021, 01:57 PM
Last Post: amant
Thumbs Up Antarvasnax काला साया – रात का सूपर हीरो desiaks 71 17,740 09-17-2021, 01:09 PM
Last Post: desiaks
Lightbulb Kamukta kahani कीमत वसूल desiaks 135 531,078 09-14-2021, 10:20 PM
Last Post: deeppreeti
Lightbulb Maa ki Chudai माँ का चैकअप sexstories 41 329,169 09-12-2021, 02:37 PM
Last Post: Burchatu
Thumbs Up Antarvasnax दबी हुई वासना औरत की desiaks 342 255,935 09-04-2021, 12:28 PM
Last Post: desiaks
  Hindi Porn Stories कंचन -बेटी बहन से बहू तक का सफ़र sexstories 75 997,555 09-02-2021, 06:18 PM
Last Post: Gandkadeewana
Thumbs Up Hindi Sex Stories तीन बेटियाँ sexstories 170 1,327,629 09-02-2021, 06:13 PM
Last Post: Gandkadeewana
Lightbulb Maa Sex Kahani माँ की अधूरी इच्छा sexstories 230 2,541,508 09-02-2021, 06:10 PM
Last Post: Gandkadeewana
  क्या ये धोखा है ? sexstories 10 37,186 08-31-2021, 01:58 PM
Last Post: Burchatu
Thumbs Up Hindi Sex Porn खूनी हवेली की वासना sexstories 52 144,235 08-25-2021, 11:27 PM
Last Post: Burchatu



Users browsing this thread: 8 Guest(s)