vasna story अंजाने में बहन ने ही चुदवाया पूरा परिवार
01-01-2020, 09:22 PM,
RE: vasna story अंजाने में बहन ने ही चुदवाया पूरा परिवार
(09-03-2019, 06:35 PM)sexstories Wrote: मैं- अरे यार, वो सो रही हैं और हम कौन सा सारे कपड़े उतारकर कुछ करेंगे।

बाजी- भाई, इंसान बनो ड्राइवर ने देख लिया तो वो क्या सोचेगा?

मैं- यार हम उसे कुछ सोचने ही नहीं देंगे उसे भी मजा करवा देंगे और तुम भी दो का मजा ले लोगी एक साथ।

बाजी- नहीं भाई, ये ठीक नहीं है। क्योंकी अम्मी और निदा किसी भी वक्त उठ सकती हैं।

मैं- “यार गाड़ी में अंधेरा है और ड्राइवर को कुछ नजर नहीं आएगा। बाकी अम्मी और निदा भी सो चुकी हैं...”

लेकिन बाजी किसी भी तरह नहीं मान रही थी तो मैंने बाजी को अपने करीब से परे धकेल दिया और बाहर अंधेरे में देखने लगा।

कुछ देर तक मैं ऐसे ही बाहर देखता रहा तो बाजी ने अपना हाथ मेरे लण्ड पे रखकर हल्का सा दबा दिया। मैंने बाजी की तरफ देखा जो कि मेरी तरफ ही देख रही थी, और हल्का सा मुश्कुरा भी रही थी। अब मैंने ड्राइवर की तरफ देखा और उसे ड्राइविंग में मसरूफ देखकर मैंने बाजी की टांगें पकड़कर सीट पे रख दीं जिससे बाजी गाड़ी में पीछे टेक लगाकर लेट सी गई। क्योंकी गाड़ी काफी खुली थी और बाजी की गाण्ड के नीचे हाथ डालकर बाजी की सलवार को उनके घुटनों तक खींच दिया और उनकी टांगें भी थोड़ी खोल दीं और जल्दी से अपनी सलवार भी नीचे खिसका दी।

फिर अपना लण्ड बाहर निकालकर एक बार फिर से इधर-उधर देखा। लेकिन अम्मी और निदा को मजे से सोता देखकर और ड्राइवर को गाड़ी में मगन देखकर, मैंने अपना लण्ड धीरे से अपनी बहन की फुद्दी पे रख दिया और बाजी की आँखों में देखते हुये अपना लण्ड बाजी की फुद्दी में घुसाने लगा।

लण्ड घुसते ही बाजी ने अपना सिर उठा लिया और अम्मी और निदा की तरफ देखते हुये मुझे जल्दी करने का इशारा करने लगी, तो मैंने भी बाजी की बात मान ली और अपना लण्ड अपनी बहन की फुद्दी में तेजी से । हिलाना शुरू कर दिया और साथ-साथ ड्राइवर की तरफ भी देख लेता। क्योंकी अगर उसे जरा भी हरकत महसूस हो जाती तो मिरर में पीछे देख लेता।

इसी डर और टेन्शन की वजह से मैं दो मिनट में ही फारिघ् होने पे आ गया और जैसे ही मेरा पानी निकलने लगा, मैंने अपना लण्ड फरी बाजी की फुददी से निकाल लिया और फुददी के ऊपर ही अपना सारा पानी गिरा दिया और पीछे हटकर अपनी सलवार बाँधकर बैठ गया। बाजी ने अपने बैग में से टीस्सू निकालकर अपनी फुद्दी पे लगे पानी को साफ किया और कपड़े ठीक करके बैठ गई और गुस्से भरी निगाहों से मेरी तरफ देखने लगी। मैं मुश्कुरा दिया और बाजी का हाथ पकड़कर अपनी तरफ खींच लिया जिससे बाजी मेरे साथ लग के बैठ गई।
वाह दीदी को ड्राइवर भी चोदगा मज़ा आ जायेगा।
Reply
01-01-2020, 10:09 PM,
RE: vasna story अंजाने में बहन ने ही चुदवाया पूरा परिवार
(09-03-2019, 06:35 PM)sexstories Wrote: मैं- अम्मी वहाँ एक पहाड़ी नाला है लेकिन जिस जगह मैं गया था वहाँ थोड़ी जगह प्लेन है तो वहाँ एक छोटा सा तालाब बन गया है थोड़ी देर नहाने से ही सर्दी लगने लगी थी वहाँ।

बाजी- अम्मी हम भी चलें वहाँ?

अम्मी- रहने दो, कोई जरूरत नहीं है वहाँ जाने की।

इसके बाद हम सबने बाहर से लाया हुआ खाना ही खाया और आराम करने अपने रूम में चले गये। रूम में आते ही बाजी ने कहा- “भाई, मुझे भी जाना है वहाँ नहाने के लिए...”

मैंने बाजी का हाथ पकड़कर अपनी तरफ खींच लिया और किस करते हुये बोला- “अरे जाना वहाँ सिर्फ तुम नहाओगी ही नहीं चुदवाओगी भी... क्या समझी?”

बाजी मुझे पीछे धकेलते हुये बोली- “क्यों, मैं भला क्यों करूं वहाँ कुछ भी नहाने के इलावा?”

मैंने बाजी को अपने साथ फिर से जकड़ लिया और बोला- तो मेरी जान यहाँ आई ही क्यों हो?

बाजी ने कहा- मैं तो यहाँ एंजाय करने आई हूँ बस, और कुछ नहीं समझे?

बाजी की बात खतम होते ही मैंने कहा- “तो जान-ए-मान मैं भी तो मजे करने के लिए ही बोल रहा हूँ तुम्हें...”

बाजी हँस दी और बोली- लेकिन पहले मैं वो जगह देखूँगी बाकी सब बाद में...”

मैंने हाँ में सिर हिलाया।

बाजी ने कहा- तो फिर चलो चलते हैं।

मैंने बाजी को खुद से अलग करके बोला- “बाजी क्या आपका दिमाग खराब हो गया है अभी कैसे जा सकते हैं?


बाजी ने कहा- “क्यों अभी क्यों नहीं जा सकते? अभी दोपहर का टाइम है रात नहीं है, जो वहाँ नहीं जा सकते...”

मैंने हाँ में सिर हिला दिया और बाजी के साथ जैसे ही रूम से बाहर निकला तो निदा हमें सामने ही बैठी नजर आ गई।

हम दोनों जैसे ही बाहर निकले तो निदा ने कहा- “भाई तालाब पे ले चलो ना प्लीज़... मुझे भी देखना है."

बाजी ने कहा- ठीक है आ जाओ।

बाजी की बात सुनकर मेरी झांटें भी सुलग गईं, क्योंकी मैं वहाँ बाजी के साथ मस्ती की सोच रहा था। लेकिन अब तो निदा भी साथ चल रही थी तो वहाँ मस्ती क्या खाक होती? और ये सोचकरर बे-दिली के साथ चल दिया।

जैसे ही हम लोग तालाब में पहुँचे तो वहाँ का साफ और ठंडा पानी देखकर बाजी ने कहा- “वाव... भाई कितनी अच्छी जगह है और ये पानी देखो कितना ठंडा और साफ है, दिल करता है कि अभी नहा लू यहाँ..."

इस कहानी में भी दीदी को अकेले या अनजान लोगो के साथ दीदी को चोदना है। बेचारा जो दोस्त काशी दीदी को पटाया बेचारा उसको कुछ नही मिला। मेरा कोई दोस्त ऐसा करदे तो मे अपनी दीदी उसके बाप से भी चुदवा दूँ।
Reply
01-13-2020, 06:06 PM,
RE: vasna story अंजाने में बहन ने ही चुदवाया पूरा परिवार
(09-03-2019, 06:38 PM)sexstories Wrote: अम्मी ने ओके कहा और अपने रूम में चली गई। निदा थोड़ी ही देर में तैयार होकर बाहर आ गई तो उसे देखते ही मैंने दिल में कहा- “साली क्या किसी यार को दिखाने जा रही है अपने आपको या अम्मी के साथ घूमने के लिए जा रही है कामीनी...”

निदा के बाद अम्मी भी तैयार होकर बाहर आ गई तो फरी उठकर बाथरूम की तरफ चल दी।

अम्मी ने कहा- सन्नी आज अगर तुम यहाँ ही रहो अपनी बहन के साथ तो अच्छा है जरा उसका ख्याल रखना।

मैंने अम्मी की तरफ देखकर मुश्कुराते हुये कहा- अम्मी आप कोई टेन्शन नहीं लो। अगर जरूरत हुई तो मैं बाजी को डाक्टर के पास भी ले जाऊँगा।

अम्मी ने हाँ में ही सिर हिलाया और निदा को लेकर घर से निकल गई।

अम्मी और निदा के जाते ही मैं भी रूम में गया और बाजी को जो कि बाथरूम में थी बोला- “यार अम्मी निकल गई हैं, अब तुम भी तैयार होकर निकल आओ...”

बाजी ने दरवाजा खोला और बोली- “यार भाई मैं बस अभी 5 मिनट में आ रही हूँ तैयार होकर, तुम भी तब तक तैयार हो जाओ...”

बाजी सचमुच 5 मिनट में तैयार हो गई और फिर हम दोनों घर को लाक करके बाजार की तरफ जाने लगे। उस वक़्त बाजी के चेहरे पे एक अजीब से खुशी भी नजर आ रही थी मुझे। हम घर से अभी कुछ ही आगे निकले थे कि बाजी ने कहा- “भाई क्या इरादा है, क्या करना है?”

मैंने कहा- “यार यहाँ हमारी तरह कई लोग आए हुये हैं घूमने के लिए, उनमें से ही किसी ना किसी को ले चलेंगे साथ..."

बाजी- पागल हो गये हो क्या? वो क्या समझेगा मुझे?

मैं- यार बाजी, वो आपको ज्यादा से ज्यादा कोई गश्ती ही समझेगा ना... तो क्या फर्क पड़ता है? लोगों को समझने दें, वो कौन सा हमारे जानने वाले होंगे? बस टाइम पास और मजा ही तो करना है।

बाजी- नहीं भाई, ये तरीका ठीक नहीं है। कोई भी मसला बन सकता है?

मैं- यार कुछ नहीं होगा। तुम घबराओ मत। मैं हूँ ना तुम्हारे साथ। ये मेरा सिर दर्द है तुम्हारा नहीं।

हम ये बातें ही कर रहे थे कि बाजी एक साइड पे होकर बैठ गई और बोली- “भाई थोड़ा बैठ जाते हैं यहाँ...”

मैंने देखा कि वहाँ कुछ लड़के जो कि एक 4-5 लड़कों का यूप था, बाजी को ही ताड़ने में लगे हुये थे। मैंने उन्हें नजरअंदाज कर दिया और बाजी की तरफ देखा जो कि किसी तरफ देख रही थी। मैंने बाजी की नजर का पीछा किया तो वहाँ एक स्मार्ट सा लड़का खड़ा बाजी की तरफ देखकर मुश्कुरा रहा था।

मैंने बाजी की तरफ देखकर हल्का सा खाँसी किया तो बाजी ने भी मेरी तरफ देखा और मुश्कुरा दी। मैं समझ गया कि बाजी का दिल किस तरफ झुक रहा है, तो मैंने बाजी को हाँ में सिर हिला दिया।

दीदी को चोदने के लीय सच मे बहुत से मेरे दोस्त भी मरे मरे रहते है सब मील कर दीदी को चोदेंगे तो ठीक से चल भी नही पायेगी। कल मेरे चाचा का बेता घर पर अपने दोस्तो के साथ घर पर दीदी की चुची को ता र रहा दीदी भी एक टांग उठा सोफा पर रख कर अपनी गाड़ दीखा रही थी। जब दीदी बाहर नीकली तो उसके जाते ही
Reply


Possibly Related Threads...
Thread Author Replies Views Last Post
Lightbulb Incest Kahani मेरी भुलक्कड़ चाची sexstories 27 3,726 8 hours ago
Last Post: sexstories
Thumbs Up bahan sex kahani बहना का ख्याल मैं रखूँगा sexstories 85 147,319 02-25-2020, 09:34 PM
Last Post: Lover0301
Star Adult kahani पाप पुण्य sexstories 221 954,274 02-25-2020, 03:48 PM
Last Post: Ranu
Thumbs Up Indian Sex Kahani चुदाई का ज्ञान sexstories 119 87,955 02-19-2020, 01:59 PM
Last Post: sexstories
Star Kamukta Kahani अहसान sexstories 61 227,230 02-15-2020, 07:49 PM
Last Post: lovelylover
  mastram kahani प्यार - ( गम या खुशी ) sexstories 60 149,141 02-15-2020, 12:08 PM
Last Post: lovelylover
Lightbulb Maa Sex Kahani माँ की अधूरी इच्छा sexstories 228 788,964 02-09-2020, 11:42 PM
Last Post: lovelylover
Thumbs Up Bhabhi ki Chudai लाड़ला देवर पार्ट -2 sexstories 146 94,155 02-06-2020, 12:22 PM
Last Post: sexstories
Star Antarvasna kahani अनौखा समागम अनोखा प्यार sexstories 101 212,843 02-04-2020, 07:20 PM
Last Post: Kaushal9696
Lightbulb kamukta जंगल की देवी या खूबसूरत डकैत sexstories 56 31,077 02-04-2020, 12:28 PM
Last Post: sexstories



Users browsing this thread: 2 Guest(s)