बस का सफ़र
11-22-2020, 01:30 PM,
#8
RE: बस का सफ़र
Episode 5 (Part I)

“बद्तमीज़!” नीता ने बुढ्ढे को धक्का देकर अपने बदन से दूर हटाया। जल्दी से अपने साड़ी को नीचे सरका कर अपने ब्लाउज को ठीक करने लगी।





बुढ्ढा घबरा गया। उसका प्राण उसके कंठ में ही अटक गया। उसे पूरा विश्वास था कि नीता जगी हुई है और उसके हरकत का मज़ा ले रही है। पर नीता के प्रतिक्रिया ने उसे भौंचक कर दिया था। जब तक नीता अपने कपड़े को ठीक कर रही थी तब तक वो किंकर्तव्यविमूढ़ सा बगल वाली सीट पर बैठा रहा, मनो उसे लकवा मार दिया हो। उसका बुलंद क़ुतुब मीनार, जो अब भी धोती के बहार था, शाम के सूरजमुखी की तरह नीचे झुक चूका था। उसका दिल इतनी ज़ोर से धड़क रहा था जैसे उसके सीने को फाड़ कर बाहर निकल जायेगा। बुढ्ढे को होश तब आयी जब नीता अपने कपड़े को ठीक कर खड़ी हुई और उसकी गाल पर एक ज़ोरदार तमाचा जड़ दी। 





“हरामखोर! तुम्हारी हिम्मत कैसे हुई मुझे छूने की?” नीता ज़ोर से बोली ताकि बस के बांकी पैसेंजर उसकी आवाज़ को सुन कर जाग जाएं। पर जब नीता ने पीछे मुड़ कर देखा तो उसके होश उड़ गए।  वो पूरे बस में अकेली थी। वो घबड़ा गई।  वो सहम कर सिमट गयी। हे भगवान्! पूरे बस में कोई नहीं है। अगर बुढ्ढे ने मेरे साथ ज़बरदस्ती की तो मैं क्या करुँगी? रात के १ बज रहे थे। दूर दूर तक सड़क पर अँधेरा था। वो चिल्ला कर मदद भी नहीं मांग सकती थी। उसने झट से अपने पर्स से मोबाइल निकाला और रवि को फ़ोन करने लगी।





बुढ्ढा नीता के पैरों पर गिर गया। 





“मैडम, हमको माफ़ कर दीजिये। गलती हो गया। हम आपके पैर पकड़ते हैं, प्लीज हमरा कम्प्लेन नहीं करिये। हमारा कोई सहारा नहीं है। इस बुढ़ापा में हम कहाँ जायेंगे? हमको माफ़ कर दीजिये। बहुत दिन हो गए थे किसी औरत को छुए। आप जैसी सुन्दर औरत बगल में प् कर अपने ऊपर काबू नहीं रख सके। हम भगवान् कसम  कहते हैं मैडम हम जीवन में दुबारा अइसन काम नहीं करेंगे। बस एक बार हमको माफ़ कर दीजिये।” बोलते बोलते बुढ्ढे की आवाज़ भाड़ी हो गयी थी। वो मगरमच्छ के आंसू रो रहा था। नीता समझ नहीं पा रही थी कि क्या करे? रवि का फ़ोन रिंग होने लगा था। नीता ने फ़ोन काट दिया। 





“तुम्हे शर्म नहीं आती ऐसी हरकत करते हुए? तुम्हारे बेटी की उम्र की हूँ मैं।” नीता की आवाज़ में थोड़ी नरमी आ गयी थी। 





बुढ्ढे ने हाथ जोड़ते हुए कहा - “माफ़ कर दीजिये मैडम जी। हम बहक गए थे। आपकी अइसन सुन्दर औरत कभी इतना नज़दीक से नहीं देखे हैं न।” बुढ्ढा भांप गया था की नीता अपनी तारीफ सुन कर खुस हो गयी थी। 





नीता की आवाज़ और नरम हुई “बकवास बंद करो!”





“बकवास नहीं कर रहे मैडम। खलासी हैं, हर दिन सैकड़ों औरत को देखते हैं पर आपकी जैसी बीसो बरस में नहीं देखे हैं।” नीता को बुढ्ढे ने फिर अपनी बातों में फंसा लिया था। 




This is an excerpt from Novel Bus Ka Safar by Modern Mastram. Search Amazon for Bus Ka Safar or Modern Mastram for more.

Reply


Messages In This Thread
बस का सफ़र - by Modern_Mastram - 11-19-2020, 01:51 AM
बस का सफ़र - by Modern_Mastram - 11-19-2020, 02:15 AM
Episode 3 - by Modern_Mastram - 11-19-2020, 02:30 AM
Episode 4 (part 1) - by Modern_Mastram - 11-19-2020, 12:16 PM
Episode 4 (part II) - by Modern_Mastram - 11-20-2020, 03:58 AM
Episode 4 (Part III) - by Modern_Mastram - 11-20-2020, 09:12 AM
RE: बस का सफ़र - by Modern_Mastram - 11-21-2020, 01:04 AM
RE: बस का सफ़र - by Modern_Mastram - 11-22-2020, 01:30 PM

Possibly Related Threads...
Thread Author Replies Views Last Post
  दीदी को चुदवाया Ranu 62 141,678 10-13-2020, 04:36 PM
Last Post: Ranu
  Entertainment wreatling fedration Patel777 48 41,618 09-15-2020, 03:52 PM
Last Post: Patel777
  Fantasies of a cuckold hubby funlover 6 20,414 08-25-2020, 03:17 PM
Last Post: Gandkadeewana
  मेरी बीवी और मेरे बड़े भईया पार्ट 1 - मेरी बीवी का मेरे बड़े भईया से पटना और पहली चुदाई sunilkumar 0 21,428 08-20-2020, 09:06 PM
Last Post: sunilkumar
  Phone sex tips if you’re shy desiaks 0 4,480 08-17-2020, 08:51 PM
Last Post: desiaks
  My Sister and Teacher showed he how to Fuck desiaks 3 11,526 08-14-2020, 09:56 PM
Last Post: Salma
  चुदाई की हसिन रात sakshiroy123 0 8,306 08-14-2020, 06:07 PM
Last Post: sakshiroy123
  Threesome With My Neighbor And Her Ladies Tailor Salma 0 6,533 08-13-2020, 10:19 PM
Last Post: Salma
  शादी में पंजाबी कुड़ी चोद दी! sakshiroy123 0 10,121 08-12-2020, 06:23 PM
Last Post: sakshiroy123
  बिना शादी के सुहागरात ! sakshiroy123 0 10,414 08-12-2020, 06:16 PM
Last Post: sakshiroy123



Users browsing this thread: 1 Guest(s)