Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
05-23-2019, 12:22 PM,
#21
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
पापा ने बूब्स पकड़े पकड़े तेज़ी से लंड पेलना शुरू कर दिया. आयिल की वजह से जब लंड अंदर बाहर होता तो पच पच की आवाज़ आती. काफ़ी देर पापा इसी तरहा मेरी गान्ड मे लंड पेलते रहे मैं भी चूतड़ हिला हिला कर लंड अंदर ले रही थी. मज़े से पागल हो कर मैने कहा और ज़ोर से चोदो बेटी चोद मेरी गान्ड फाड़ दो. मज़ा इतना था कि मेरी चूत फिर पानी छोड़ रही थी.पानी चूत से निकल कर मेरी लेग्स पे बह रहा था. फिर पापा के धक्को मे तेज़ी आ गई और उन का पानी निकल गया. मुझे अपनी गान्ड मे गरम गरम लावा सा गिरता फील हो रहा था. पानी निकाल के पापा ने आराम आराम से लंड को बाहर निकाला उन का लंड आयिल, उन के पानी और मेरी चिट(पोटी) से भरा हुआ था. मेरी हालत तो ये थी कि आगे से मेरा पानी और पीछे से पापा का पानी जो गान्ड से निकल रहा था मेरी लेग्स को गीला कर रहा था. हम ने थोड़ी देर रेलेक्ष किया फिर बाथरूम मे जा कर सफाई की और नंगे ही सो गये.


थकावट ज़्यादा होने की वजह से सुबह मेरी आँख देर से खुली. मैं जल्दी से उठी कपड़े पहने नाश्ता बनाने किचिन मे आ गई नाश्ता बना के मैने सोचा मोम को भी नाश्ते का कह दूं. ये सोच कर मैं उन के रूम तक आई मैं डोर नॉक करने ही वाली थी कि अंदर से मोम की आवाज़ आई वो किसी से फ़ोन पे बात कर रही थी. मोम की आवाज़ से लग रहा था कि वो जिस से बात कर रही थी वो उन पर किसी ममली मे ज़ोर डाल रहा था. मैं वहीं रुक के उन की बातें सुनने लगी. थोड़ी देर खामोशी के बाद मोम की आवाज़ आई भाभी आप लोग मेरी बात क्यूँ नही समझ रहे पहले की बात और थी सिटी एक ही था जब दिल चाहता था मैं आ जाती थी बहाना बना के लेकिन अब हम लोग शिफ्ट कर चुके हैं मेरे लिए आना मुश्किल है. दूसरी तरफ से पता नही क्या कहा गया लेकिन मोम ने जो जवाब दिया उस ने मेरा शक और बढ़ा दिया था. मोम ने कहा भाभी आप लोगो को अपने काम के लिए अब कोई और इंतज़ाम करना होगा मैं आने की लास्ट ट्राइ करूँगी. मैने ये सुन कर फॉरन उन के रूम का दरवाज़ा नॉक किया. अंदर से मोम की आवाज़ आई कोई आ गया है बाद मे बात करूँगी और फ़ोन काट दिया. मोम ने मुझे देखा तो मुस्कराने की कोशिश कर के पूछा कोई काम था तुम्हें? 

मैने मुस्करा के कहा आप को नाश्ते का कहने आई थी. मोम ने कहा तुम लोग नाश्ता कर लो मुझे भूक नही है. मैं वहाँ से चली आई नाश्ता ले के अपने रूम मे आई पापा किसी से फ़ोन पर बात कर रहे थे. कॉल एंड होने के बाद हम ने नाश्ता किया फिर पापा कहने लगे किरण मुझे तुम से ज़रूरी बात करनी है. मैने कहा करें . पापा बोले जो प्लान तुम्हारी मोम ने बनाया था उस के मुताबिक हम दूसरे सिटी मे आ गये हैं अब मुझे तुम्हारी नकली शादी करनी है जिस के लिए मैने लड़के का अरेंजमेंट कर लिया है. उन लोगो को पैसो की ज़रूरत थी वो पैसे मैं उन को दूँगा और बदाले मे वो मेरे कहने के मुताबिक काम करेंगे .

मैने कहा पापा आप ने मोम से मशवरा कर लिया है? 

पापा बोले उस से मशवरा नही करना था मैने ये सब सीक्रेट तौर पर किया है तुम भी अपनी मोम को ना बताना टाइम आने पर मैं खुद बता दूँगा . 

मैने पूछा मोम का प्लान था और आप मोम से ही छुपा रहे हैं. पाप ने कहा इस लिए छुपा रहा हूँ कि अगर कल को तुम अपने प्लान मे कामयाब हो जाती हो और मैं तुम्हारी मोम को तलाक़ देता हूँ तब तुम्हारी मोम चुप नही रहेगी वो लोगो को हमारे रीलेशन के बारे मे ज़रूर बताएगी उस टाइम के लिए मैने जिस लड़के का अरेंजमेंट किया है वो लोगो के सामने ये कह कर कि तुम उस की वाइफ हो बात को संभाल लेगा और उस के घर वाले ड्रामा करेंगे कि तुम्हारी मोम उन की बहू पर इल्ज़ाम लगा रही है इस तरहा लोगो को तुम्हारी मोम के ही ग़लत होने का यकीन होगा.

मैने कहा पापा आप ठीक कहते हैं. 

पापा बोले मैं उस लड़के और उस के घर वालो से फाइनल डील करने जा रहा हूँ ये कह कर पापा बाहर चले गये और मैं मोम के पास आ गई. मोम से इधर उधर की बातें हो ने लगी मोम ने कहा वो बाथ लेने जा रही हैं जब वो बाथरूम मे गई वो अपना मोबाइल वही छोड़ गई. मैने फॉरन उन के मोबाइल मे थोड़ा सा पानी डाल दिया. जब मोम आई तो ऐज यूषुयल उन्होने अपना जिस्म सही से ड्राइ नही किया था उन के कपड़े उन की बॉडी से चिपके हुए थे. मैने कहा मोम चलो ज़रा मार्केट से हो के आते हैं थोड़ा टाइम पास हो जाएगा. 
Reply

05-23-2019, 12:23 PM,
#22
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
मोम ने कहा वो अपना बॅग तो ले लें मैने उन्हें कहा छोड़ो बॅग की क्या ज़रूरत है हम थोड़ी देर मे तो आ जाएँगे. मोम मेरी हरकत से अंजान थी उन्होने अपना मोबाइल उठा कर अपनी ब्रा मे रख लिया (आप सब लोग जानते हैं कि ब्रा हम फीमेल्स की पॉकेट का काम भी करती है और पैसे निकालने के चक्कर मे हम फीमेल्स जब अपने बूब्स का नज़ारा करवाती हैं तो मेल्स के लंड कैसे खड़े होते हैं) मेरा मतलब आप लोगो को ब्रा के फ़ायदे बताना नही था वो आप अच्छी तरह जानते हैं इस लिए मैं स्टोरी मे वापिस आती हूँ. हम लोग घर लॉक कर के बाहर आ गये थोड़ी देर इधर उधर टाइम पास करने के बाद हम ने कुछ खाने की चीज़ें ली और घर आ गये. थोड़ी देर के बाद मोम ने अपना मोबाइल निकाला तो हैरत से बोली अरे ये ऑफ कैसे हो गया. 

मैने शरारत से कहा अपने इन प्यारे प्यारे बूब्स से पूछो इन्हो ने ही किया होगा .

मोम मेरा इशारा समझ कर हँसने लगी और मोबाइल ऑन करने लगी लेकिन मोबाइल ऑन नही हुआ. मोम ने परेशान हो कर कहा ये तो ऑन नही हो रहा मैने उन से मोबाइल ले के ऑन करने की ट्राइ की फिर मोम को दिखाते हुए कहा कि ये तो गीला हो रहा है लगता है आप का पसीना चला गया है जिस वजह से ये खराब हो गया है. मोम का फेस उतर गया था मैने उन का हाथ पकड़ कर ड्रामा करते हुए कहा आप मेरा मोबाइल ले लें अगर आप को अमर्जन्सी है तो.

मोम ने कहा नही तुम्हें भी ज़रूरत हो गी. मैने कहा मेरे पास किस की कॉल आनी है आप यूज़ कर लें अगर आप ने इनकार किया तो मैं ये समझूंगी कि आप मुझे अपना नही समझतीं. मोम ने मुझे गले लगा लिया और थॅंक्स कहा. मेरे पास जो मोबाइल था उस मे कॉल रेकॉर्डर था मैने उस को ऑन कर के मोम को सेट दे दिया अब मोम की हर कॉल की रेकॉर्डिंग सेट मे आ जाती जिस को मैं आराम से बाद मे सुन कर मोम को ट्रॅप कर सकती थी. मैं वहाँ से अपने रूम मे आ गई और मॅगज़ीन पढ़ने लगी शाम को पापा आए और मोम और मुझे बुलाया और मोम से कहने लगे. अब हम इस सिटी मे आ गये हैं प्लान के मुताबिक हमें किरण की नकली शादी करनी थी उस सिलसिले मे मैने सारा अरेंज कर लिया है. तैयारी भी कंप्लीट है बस कुछ दिन मे ये काम कर देते हैं. मोम बोली अरे वाह इतना सब कर लिया और मुझे बताया तक नही. 

पापा ने मामले को संभालते हुए मोम से प्यार से कहा तुम ने मेरे लिए इतना कुछ किया मेरी तरफ देखते हुए कहा कि इतना मस्त माल मुझे दिलवाया मैं तुम्हारा एहसान मंद हूँ. दरअसल मैं तुम्हें सर्प्राइज़ देना चाहता था. इस लिए ये बात मैने तुम से और किरण से छुपाई. फिर पापा ने मोम को अपने करीब कर के कहा क्या जान प्लान तो तुम्हारा ही है क्या तुम मेरा साथ नही दोगि? 

मोम असल मामले से बेख़बर पापा के इस ड्रामे से खुश होते हुए बोली ठीक है लेकिन अभी आप को मेरे साथ मार्केट चलना होगा मेरा मोबाइल खराब हो गया है दूसरा मोबाइल लेना है. इस से पहले क़ि पापा कुछ कहते मैने उन को आँखो से मोम की बात मान लेने का इशारा किया. पापा बात को पिक कर गये और मोम को ले के मार्केट चले गये. थोड़ी देर के बाद मोम न्यू मोबाइल ले के आ गई उन्होने मेरा मोबाइल मुझे वापिस कर दिया मैं अपने रूम मे आई और मोबाइल को चेक किया मोबाइल में 1 रेकॉर्डिंग मिल गई मैने हॅंड फ्री से उस रेकॉर्डिंग को सुना तो मेरे होश उड़ गये.मोम और उन की भाभी के दरमिया जो बातें हुई थी उन से साफ ज़ाहिर था कि मोम ना सिर्फ़ अपने भाई से चुदवाति रही थी बल्कि मोम के भाई मोम को दूसरे लोगो से भी चुदवाते थे. कॉल वाला मामला जिस पर मुझे शक था वो खुल के सामने आ गया था. मोम के भाई अपनी वाइफ के ज़रिए से मोम को बुला रहे थे. बातों से लग रहा था कि मोम के भाई ने किसी एक आदमी के लिए नही बल्कि एक से ज़्यादा आदमियो के लिए अपनी वाइफ और मोम को बुक किया था . 


मेरे दिल मे तो मोम और उन की भाभी की ग्रूप चुदाई देखने की ख्वाहिश जाग उठी थी. अभी मैं ये सब ही सोच रही थी कि पापा ने मुझे आवाज़ दे कर बुला लिया मैं उन के पास पहुँची तो पापा अपने रिलेटिव्स को फ़ोन कर के मेरी शादी पे इन्वाइट कर रहे थे.पापा के फेस एक्सप्रेशन्स से लग रहा था कि रिलेटिव्स ने इस तरह अचानक मेरी शादी पर इन्वाइट करने को अच्छा नही समझा था.जब पापा फ़ोन कर चुके तो मोम ने पूछा क्या हुआ क्या कहा उन लोगो ने?

पापा ने गुस्से मे गाली दे कर कहा वो कह रहे थे अचानक बताए बाघैर पहले तुम सिटी छोड़ गये और अब अपनी लड़की की शादी भी तय कर दी और हम से पूछा तक नही फिर कुछ तल्ख़ बातें पापा और उन लोगो के दरमिया हुईं जिस का रिज़ल्ट ये निकला था कि उन लोगो ने शादी मे आने से इनकार कर दिया था. 

मोम ने मुस्करते हुए कहा चलो ये तो अच्छा हुआ ना वो लोग आएँगे ना ज़्यादा ड्रामा करना पड़ेगा .

पापा भी कहने लगे कि बात तो तुम ने ठीक की है. पापा के कहने पर मोम ने अपने कुछ रिलेटिव्स को इन्वाइट किया. 3 दिन बाद का प्रोग्राम सेट हुआ जिस के मुताबिक मैं लोगो को दिखाने के लिए रुखसत हो कर होटेल मे जाउन्गी .होटेल मे पहले से पापा 2 रूम्स बुक करवाएँगे एक मे वो लड़का रात के लिए स्टे करेगा दूसरे मे मैं स्टे करूँगी रात मे पापा ज़रूरी काम का बहाना बना कर होटेल आ जाएँगे और मेरे साथ चुदाई करेंगे. लेकिन ये प्रोग्राम मोम को नही बताया गया था क्यूँ कि मोम को अगर बता दिया जाता तो वो अलर्ट हो सकती थी और मेरा बना बनाया प्लान खराब हो सकता था. हम लोग एक दूसरे से गॅप शॅप कर रहे कि मोम के मोबाइल पर कॉल आने लगी मोम ने नंबर देख कर कॉल काट दी 2/3 बार कॉल आई लेकिन मोम ने कॉल कट कर दी. पापा ने मोम से पूछा की किस का कॉल है और तुम कॉल अटेंड क्यूँ नही कर रही? 

मोम ने कन्फ्यूज़ होते हुए कहा भाभी की कॉल थी उन से बात करने का दिल नही कर रहा इस लिए कॉल कट कर दी. इस से पहले कि पापा कुछ कहते मैं फॉरन बोल पड़ी पापा आप बहुत थक गये होंगे इस लिए आप मेरे रूम मे जा कर आराम करें आज मेरा मूड मॉम से बातें करने का है. पापा ने हैरत से मेरी तरफ देखा तो मैने आँख से उन्हें इशारा कर दिया पापा उठ कर सोने चले गये और मैं मोम के साथ उन के रूम में आ गई. 

रूम मे आ कर मोम ने कहा किरण तुम ने फज़ूल मे अपने पापा को अकेला सोने भेज दिया क्या पता उन का कुछ और मूड हो. मैने फॉरन मोम के हाथ पकड़ कर कहा मूड का क्या है वो तो किसी और दिन भी बन सकता है और मैं कॉन सा कहीं जा रही हूँ मैने तो ये सब आप के लिए किया है.

मोम ने हैरान होते हुए कहा क्या मतलब? 

मैने कहा मतलब ये कि मैं देख रही हूँ कि आप कुछ दिनो से परेशान हैं मैं आप से आप की प्राब्लम शेयर करना करना चाहती हूँ.

मोम ने कहा एसी कोई बात नही है.

मैने ज़ोर दे कर कहा एसी बात है आप ने मुझे दोस्त बनाया है इस लिए मैं आप के काम आना चाहती हूँ आप मुझ पर ऐतबार करें. मैने मोम को सोच मे डूबी देख कर कहा अगर आप किसी बात मे मुझ से शरमा रही हैं तो ग़लत कर रही हैं दोस्ती मे शरम कैसी? 

मोम ने कहा ये तुम्हारा वेहम है मैं भला तुम से क्यूँ शर्माउन्गी. 

मैने कहा जैसे आप की मर्ज़ी और वहाँ से ड्रॉयिंग रूम मे आ कर बैठ गई और टीवी देखने लगी. मुझे अपना प्लान पूरा होता नही नज़र आ रहा था इस लिए मैं डिस्टर्ब फील कर रही थी. बहर हाल उस दिन मेरी मोम से इस टॉपिक पर बात नही हो पाई. लेकिन मैने हिम्मत नही हारी और मोम पर नज़र रखे रही. अगले दिन दोपहर को मेरी शादी मे शिरकत के लिए मोम के भाई आ गये. पापा घर पर नही थे मोम उन के लिए खाने का इंतज़ाम करने लगी तो मैने कहा कि खाना मैं बना देती हूँ आप भाई को कंपनी दें. 
Reply
05-23-2019, 12:23 PM,
#23
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
मोम ने भाई से कहा आओ रूम मे चल कर बातें करते हैं. मैं जानती थी कि क्या बातें करनी हैं इन को जैसे ही वो लोग रूम मे गये उन्होने डोर बंद कर दिया मैं फॉरन से उन के पीछे गई ता कि उन की बातें सुन सकूँ अंदर से मोम की आवाज़ आई.
मोम: भाई भाभी को क्यूँ नही लाए ?

भाई: तुम्हें बताया था ना कि मैने एक पार्टी के लिए तुम्हें और तुम्हारी भाभी को बुक किया था लेकिन तुम्हारी वजह से काम खराब हो गया बड़ी मुश्किल से उन लोगो को तुम्हारी तबीयत के खराब होने का बहाना कर के राज़ी किया वरना वो लोग तो डील ख़तम कर रहे थे . इस लिए तुम्हारी भाभी को उन के साथ भेज दिया है तुम भी उस के साथ होती तो पैसे भी अच्छे मिल जाते.

मोम: भाई सॉरी मैं यहाँ फँसी हुई हूँ दिल तो मेरा भी बहुत कर रहा था.

भाई: छोड़ो इस बात को क्या हो सकता है अब लेकिन आज रात को मुझे तेरी चूत मारनी है इस सिलसिले मे मैं कुछ नही सुनूँगा.

मोम:हंसते हुए ज़रूर मारना मना किस ने किया है. जब रात को सब सो जाएँगे तो मैं आ जाउन्गी.


उन के प्लान के सेट होने के बाद मैं वापिस किचिन मे आ गई और खाना बना के उन दोनो को खाने के लिए बुलाया. खाने के बाद मैं अपने रूम मे आई अचानक मेरे ज़हन मे ख़याल आया और हॅंडीकॅम निकाला. मैने सोच लिया था कि मोम की चुदाई के शो को मैं रात मे रेकॉर्ड करूँगी. थोड़ी देर के बाद मोम ने मुझे आवाज़ दी जब मैं उन के पास गई तो उन्होने कहा कि तुम डोर बंद कर लो हम लोग मार्केट तक जा रहे हैं थोड़ी देर मे आ जाएँगे. जैसे ही वो लोग गये मैं फॉरन गेस्टरूम मे गई और बॅक साइड की विंडो जो गॅलरी मे खुलती थी उसे ओपन कर दिया और पर्दे को सही से बराबर कर दिया. थोड़ी देर बाद मोम भी आ गई उन के हाथ मे कुछ बॅग्स थे जो यकेनन उन के भाई की तरफ से रात की चुदाई का गिफ्ट थे. 

रात मे पापा आ गये खाना हम लोगो ने साथ खाया. खाने के बाद मैं पापा को अपने रूम मे आने का इशारा कर के अपने रूम मे आ गई. जब पापा आए तो मैने उन को आज रात होने वाली कार्यवाही के बारे मे बताया और कहा आप मोम के साथ जा कर सो जाएँ और ऐसा ज़ाहिर करें कि आप गहरी नींद मे हैं. पापा फॉरन मोम के रूम मे चले गये. मैं थोड़ी देर के बाद अपने रूम से निकल के गॅलरी मे आई हॅंडीकॅम मेरे पास था. और चोरो की तरह गेस्ट रूम की विंडो से जिस को मैने पहले से ओपन रखा था रूम के अंदर दाखिल हो गई और पर्दे मे अपने आप को छुपा लिया. रूम मे कोई नज़र नही आ रहा था बाथरूम से पानी गिरने की आवाज़ आ रही थी मैं समझ गई कि मोम के भाई बाथ रूम मे हैं. थोड़ी देर के बाद वो बाथ रूम से नंगे ही बाहर आए और बेड पर लेट गये उन का लंड देख के तो मेरी चूत की हालत बुरी होने लगी थी काला मोटा लंड था उन का जिस के नीचे 2 बड़ी बड़ी बॉल्स झूल रही थीं. दिल कर रहा था उन के लंड को मुँह मे भर लूँ और चूसू.मैं खड़े खड़े थक गई थी लेकिन मोम थी कि आने का नाम नही ले रही थी. थोड़ी देर और गुज़री कि डोर पर नॉक हुआ मोम के भाई डोर तक गये और पूछा कॉन है? 

बाहर से मोम ने आहिस्ता से कहा डोर खोलें. 

मोम की आवाज़ सुन कर उन के भाई ने डोर खोल दिया मोम जल्दी से अंदर आ गईं लंड देख कर उन की आँखो मे चमक आ गई थी. मैने पर्दे को थोड़ा सा सरका कर उन की रेकॉर्डिंग शुरू कर दी थी. मोम ने जल्दी से अपने कपड़े उतारे पैंटी उन्होने नही पहनी थी.जब उन्होने ब्रा उतारी तो उन के बड़े बड़े बूब्स उछल के बाहर आ गये जिस को उन के भाई ने टाइम बर्बाद किए बाघैर मुँह मे ले के चूसना शुरू कर दिया और एक हाथ नीचे ले जा कर मोम की चूत मे फिंगर करने लगे मोम तो मज़े मे अपनी लेग्स को खोल कर फिंगर डलवा रही थी 

कुछ देर ये सब चलता रहा फिर मोम नीचे बैठ गई और लंड को मुँह मे ले के ज़ोर ज़ोर से चूसने लगी. काला लंड जब मोम के मुँह से बाहर निकला तो मोम के सलाइवा(थूक) से गीला हो कर चमक रहा था. फिर मोम के भाई ने मोम को बेड पर लिटा दिया और उन पर चढ़ गये और लंड अंदर पेलने लगे . मोम की चूत इतनी खुली थी कि मोटा लंड आराम से अंदर बाहर हो रहा था. रूम मे मोम की चूत से निकलने वाली पच पच की आवाज़ गूँज रही थी आधा घंटा चोदने के बाद मोम के भाई ने लंड बाहर निकाल लिया और बेड से उठ गये.मोम भी तेज़ी से उठी और नीचे बैठ गईं और लंड को जल्दी से मुँह मे ले के चूसने लगीं. 1/2 मिनट के बाद मोम के भाई का लंड झटके खाने लगा और अपना माल छोड़ने लगा. जब सारा पानी निकल गया तो मोम ने वो पानी पी लिया और जो ड्रॉप्स लंड पे लगे रह गये थे उन्हें बहुत महारत से चाट कर साफ कर दिया.
Reply
05-23-2019, 12:23 PM,
#24
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
कुछ देर ये सब चलता रहा फिर मोम नीचे बैठ गई और लंड को मुँह मे ले के ज़ोर ज़ोर से चूसने लगी. काला लंड जब मोम के मुँह से बाहर निकला तो मोम के सलाइवा(थूक) से गीला हो कर चमक रहा था. फिर मोम के भाई ने मोम को बेड पर लिटा दिया और उन पर चढ़ गये और लंड अंदर पेलने लगे . मोम की चूत इतनी खुली थी कि मोटा लंड आराम से अंदर बाहर हो रहा था. रूम मे मोम की चूत से निकलने वाली पच पच की आवाज़ गूँज रही थी आधा घंटा चोदने के बाद मोम के भाई ने लंड बाहर निकाल लिया और बेड से उठ गये.मोम भी तेज़ी से उठी और नीचे बैठ गईं और लंड को जल्दी से मुँह मे ले के चूसने लगीं. 1/2 मिनट के बाद मोम के भाई का लंड झटके खाने लगा और अपना माल छोड़ने लगा. जब सारा पानी निकल गया तो मोम ने वो पानी पी लिया और जो ड्रॉप्स लंड पे लगे रह गये थे उन्हें बहुत महारत से चाट कर साफ कर दिया.


अब आगे.......



इधर मेरी चूत के पानी से शलवार गीली हो रही थी.मोम ने कहा अब मैं चलती हूँ कहीं किरण के पापा ना उठ जाएँ ये कह कर उन्होने जल्दी जल्दी कपड़े पहने और रूम से निकल गईं. मोम के भाई ने डोर बंद किया और अपने मुरझाए हुए लंड को हाथ मे पकड़ कर बाथ रूम मे चले गये. जैसे वो बाथरूम मे गये मैं भी विंडो से बाहर गॅलरी मे आ गई और वहाँ से अपने रूम मे आ गई.

रूम मे आ कर मैने हॅंडी कॅम से फिल्म निकाल कर अपनी अलमारी मे रख दी और सो गये. सुबह नाश्ते पर मैने नोट किया कि मोम बहुत हॅपी मूड मे थी.नाश्ता करने के बाद पापा तो जो थोड़े बहुत छोटे छोटे काम रह गये थे वो करने लग गये जब कि मैं अपने रूम मे आ गई और शाम के लिए ड्रेस निकाल कर रेडी किया. कुछ और गेस्ट्स भी घर पे पहुँच गये थे और मोम उन को कंपनी दे रही थी .

दोपहर मे मोम ने मुझे बुला कर कहा कि आज किचिन का काम ज़्यादा है मिल कर कर लेती हैं और यूँ मोम और मैने खाना बनाया.दोपहर का खाना खाने के बाद पापा मेरे पास आए और मुझे कहा किरण मैं तुम्हें पार्लर ले चलता हूँ वहाँ से फ्री होने तक शाम हो जाएगी और उस वकत तक लड़के वाले भी आ जाएँगे और टाइम ज़ाया किए बाघैर जल्दी ही सारा काम हो जाए तो बेहतर है. मैने कहा मैं मोम के साथ चली जाती हूँ. पापा ने कहा तुम्हारी मोम नही जा रही उस ने मुझे कहा है तुम्हें पार्लर ले जाने को.

मेरे फेस पर मुस्कराहट आ गई और मैने कहा पापा मुझे पता है मोम क्यूँ नही मेरे साथ जा रही. पापा ने हैरान होते हुए पूछा क्यूँ?

मैं अपनी अलमारी मे से फिल्म निकाल कर लाई और पापा को दिखाते हुए कहा मेरा शक सही था इस फिल्म मे कल रात मोम और उन के भाई के दरम्यान होने वाले प्यार की दास्तान है. कल रात को मोम आप के रूम से उठ कर अपने भाई के रूम मे आ गईं थी और वहाँ 2 जिस्मो के दरमिया जो कुछ हुआ वो इस फिल्म मे है. 

पापा ने एग्ज़ाइटेड होते हुए कहा चलो पहले इस फिल्म की रेकॉर्डिंग देखते हैं. 

मैने पापा के करीब हो कर उन को झप्पी डाल दी और अपनी चूत को उन के लंड पर रगड़ के कहा अभी नही बाद मे देख लेंगे. अब देखा उस सुजाता रांड़ का मैं क्या हॉल करती हूँ कैसे उसे इस घर से बाहर निकालती हूँ. अगर उस ने मुझे आपकी पत्नी बनाया है तो अंब आप पर मेरा हक़ है अब मैं आप को उस रांड़ को नही चोदने दूँगी .

पापा मुस्करा पड़े ऑर मेरा चुंबन लेते बोले जैसे तुम्हारी मर्ज़ी मेरी जान अब मैं तुम्हारा हूँ ऑर तुम मेरी हो ओके.

मैने अपने बूब्स पापा की चेस्ट मे दबाते हुए कहा आप को अपना वादा याद है ना? मेरा काम कंप्लीट हो गया है बस आप का कम बाकी है. 

पापा ने भी मुझे अपनी बाहों मे कस के पकड़ते हुए कहा जो हुकम जनाब का और हम दोनो हंस पड़े.

मैं पापा के साथ पार्लर आ गई. जब मैं तैयार हुई तो शाम हो रही थी मैं पापा के साथ घर आई लड़के वाले भी आए हुए थे. मोम ने मुझे देख कर कहा आज तो मेरी बेटी बहुत प्यारी लग रही है.

मैं ये सुन कर ब्लश हो गई. मैने नोट किया कि मोम के भाई की नज़रें मोम की बॉडी पर ही ज़्यादा तर थी और मोम भी उन को अपनी बॉडी का नज़ारा दे रही थी. मैं सोचने लगी कि ये जिस्म की आग भी क्या चीज़ है ये किसी रिश्ते को नही देखती इसे तो बस अपने से मतलब होता है जो भी आप से मिलन कर ले वो ही आप का राजा होता है चाहे वो रिश्ते मे कुछ भी हो. मैं ऐसे ही हालत से गुज़र चुकी थी जब पापा से मैं चुदि नही थी तब मैं परेशान थी कि कैसे कर पाउन्गी मैं उन के साथ लेकिन अब तो पापा के लंड ने मुझे पागल कर दिया था और मैं अपने आप को उन की वाइफ के रूप मे ही देखने लगी थी.


मैं इन सोचो मे डूबी हुई थी कि मोम मेरे पास आई और पूछा किन ख़यालो मे गुम हो? फिर मुझे ले जा के उस लड़के के साथ बैठा दिया और ट्रडीशनल मॅरेज की तरह ये ड्रमई मॅरेज भी हो गई.जिस मे कोई हक़ीकत नही थी लेकिन हर किसी ने अपना किरदार इतने अच्छे से निभाया था कि हक़ीकत का गुमान हो रहा था. फिर खाना लगाया गया सब ने खाना खाया और फाइनली मेरी रुखसती का टाइम आ गया. मैं उस लड़के और उस के घर वालो के साथ होटल आ गई और रात के गहरा होने का वेट करने लगी क्यूँ कि मैं बहुत चुदासी हो रही थी. प्लान के मुताबिक पापा लेट नाइट होटेल मे आएँगे उस टाइम तक मैं कपड़े चेंज कर चुकी थी और नाइटी मे थी. 

पापा ने अंदर आते ही मुझे अपनी बाहों मे भर लिया और अपने होंठ मेरे होंठो पर रख दिया मैं तो कब से तरस रही थी फॉरन से पापा के होंठो को चूसने लगी. पापा नाइटी पर ही से मेरे बूब्स को सहला रहे थे.थोड़ी देर के बाद पापा ने मुझे उठा के बेड पर लिटाया और मेरी नाइटी के बटन खोल दिए और ब्रा क ऊपर से ही बूब्स चूसने लगे मेरी चेस्ट मे तो पापा के गरम लिप्स ने आग लगा दी थी मैने लेटे लेटे ही ब्रा को अपने बूब्स के उपर सरका दिया मेरे गोल गोल बूब्स एक दम उछल कर बाहर आ गये. पापा ने जैसे ही मेरे नंगे बूब्स देखे तो उन पर भूके भेड़िए की तरह हमला कर दिया. मेरे मोटे मोटे निपल हार्ड हो कर बाहर को उभर गये थे जिन्हे पापा मज़े से चूस रहे थे. बीच मे निपल छोड़ कर मेरे बूब्स की गोलियो को चाटते तो मैं मज़े से पागल हो जाती.
Reply
05-23-2019, 12:23 PM,
#25
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
मेरे मुँह से मस्ती भरी आवाज़ें निकल रही थी जो पापा का जोश और बढ़ा रही थी. पापा ज़ोर ज़ोर से मेरे बूब्स को चूस और काट रहे थे काफ़ी देर मे पापा को अपना दूध पिलाती रही फिर पापा रुक गये और अपने कपड़े उतारने लगे मैने भी जल्दी जल्दी नाइटी ब्रा और पैंटी उतार दी. अब हम नंगे थे पापा का लंड किसी गधे के लंड की तरह झूम रहा था मैने जल्दी से लंड को मुँह मे भर लिया और ज़ोर से चूसने लगी. मज़े मे पापा का बुरा हाल था वो भी अपने चुतड़ों का आगे पीछे कर के मेरा मुँह चोद रहे थे काफ़ी देर पापा लंड चुस्वाते रहे फिर मुझे फील हुआ कि उन के लंड की टोपी और मोटी हो रही है लंड को मुँह मे लेना मुश्किल हो रहा था कि अचानक पापा के पानी का सेलाब मेरे मुँह के अंदर बहने लगा. जब पानी निकल गया तब पापा ने अपने लंड को बाहर निकाला. मैं बाथरूम मे गई और मुँह साफ किया और बाहर आई तो देखा पापा बेड पर लेटे हुए थे उन का लंड मुरझाया हुआ था लेकिन उस हालत मे भी काफ़ी लंबा था और मुझे बहुत प्यारा लग रहा था.

पापा ने मुझे लंड को घूरते देख कर पूछा ऐसे क्या देख रही हो? 

मैने कहा देख रही हूँ कि ये तो उल्टी कर के आराम कर रहा है मगर मेरी चूत क्या बने गा उस की आग कैसे बुझे गी. ये कह कर मैने लेग्स खोल के पापा को अपनी गीली चूत दिखाई.

मेरी फूली हुई चूत देख के पापा सिहर उठे और बेड से उठ कर मेरे पास आए और मेरे फेस को ऊपर कर के मेरी आँखो मे देखते हुए कहा तुम्हारी इस टाइट चूत ने तो मुझे पागल बना दिया है.

मैने भी बड़ी अदा से अपने बूब्स को उछालते हुए कहा ये कैसा पागलपन है कि आप को मेरी चूत का ख़याल तक नही है कि ये कितनी गरम हो रही है. पापा ने इस अदा से मस्त हो के अपनी फिंगर मेरी गीली चूत मे डाल दी और थोड़ी देर तक फिंगर को चूत मे रखे रखा फिर बाहर निकाला. उन की फिंगर पर मेरी चूत का पानी लगा हुआ था. पापा ने फिंगर मुझे दिखाई फिर उस सूघा और चाट लिया और कहने लगे जान स्मेल और टेस्ट दोनो का जवाब नही और फिर फिंगर अंदर डाल के फिंगर से चोदने लगे. मैं बहुत हॉट हो रही थी मैने जोश मे आ कर पापा का लंड पकड़ लिया और सहलाने लगी थोड़ी देर मे ही पापा का लंड खड़ा होने लगा. पापा हॉट हो रहे थे पापा ने अपनी फिंगर चूत से निकाल के गान्ड मे डाल दी और गान्ड को फिंगर से चोदने लगे मुझे तो बहुत मज़ा आ रहा था पहली बार गान्ड चुदवाइ थी तब डर लग रहा था लेकिन ये पता नही था कि गान्ड चुदवाने मे कितना मज़ा है.

मैं अपनी गान्ड मे फिंगर को बहुत एंजाय कर रही थी. काफ़ी देर तक पापा फिंगर करते रहे और मैं उन के लंड को सहलाती रही उन का लंड पूरा हार्ड हो कर झटके खा रहा था और मेरी चूत की बेचैनी भी बढ़ती जा रही थी. मैने आख़िर पापा को कहा पापा डाल दें ना. पापा ने मुझे बॅड पर लिटा दिया मेरी लेग्स को ओपन किया फिर अपने लंड को हाथ मे पकड़ के चूत पे टिकाया और ज़ोर का धक्का मारा.मेरी तो चीख निकल गई. लेकिन पापा कहाँ रुकने वाले थे वो ज़ोर ज़ोर से लंड पेलने लगे.

मेरी चूत की वॉल्स ने पापा के गधे जैसे लंड को जकड़ा हुआ था इस लिए पापा को एक्सट्रा मज़ा मिल रहा था. मैं भी चूतड़ उछाल उछाल के पापा के धक्कों का जवाब दे रही थी तकरीबन 1 अवर ये चुदाई प्रोग्राम चलता रहा इस दौरान मैं 3 बार फारिघ् हुई. इतनी लंबी चुदाई से मेरी कमर मे पेन हो रहा था आख़िर पापा के ढाको मे तेज़ी आई और उन के मुँह से अहहोहह की आवाज़ें निकलने लगीं मुझे अपनी चूत मे गरम गरम लावा फील होने लगा. पापा थक कर मेरे ऊपर लेट गये. मैने उन को झप्पी डाल दी और पागलो की तरह किस करने लगी .

थोड़ी देर के बाद हमारी साँसें बहाल हुई तो हम अलग हुए बाथ रूम मे जा कर सफाई की सुबह होने वाली थी पापा ने कपड़े पहने और कहा कि तुम थोड़ी देर रेस्ट कर के तैयार हो जाना इतने मैं घर जा कर वो फिल्म देखता हूँ जो तुम ने अपनी मोम की रेकॉर्ड की है. फिर उस लड़के के घरवालो के साथ घर आ जाना मैने उन लोगो को सब समझा दिया है. मैने कहा ठीक है और पापा मुझे किस कर के चले गये.
Reply
05-23-2019, 12:24 PM,
#26
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
मैं थोड़ी देर आराम करने के लिए लेट गई वैसे भी ये घर तो था नही जहाँ मेरा टाइम पास हो जाता. मैं लेटे लेटे सोच रही थी कि पापा से मोम को तलाक़ दिलवाने वाली बात कर के मैने अच्छा किया या बुरा. लेकिन मेरा फ़ैसला भी ठीक था क्यूँ कि जिस तरहा मोम ने मुझे पापा के साथ मिल के पापा से चुदवाया था उस से मेरा फ्यूचर तो ख़त्म हो गया था. मैं नही चाहती थी कि मोम को इस हरकत की सज़ा ना मिले. इसी सोच में टाइम गुज़रने लगा और 7 बज गये मैं उठ कर बाथरूम मे आई और काफ़ी देर तक नहाती रही फिर मैने कपड़े पहने और बाहर आ कर मेक अप किया और ज्वेलरी पहन के तैयार हो गई.

पापा ने फ़ोन कर के मेरी तैयारी का पूछा तो मैने कहा मैं रेडी हूँ. तकरीबन 10 बजे हम लोग होटेल से निकले और थोड़ी देर मे घर पहुँच गये. घर मे कुछ गेस्ट अभी भी थे जिन्हो ने आज चले जाना था. मैने रिवायती दुल्हनो का ड्रामा प्ले किया जो सुहाग रात गुज़ार के पहली दफ़ा घर आती है. रात तो मैने कल मनाई थी लेकिन वो मेरी सुहाग रात नही थी और जिस को दुनिया मेरा हज़्बेंड समझ रही थी उस से मेरा कोई रीलेशन नही था बल्कि कल रात भी पहले की कई रातो की तरह मेरे पापा मेरी चूत मे लंड पेलते रहे थे. कुछ देर के बाद गेस्ट जाना शुरू हो गये दोपहर तक सब चले गये सिवाए उस लड़के और उस के घर वालो के जिस के साथ मेरी नकली शादी हुई थी. उन को पापा ने जान कर रोक लिया था ताकि अगर मोम प्यार से बात ना मानें तो उन लोगो को भी बुला लिया जाए ताकि वो गवाह बन जाएँ. 

दोपहर को पापा ने मुझे उन लोगो को कंपनी देने को कहा और खुद मोम के भाई और मोम को ले कर रूम मे चले गये. थोड़ी देर के बाद पापा आए और मुझे अपने साथ चलने को कहा मैं उठ कर उन के साथ रूम मे आ गई . अंदर का मंज़र ही निराला था मोम रो रही थी और उन के भाई मुँह लटकाए बैठे थे. 

मुझे देखते ही मोम ने पापा से कहा ये रंडी भी तो चुदवाति है आप से जब ये अपने बाप से चुदवा सकती है तो अगर मैं ने भाई से चुदवा लिया तो क्या बुरा हो गया. मेने भी पापा का साथ देते हुए कहा सुजाता मैं तो अपने पति से चुदवाति हूँ पर तू अपने भाई से चुदवाति है मेने तेरे सामने ही इनसे शादी की थी ऑर फिर तेरे सामने ही मेने पहली बार इनसे चुदवाया था. हर पत्नी अपने पति से चुदवाति है तूने खुद ही मुझे अपनी सौतन बनाया था अब ये तेरा पति अब मेरा पति है. ऑर मैं नही चाहती कि मेरा पति तेरे जैसी रंडी को चोदे .


मोम के भाई फॉरन बोले अरे वाह जीजा जी आप तो छुपे रुस्तम निकले और हमे धमका रहे हैं.

पापा ने उन की बात सुन कर उन को गाली देते हुए कहा ये सब भी तेरी रंडी बेहन का किया हुआ है बेहन के दलाल. चुप कर के बैठा रह वरना बाहर बैठे लोगो को भी बुला लूँगा और तू घर जाने की बजाए सीधा रॅप केस मे जैल जाएगा और किसी को मुँह दिखाने लायक नही रहेगा. पापा ने कहा तुम लोगो के पास 2 रास्ते हैं. 1 तो ये कि मैं बाहर बैठे लोगो को बुला के तुम्हारा ये चुदाई का प्रूफ दिखा देता हूँ और तेरी बेहन को तलाक़ दे दूँगा. 2 ये कि तलाक़ तो मैं दूँगा लेकिन तू तलाक़ के बाद चुप चाप अपनी बेहन को ले जा और फिर कभी अपनी शकल ना दिखाना. पापा ने कहा तुम लोगो के पास सोचने के लिए 30 मिनट हैं और फिर मुझे कहा तुम यहाँ से जाओ. मैं वहाँ से चली आई थोड़ी देर क बाद पापा आ गये और हम लोगो के साथ बैठ गये. पापा ने उस लड़के की माँ को एक चेक दिया और उन का थॅंक्स अदा किया. 

उन लोगो ने पापा से कहा अब हम जाना चाहते हैं.पापा बोले थोड़ी देर रुक जाएँ. कुछ देर के बाद मोम और उन के भाई आए. मोम के भाई के हाथ मे सूटकेस था जिस मे मोम के कपड़े और ज्वेलरी थी वो लोग बाघैर किसी से मिले और कुछ कहे जाने लगे तो मैं एक मिनट मे आने का कह कर उठ गई और मोम को डोर के पास रोक कर कहा आप ने मेरी लाइफ बर्बाद की थी कैसा रिज़ल्ट मिला आप को? आप क्या समझती थी कि आप ही प्लान बना सकती हैं? अब अपने दलाल भाई की दलाली मे अपनी चूत की आग रोज़ ने लोगो से मिटवाना. रंडी तो आप शुरू से थी जो उस मे कमी रह गई थी अब पूरी कर लेना.
Reply
05-23-2019, 12:24 PM,
#27
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
मोम ने मुझे गुस्से से देख कर कहा ये तू ने अच्छा नही किया. 



मैने जवाब दिया पहले भी एक बार आप ने मुझे ये ही कहा था और उस का बदला बहुत ही बुरा लिया था इस बार मैने आप को हमेशा के लिए बाहर निकलवा दिया ता कि आप फिर कोई और बदला ना ले पाएँ. और हाँ आप को तलाक़ दिलवाने का काम पापा की लाइफ मे आने वाली दूसरी औरतें ना कर पाई वो मैने कितने थोड़े टाइम मे कर दिया. मेरी बातें सुन कर मोम मुझे गालियाँ देती हुई बाहर निकल गई और मैं डोर बंद कर के आ गई. थोड़ी देर के बाद वो लड़का जिस से मेरी नकली शादी हुई थी और उस के घर वाले भी पापा से ये वादा कर के (अगर आगे भी पापा को उन की ज़रूरत पड़ी तो वो पापा की हेल्प करेंगे और बदले मे पापा भी उन की पैसो से हेल्प करेंगे) चले गये. 



अब हम घर मे अकेले थे पापा ने मुझे कहा जान तुम खुश हो मैने अपना वादा पूरा कर दिया. मैने मुस्करा के कहा मैं बहुत खुश हूँ अब हमे कोई डर नही है. पापा ने कहा आज से तुम मुझे पापा नही कहोगी आज से हम दुनिया वालो के सामने हज़्बेंड और वाइफ हैं. मैने कहा आप ही मेरे हज़्बेंड हैं और मैं आप की वाइफ और हम दोनो हँसने लगे.पापा ने कहा आज हम बाहर घूमने जाएँगे और रात का खाना बाहर खाएँगे. मैने खाना बनाया खाने खाने के बाद पापा रेस्ट करने लगे मैं घर की सफाई करने लगी.शाम को मैं नहा धो के तैयार हुई और पापा को उठा के बाथ लेने भेजा मैं उन के कपड़े पहले ही रेडी कर चुकी थी. हम लोग बाहर घूमने निकले काफ़ी देर तक न्यूली मॅरीड कपल की तरह फिरते रहे फिर खाना खाया और घर आए.



घर आते ही पापा ने मुझे उठा लिया और रूम मे ले जाने लगे लगे मैने कहा मुझे छोड़ के आप रूम मे जाए मैं अभी आई.



पापा ने मुझे छोड़ दिया और रूम मे चले गये.मैं किचिन मे आई और दूध गरम कर के ग्लास मे डाला. फिर मेरे ज़हन मे आइडिया आया मैने अपने कपड़े उतारे और नंगी हो गई और दूध का ग्लास ले के रूम मे आई. मैं पापा को देख के बहुत हैरान हुई पापा भी नंगे बेड पर लेटे थे और उन का लंड खड़ा हो के उन के पेट को लग रहा था. मुझे नंगा देख के तो पापा बहुत खुश हुए फिर मेरे हाथ मे दूध का ग्लास देख कर बोले जान इस की क्या ज़रूरत थी.



मैने मुस्करते हुए ग्लास पापा को दिया और उन का लंड पकड़ कर प्यार से कहा दूध की ज़रूरत इस को है ये इतनी मेहनत जो करता है.



पापा ने फॉरन जवाब दिया इस को इतनी टाइट चूत और गान्ड मिली है इस लिए ये खुशी से मेहनत करता है. 



मैने पापा के पी होल को सहला कर पापा से कहा आप भी सोचते होगेकि मैं कितनी चुदक्कड़ हूँ हर टाइम चुदवाने को तैयार रहती हूँ. 



पापा दूध पी चुके थे उन्होने मेरे निपल को पिंच करते हुए कहा ये तो अच्छी बात है अगर तुम मेरा साथ ना देती तो हमारी मॅरीड लाइफ शुरू मे ही बोर हो जाती. 



मैने जवाब दिया मैं जानती हूँ कि आप को मेरे जिस्म की ज़रूरत है और मैं मोम वाली ग़लती नही करना चाहती और जब मैं आप से चुदवा ही चुकी हूँ तो बार बार चुदवाने मे शरम कैसी जब मेने आप को दिल से अपना पति मान लिया है तो फिर चुदवाने में कैसी शर्म अब आप ही मेरे सब कुछ हैं और जितना प्यार आप मुझे देते हैं मेरा भी तो फ़र्ज़ बनता है उतना प्यार आप को देने का.



मेरी ये बात सुन कर पापा थोड़ी देर खामोश हो गये फिर बोले जान एक बात से मैं परेशान हूँ. 



मैने पूछा क्या बात है? 



पापा ने कहा तुम एज मे बहुत छोटी हो और मैं काफ़ी बड़ा हो पता नही मैं तुम्हें खुश रख पाउन्गा कि नही.



मैं पापा के लंड को छोड़ कर उन की चेस्ट से चिपक गई और कहा एज से क्या फरक परता है अगर मैं आप से खुश ना होती तो मोम को क्यूँ निकलावाती ?आप का ये केला तो बहुत ही मस्त ही मेरा तो दिल करता हैं अब आप से चिपकी रहूं मैं तो चाहती हूँ कि आप से पूरा पूरा मज़ा लूँ.फिर मैं पापा के सामने बैठ गई और लेग्स को ओपन कर के अपनी चूत के लिप्स देखते हुए कहा आप तो अभी भी जवान हैं आप के लंड का असर है जिस ने थोड़े दिनो मे मेरी चूत को निखार दिया है. कुछ दिन पहले तक मेरी चूत के लिप्स अंदर को थे और चिपके हुए थे लेकिन जब से आप का लंड लिया है देखें ये कैसे उभर गये हैं लाइफ का असल मज़ा तो अब मिला है. 



पापा बोले रियली? 


मैने उन को झप्पी डाल दी और कहा यस. हम दोनो के नंगे जिस्म साथ मिले हुए थे आज की रात के प्यार का मज़ा ही अलग था पहली बार जब करवा रही थी तो ज़हन मे बहुत सी बातें थी कि ये काम ग़लत है, कैसे करवा पाउन्गी पापा से? और जब पापा का गधे जैसा लंड पहली बार देखा था तो डर लग रहा था कि ये इतना लंबा मोटा है मेरी चूत तो फाड़ के रख दे गा. लेकिन अब तो बस जल्दी से लंड को चूत मे ले के प्यार करने का मन कर रहा था.
Reply
05-23-2019, 12:24 PM,
#28
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
मैने उन को झप्पी डाल दी और कहा यस. हम दोनो के नंगे जिस्म साथ मिले हुए थे आज की रात के प्यार का मज़ा ही अलग था पहली बार जब करवा रही थी तो ज़हन मे बहुत सी बातें थी कि ये काम ग़लत है, कैसे करवा पाउन्गी पापा से? और जब पापा का गधे जैसा लंड पहली बार देखा था तो डर लग रहा था कि ये इतना लंबा मोटा है मेरी चूत तो फाड़ के रख दे गा. लेकिन अब तो बस जल्दी से लंड को चूत मे ले के प्यार करने का मन कर रहा था.

पापा भी और वेट करने के मूड मे नही थे उन का लंड भी झटके खा रहा था उन्होने मुझे अपने साथ लिटा लिया और मेरे होंठो पर अपने होंठ रख दिए और मेरे होंठ चूसने लगे साथ मे वो मेरे बूब्स भी दबा रहे थे. 

मैं भी उन का साथ दे रही थी हम दोनो एक दूसरे मे गुम ज़ोर ज़ोर से एक दूसरे के होंठो का रस पी रहे थे. काफ़ी देर तक हम किस्सिंग करते रहे फिर पापा मेरे बूब्स पर आ गये और उन्हें ज़ोर ज़ोर से मसल्ने दबाने लगे मज़े से मेरी तो हालत ही बुरी हो रही थी और नीचे मेरी चूत गरम हो के पानी पानी हो रही थी. मेरे मोटे मोटे निपल हार्ड हो गये थे जिन्हे पापा पिंच करते तो मेरी मज़े के मारे मुँह से आह निकल जाती. मैं लेटी हुई थी और पापा मेरे बराबर बैठे अपनी बेटी के बूब्स से खेल रहे थे उन का लंबा लंड खड़ा हो कर किसी भयनक साँप की तरह फूँकार रहा था. 

मुझे लंड को घूरती देख कर पापा ने पूछा ऐसे क्या देख रही हो? 

मैने बड़ी अदा से कहा आप का लंड तो बहुत ताकतवर है एज ने भी इस पर असर नही किया.

इस पर पापा ने हँसते हुए कहा ये पता नही कितनी चूतो की सैर कर चुका है, बहुत सी चूतो का दूध पी चुका है इसी लिए तो ये जवान है लेकिन जो मज़ा तुम्हारी कंवारी टाइट चूत की सील तोड़न का इस को मिला था वो किसी और चूत ने नही दिया इस को. इसी लिए तो ये तुम्हारी चूत का गुलाम हो गया है. मेरा दिल पापा के लंड को चूसने का कर रहा था मैने कहा पापा आप अब रुकें मैं आप के लंड को चूस के चुदाई के लिए तैयार करती हूँ. पापा रुक गये जैसे ही मैं उठने लगी पापा ने मुझे लेटे रहने का इशारा किया और मेरे सिर के नीचे 2 पिल्लो और रख कर सिर को उँचा किया और मेरी चेस्ट पे चढ़ कर लंड को मेरे होंठो से लगा दिया. मैं तो लंड चूसने के लिए बेताब थी मैने जल्दी से मुँह खोला और लंड की टोपी मुँह मे ले ली. पापा ने मुझ पर चढ़े हुए ही लंड को आगे पीछे करना करना शुरू कर दिया.हम दोनो को बहुत मज़ा आ रहा था. पापा की बॉल्स लंड के अंदर बाहर होने से मेरी चिन से टकरा रही थी.

काफ़ी देर लंड से पापा मेरे मुँह को चोद कर हटने वाले थे कि मैने उन को कहा कि आप मेरे फेस पर थोड़ा ऊपर हो जाएँ.पापा ने ऐसा ही किया अब उन की बॉल्स मेरे फेस से कुछ फ़ासले पर लटक रही थी मैने अपनी ज़ुबान निकाली और बॉल्स पर फेरना शुरू कर दी. पापा तो मस्त हो रहे थे काफ़ी देर तक पापा की बॉल्स चाटने के बाद जब मैं थक गई तो रुक गई पापा समझ गये और मेरे फेस पर से हट गये. पापा भी मेरे साथ ही लेट गये और मेरी नेक, फेस पर किस करने लगे मेरा तो बस नही चल रहा था कि मैं किसी तरह लंड को चूत मे ले लूँ. 

पापा अपनी ज़ुबान से मेरे बूब्स चाट रहे थे और दरम्यान मे मेरे निपल को दाँतों से काट लेते थे. मेरे पूरे जिस्म मे करेंट दौड़ रहा था मैं बहुत चुदासी हो रही थी और चुदवाने के लिए तड़प रही थी लेकिन लगता था पापा अभी लंड पेलने के मूड मे नही थे वो मेरे बूब्स छोड़ के मेरी आर्म्पाइट्स(बगलों को सूंघने और चाटने लगे और मुझ से बोले जान तुम्हारे पसीने की स्मेल और टेस्ट तो मुझे पागल कर देते हैं.थोड़ी देर मेरी बगलों को चाटने के बाद पापा मेरे पेट(बेल्ली) पर किस्सिंग करने लगे और आहिस्ता आहिस्ता सरकते हुए मेरी चूत पर आ गये मेरी लेग्स क्लोज़ थी इस लिए मेरी चूत की सिर्फ़ लाइन नज़र आ रही थी

पापा उस लाइन पे ज़ुबान फेरने लगे मज़े की वजह से मैने अपनी लेग्स खोल दी पापा ने चूत पर होंठ रख दिए और स्लो स्लो चाटने लगे मैं मस्ती से अपने चूतड़ पटक रही थी जैसे ही पापा ने मेरी चूत की क्लिट को होंठो से दबा के चूसा मुझे लगा मैं और कंट्रोल नही कर सकूँगी और ये ही हुआ मेरा जिस्म अकड़ने लगा और चूत ने जूस बाहर निकलना शुरू कर दिया. मेरी आँखे बंद थी और पापा अपनी ज़ुबान से चूत के जूस को चाट रहे थे. जब पानी निकल गया तो पापा ने मुझे उल्टा लिटा दिया और मेरे चुतड़ों को चाटने लगे फिर हाथ से मेरे चुतड़ों को फेला कर अपनी ज़ुबान से गान्ड के होल को चाटने लगी. मज़े से मेरे मुँह से सिसकारिया निकल रही थी और मैं चूतड़ उठा उठा के पापा से अपनी गान्ड का होल चटवा रही थी. पापा की ज़ुबान के जादू से मैं फिर से गरम हो रही थी जब पापा अच्छी तरह गान्ड चाट चुके तो बोले क्या ख़याल है लंड को तुम्हारी चूत की सैर करवाई जाए?
Reply
05-23-2019, 12:24 PM,
#29
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
मैने फॉरन कहा जल्दी डाल दें अपने इस लंड को मेरी चूत मे मुझ से अब और सहा नही जाता पापा.

पापा मुस्करा के बोले ऐसे नही आज तुम्हरी चूत मे लंड नये अंदाज़ से पेलुँगा. ये कह के पापा सीधी लेट गये और हाथ से पकड़ के लंड को सीधा खड़ा किया और मुझे कहा लंड को चूत के होल पे सेट कर के इस पे बैठ जाओ.

मैं पापा के उपर आ गई लंड को चूत पे सेट किया और स्लो स्लो बैठने लगी. पापा का लंड मोटा और लंबा होने की वजह से बहुत दिक्कत से स्लो स्लो अंदर जाने लगा पापा ने मेरी कमर को पकड़ा और लेटे लेटे अपने चूतड़ उछाल कर एक ज़ोर का धक्का मारा और लंड पच की आवाज़ से अंदर चला गया. मैने कहा हाइईईईई मर गई आराम से डालें . 

पापा ने मेरे चूतड़ पर थप्पड़ मार के कहा कंजरी लंड तो चला गया तेरी भोसड़ी मे बहुत लंड लंड कर रही थी अब लंड का मज़ा इस पर ऊपर नीचे हो कर ले.पापा के मूह से कंजरी शब्द सुन कर मुझे बड़ा मज़ा आया तो मैं पापा से बोली हाँ आप की कंजरी हूँ आप की रंडी हूँ मेरे राजा लो करवा दो मुझे अपने इस मस्त मोटे लंड की सैर ऑर मैं लंड पर बैठ कर ऊपर नीचे होने लगी . क्यूँ कि मैं लंड पे बैठ के अंदर लंड अंदर ले रही थी इस लिए लंड जड़ तक मेरी चूत की गहराई में जा रहा था मुझे इस से बहुत मज़ा मिल रहा था लंड जब मेरी चूत मे आता तो मैं उस को चूत की वॉल्स से दबा देती जिस से पापा को बहुत मज़ा आता काफ़ी देर तक इसी तरहा मेरी चुदाइ होती रही फिर पापा ने मुझे लंड पे से उठने को कहा. 

मैं लंड पर से उठ गई पापा का लंड मेरी चूत के माल से सना हुआ था. पापा उठे और मुझे झुका कर मेरी गान्ड के होल पी हाथ फेरने लगे मैं समझ गई थी कि अब मेरी गान्ड चोदेन्गे.और वोही हुआ पापा ने पहले मेरी गान्ड मे थोड़ी देर फिंगर की फिर अपना थूक(सलाइवा) मेरी गान्ड के होल मे लगाया और लंड की टोपी होल पर रख दी. फिर मेरी कमर पकड़ के धक्का मारा लंड टोपी तक अंदर घुस गया.मेरी गान्ड ने लंड को जकड़ा हुआ था पापा ने मेरे बूब्स पकड़ लिए उन को दबाने लगे थोड़ी देर के बाद पापा ने एक और धक्का मारा और लंड मेरी गान्ड मे रगड़ता हुआ अंदर जाने लगा. धक्का इतना ज़ोर का था कि मैं लड़खड़ा गई लेकिन पापा ने मुझे मेरी कमर को मज़बूती से पकड़ा हुआ था जिस की वजह से मैं सम्भल गई. 

पापा लंड को पेलने लगे थे पहले थोड़ी देर स्लो स्लो लंड पेलते रहे मुझे भी मज़ा आने लगा था मैं भी अपने चूतड़ पीछे की तरफ उछाल उछाल के लंड को अंदर ले रही थी. लंड अब आराम से अंदर बाहर हो रहा था.पापा ने भी स्पीड बढ़ा दी थी हम दोनो के जिस्म पसीने से भीग गये थे हम दोनो के पसीने की स्मेल ने माहौल को और भी रोमेंटिक बना दिया था हम एक दूसरे मे गुम थे और ये भूल गये थे कि हमारा रिश्ता क्या है हम तो सब भूल के एक दूसरे को प्यार दे रहे थे.

थोड़ी देर और पापा ने मेरी गान्ड को चोदा फिर लंड निकाल कर पीछे से ही मेरी चूत मे डाल दिया. मेरी चूत तो पहले ही गीली हो रही थी इस लिए आसानी से लंड को निगल गई. पापा बहुत मेहनत से लंड चूत मे पेलने लगे साथ में मेरे बूब्स भी दबा रहे थे ऊपर नीचे के इस मज़े से मैं तो पागल हुई जा रही थी थोड़ी देर मे ही मैं और पापा एक साथ फारिघ् हो गये.

हम दोनो की साँसें तेज़ थी जब पापा ने लंड बाहर निकाला तो मैं जल्दी से बेड पर लेट गई क्यूँ कि मैं बहुत थकावट फील कर रही थी .पापा भी मेरे साथ लेट गये हम दोनो ने थोड़ी देर रेस्ट किया फिर उठ के बाथ रूम गये वहाँ सफाई की और बेड पर एक दूसरे को झप्पी डाल के नंगे ही सो गये.
Reply

05-23-2019, 12:24 PM,
#30
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
मोम के जाने से हम लोग आज़ाद हो गये थे हमने वो शहर छोड़ दिया ऑर हम एक दूसरी जगह आ कर रहने लगे किसी का डर नही था इस लिए पापा ने मुझे वहाँ सब सब लोगो के सामने अपनी वाइफ ही शो किया था. मेरे और पापा का रियल रिश्ता जो कुछ भी था इस से अब कोई फरक नही परता था क्यूँ कि अब तो मैं पापा की वाइफ की कमी को पूरा कर रही थी पिछले दिनो जो कुछ भी हुआ था उस के बाद अब हमारे दरमियाँ जो बाप-बेटी का रीलेशन थोड़ा बहुत था अब वो बिल्कुल ख़त्म हो गया था. अब तो हम खुल कर हज़्बेंड और वाइफ बन चुके थे. लाइफ ने अजीब मोड़ लिया था मैं पापा को रियल हज़्बेंड की तरह चाहने लगी थी. उन की ज़रूरतों का ख़याल रखती पापा भी मेरा पूरा साथ दे रहे थे और अपने मज़े की सारी सेक्सी आक्टिविटीस को छोड़ कर मुझे वाइफ बना कर हज़्बेंड का प्यार दे रहे थे. हमारी लाइफ बहुत अच्छी चल रही थी दिन रात प्यार भरी चुदाई का सिलसिला शुरू हो चुका था पापा के लंड की मेहनत से मेरा जिस्म भरने लगा था मेरे बूब्स पहले से बड़े हो गये थे गान्ड भी उभर के बाहर निकल आई थी और चूत भी कली से खिल के पूरा फूल बन गई थी.

मैं अब दिखने मे अपनी एज से बड़ी लगने लगी थी. चुदाई का ये सिलसिला 1 मंत और चला कि मेरी तबीयत एक दिन खराब हो गई. पापा ऑफीस मे थे कि अचानक मुझे वॉमिटिंग होने लगी मैने पापा को फ़ोन कर के अपनी तबीयत का बताया तो पापा लीव ले कर घर आ गये और मुझे डॉक्टर के पास ले गये. डॉक्टर ने कुछ टेस्ट कर के पापा को बताया कि आप की वाइफ प्रेगनेंट है. पापा तो ख़ुसी से पागल हो गये थे जब कि मैं बहुत ब्लश हो गई थी डॉक्टर की बात सुन कर. घर आ कर पापा ने मुझे झप्पी डाल कर मेरे लिप्स पर किस करते हुए कहा जान तुम ने मुझे आज बहुत बड़ी खुशी दी है. मेरी प्रेग्नेन्सी स्टार्ट हो गई थी इस हालत मे पापा ने मेरे काम करने पर पाबंदी लगा दी थी और एक मैड को घर के काम के लिए रख लिया था.

पापा बहुत खुश थे मेरे आराम का पूरा पूरा ख़याल रख रहे थे. सेक्स मे भी पापा ने पूरी तरहा केयर की थी जिस की मुझे उम्मीद नही थी. लेकिन हमें अपने बेबी के लिए केयर तो करनी ही थी. प्रेग्नेन्सी के इस पीरियड मे पापा मेरे बूब्स चुसते,चूत और गान्ड चाटते जिस के जवाब मे मैं उन के लंड को चूस्ति थी. हमारे पास एक दूसरे को प्यार देने का ये रास्ता तो ओपन था ही. कुछ मंत्स तो ऐसे ही चलता रहा लेकिन इस तरह चूत और लंड की आग कम तो नही हो सकती थी. इतने अरसे चुदाई के बगैर मेरी तो हालत ही खराब थी दूसरी तरफ पापा का भी ये ही हाल था. प्रेगञेंसी के दिनो मे पापा का जब दिल चाहता वो मेरी गान्ड मार क अपने लंड की आग बुझा लेती. मुझे भी गान्ड मारने की आदत हो गई थी और मुझे इस मे बहुत मज़ा आने लगा था. मैने पापा से वादा लिया कि वो बच्चा होने के बाद भी चूत के साथ मेरी गान्ड भी मारा करेंगे.

पापा ने शलवार के अंदर हाथ डाल कर मेरी गान्ड के होल को सहला कर कहा जान तुम्हारी गान्ड है ही इतनी मस्त कि अगर तुम ना भी मरवाने का कहती तो तब भी मैं तुम्हारी गान्ड मारता. क्यूकी मेरी गान्ड अब काफ़ी भर गयी थी ऑर बाहर की तरफ निकल आई थी 9 महीने कब गुज़रे पता ही नही चला और मैने एक बच्चे को जनम दिया. पापा और मैं दोनो बहुत खुश थे. अब बच्चे के होने की वजह से काम बढ़ गया था इस लिए पहले की तरह रोज़ चुदाई नही हो पाती थी लेकिन पापा और मैं वीक में 3/4 बार में सारी कसर निकाल लेते थे.वो उस रात मुझे सोने ही नही देते थे मेरा फिगर पहले से भी भरा और खूबसूरत हो गया था. गान्ड भी एसी हो गई थी कि जब मैं चलती तो लोग खुद मेरी गान्ड पे गौर करते .


लाइफ मे ठहराव आता जा रहा था इसी तरह. 1 साल के बाद मैं फिर प्रेगनेंट हो गई इस बार हमारे लड़की पैदा हुई. अब 2 बच्चो के साथ काम पहले से डबल था लेकिन हम खुश थे. इसी तरह मेरी और पापा की चुदाई की निशानियाँ यानी हमारे बच्चे बड़े हो गये और उन की स्कूलिंग स्टार्ट हो गई. अब मैं एक टिपिकल हाउस वाइफ हूँ पापा और बच्चो के साथ खुश हैं.
अपने कॉमेंट्स मे ज़रूर बताइयेगा कि आप लोगो को मेरी स्टोरी कैसी लगी.
Reply


Possibly Related Threads...
Thread Author Replies Views Last Post
Star College Girl Sex Kahani कुँवारियों का शिकार sexstories 56 200,567 09-24-2021, 05:28 PM
Last Post: Burchatu
Thumbs Up Porn Story गुरुजी के आश्रम में रश्मि के जलवे sexstories 116 893,960 09-21-2021, 07:58 PM
Last Post: nottoofair
  Mera Nikah Meri Kajin Ke Saath desiaks 8 49,692 09-18-2021, 01:57 PM
Last Post: amant
Thumbs Up Antarvasnax काला साया – रात का सूपर हीरो desiaks 71 36,246 09-17-2021, 01:09 PM
Last Post: desiaks
Lightbulb Kamukta kahani कीमत वसूल desiaks 135 546,624 09-14-2021, 10:20 PM
Last Post: deeppreeti
Lightbulb Maa ki Chudai माँ का चैकअप sexstories 41 349,328 09-12-2021, 02:37 PM
Last Post: Burchatu
Thumbs Up Antarvasnax दबी हुई वासना औरत की desiaks 342 293,472 09-04-2021, 12:28 PM
Last Post: desiaks
  Hindi Porn Stories कंचन -बेटी बहन से बहू तक का सफ़र sexstories 75 1,015,092 09-02-2021, 06:18 PM
Last Post: Gandkadeewana
Thumbs Up Hindi Sex Stories तीन बेटियाँ sexstories 170 1,363,052 09-02-2021, 06:13 PM
Last Post: Gandkadeewana
Lightbulb Maa Sex Kahani माँ की अधूरी इच्छा sexstories 230 2,579,871 09-02-2021, 06:10 PM
Last Post: Gandkadeewana



Users browsing this thread: 8 Guest(s)