Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
05-23-2019, 11:24 AM,
#1
Thumbs Up  Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
पापा से शादी और हनीमून 



हेल्लो फ्रेंड्स मेरा नाम शाजिया है और मैं काफ़ी अरसे से इस फोरम पर हूँ और आप सब की अनमोल कहानियाँ पढ़ रही हूँ ये साइट एक ऐसी जगह है जहाँ सागर में से एक एकमोती खोज कर लाया गया है और यही एक साइट हैं जहाँ पर सबसेकम अधूरी कहानियाँ हैं हालाँकि यहाँ लिखने वाले बहुत कम हैं पढ़ने वाले बहुत ज़्यादा हैं तो मेरा मानना है कि हम सभी रीडर्स का फर्ज़ बनता है कि हम भी आपना रोल सही से अता करें . 

फ्रेंड ये कहानी मेरी सहेली की है जिसने मुझे आरएसएस पर पोस्ट करने के लिए दी है तो अब चलते हैं कहानी की तरफ मेरी दोस्त की ज़ुबानी
Reply

05-23-2019, 11:24 AM,
#2
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
मेरा नाम किरण है और उम्मीद करती हूँ कि ये स्टोरी आप को पसंद आएगी ये स्टोरी दरअसल मेरी और मेरे पापा की है और मैं आज कल उन के साथ उन की वाइफ बन कर रहती हूँ और हमारे 2 बच्चे हैं. सब से पहले मैं अपने फिगर के बारे मे बताती हूँ मेरा फिगर 34-28-36 है. मैं स्टोरी की तरफ आती हूँ कि कैसे ये सिलसिला स्टार्ट हुआ.


मेरी मोम की डेत जब हुई तो मैं बहुत छोटी थी पापा ने दूसरी शादी कर ली मेरी सौतेली मोम जिन्हें मैं स्टोरी में मोम ही कहूँगी बहुत ज़ालिम औरत थी और मुझे पहले दिन से ही पसंद नही करती थी वो मुझे बे बात के मारती इसी तरह मैं मोम की मार खाते खाते बड़ी हुई वो मुझ से घर का सारा काम करवाती मगर प्यार के दो बोल कभी ना बोलती. मोम के कोई बच्चा नही हुआ.कुछ अरसे तक तो मोम और पापा के ताल्लुक़ात ठीक रहे फिर वो एक दूसरे से दूर होने लगे इस की वजह मेरी मोम का बिहेवियर था वो पापा की केर नही करती पापा भी मोम को नज़र अंदाज़ करते हुए दूसरी औरतों में दिलचस्पी लेने लगे. मैं कॉलेज में आ गई थी और सहेलियो से मुझे सेक्स के बारे मे काफ़ी कुछ पता चल चुका था. एक दिन ये हुआ कि मोम के भाई आए हुए थे उन का बिहेव उस दिन कुछ अजीब लग रहा था मैं किसी काम से मॉम की रूम की तरफ गई तो अंदर से मोम के भाई की आवाज़ सुन कर वही रुक गई और उन की बातें सुनने लगी .

मोम के भाई: जल्दी करो आपा मुझे पैसे दे दो .

मोम: मेरे पास पैसे नही हैं तुम्हें शरम नही आती.

मोम के भाई: मैं क्या करूँ किस से मांगू पैसे एक तुम ही तो हो अगर नही दोगि तो मैं जीजा जी को तुम्हारे बारे मे सब बता दूँगा और वो तुम्हें फॉरन तलाक़ दे देंगे.

मोम: प्ल्ज़ ऐसा मत करना ये आखरी बार पैसे दे रही हूँ इस के बाद नही दूँगी.

इस के बाद मोम ने पैसे अपने भाई को दिए और जैसे ही वो पैसे ले के रूम से बाहर आया तो मुझे रूम के बाहर खड़े देख कर पहले थोड़ा घबराया फिर जल्दी से चला गया जब की मोम की हालत देखने वाली थी उन को पता चल गया था कि मैं ने उन की बातें सुन ली हैं. मोम ने अपने आप को संभाला और उस दिन मुझ से कोई सख़्त बात नही की. 

कुछ दिन के बाद मोम के एक कज़िन अंकल रियाज़ जो अक्सर आते थे आए .मोम उन के साथ बहुत फ्रॅंक थीं उस दिन भी मोम के साथ वो रूम मे चले गये और मैं टीवी देखने लगी मैं टीवी देखने में मगन थी और टाइम का पता नही चला मैं ने घड़ी पर टाइम देखा तो दोपहर के खाने का टाइम हो रहा था

मैं जल्दी से उठी और मोम से ये पूछने के लिए कि खाने में क्या बनाना है उन के रूम की तरफ गयी अभी मैं दरवाजे पर ही पहुँची थी कि अंदर का मंज़र देख कर मेरा जिस्म सनसना गया मोम अंकल की गोद में बैठी थीं और अंकल का हाथ मॉम की कमीज़ के अंदर था और वो मोम के बूब्स दबा रहे थे जैसे ही उन दोनो को मेरे आने का अहसास हुआ तो मॉम जल्दी से उठ गई अंकल तो फॉरन वहाँ से चले गये बट मुझे अब समझ में आ गया था कि मों और अंकल के दरम्यान ताल्लुक़ात हैं जिस के बारे मे मोम के भाई को पता था और वो ब्लॅक मैल कर के मोम से पैसे लेता था.
Reply
05-23-2019, 11:25 AM,
#3
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
अंकल के जाने के बाद मैं ने नफ़रत भरी निगाहो से मॉम को देखा और वहाँ से किचिन में आ गई थोड़ी देर बाद मॉम भी किचिन में आ गई और मुझ से कहने लगीं कि मैं पापा को कुछ ना बताऊ लेकिन मैं तो अपने सारे बदले लेने के मूड में थी मैं भला ये चान्स क्यूँ छोड़ती . जब पापा आए तो कुछ देर के बाद मैं उन के रूम में गई और पापा को मोम और अंकल की हरकत के बारे में बता दिया.मोम ने कहा कि मैं झूठ बोल रही हूँ बट पापा गुस्से में आ गये और उन्होने मॉम की एक ना सुनी और मोम को खूब मारा और मैं मुस्कुराते हुए मोम को मार ख़ाता देख कर अपने रूम में आ गई.

मोम की मार का सिलसिला ना जाने कितनी देर चला और मैं सो गई.सुबह जब उठी और नाश्ता बना के टेबल पर लगाया और पापा को नाश्ते के लिए बुलाया तो पापा तो आ गये लेकिन मॉम नही आई मैं जानती थी कि वो क्यूँ नही आई हैं. पापा नाश्ता कर के काम पे चले गये और मैं स्कूल चली गई जब स्कूल से वापिस आई तो मैं कपड़े चेंज कर के दोपहर का खाना बनाने किचिन में गई थोड़ी देर बाद मोम वहाँ आ गई और उसके फेस पे नील पड़े हुए थे जो बता रहे थे कि कल रात उन्हें बहुत मार पड़ी है मोम ने मुझ से कहा किरण ये तुम ने अच्छा नही किया अब मैं तुम्हारे साथ वो करूँगी जो तुम ने सोचा भी नही होगा . 

मैं ने भी जवाब दिया जाओ जो करना है कर लो मैं तुम से डरने वाली नही हूँ. उस दिन के बाद मेरी मॉम से बोल चाल बिल्कुल बंद हो गई बस काम की बात होती थी मैं खुश थी कि मेरी जान छूट गई लेकिन मुझे पता नही था कि अब फँसने की बारी मेरी है. हमारी गली मे एक लड़का रहता था जो मुझ पर लाइन मारता था मुझे भी वो अच्छा लगता था स्कूल के रास्ते में वो मुझे लेटर दिया करता था जो मैं घर आ कर रात मे पढ़ती और उन लेटर्स का रिप्लाइ लिख कर अगले दिन उस लड़के को देती.कुछ अरसे तक लेटर्स का सिलसिला चला फिर वो लड़का मुझ से डेट पर चलने की ज़िद करने लगा पहले तो मैं ने इनकार किया पर फिर मैं भी राज़ी हो गई प्रोग्राम सेट किया स्कूल जाने की बजाय मैं उस के साथ डेट पर जाउन्गी और स्कूल का टाइम उस के साथ गुज़ार कर छुट्टी के टाइम घर आ जाउन्गी. मेरी बॅड लक थी कि मैं उस लड़के के साथ एक रेस्टोरेंट में आ गई हम कुछ देर तक इधर उधर की बातें करते रहे फिर हम ने खाने का ऑर्डर किया खाना आया और हम खाने लगे मुझे बहुत अच्छा लग रहा था अभी हम खाना खा रहे थे कि सामने वाली टेबल जो अभी तक खाली थी उस पर 2 आदमी आ कर बैठे उन को देख कर मेरी तो जान निकल गई क्यूँ कि उन में से एक पापा थे.खाना मेरे हलक में फँस रहा था मैं जल्दी से वहाँ से निकल जाना चाह रही थी कि पापा की नज़र मुझ पर पर गई उन के फेस पर हैरत और गुस्से के एमोशन्स थे लेकिन बात का बतंगड़ ना बने इस लिए वो चुप रहे मैं ने उस लड़के को कहा कि फॉरन यहाँ से चलो उस के कुछ कहने से पहले मैं उठ कर रेस्टोरेंट से बाहर आ गई मेरे पीछे वो लड़का भी आ गया 

मैं ने उसे बताया क़ि मेरे पापा ने हमे देख लिया है ये सुन कर वो भी परेशान हुआ हम दोनो ने टाइम खराब नही किया और बाइक पर बैठ कर स्कूल की रोड पर आ गये वहाँ उस ने मुझे ड्रॉप किया और चला गया मैं ऑटो में बैठ कर घर आ गई.घर मैं टाइम से पहले आ गई थी मोम ने मुझे हैरानी से देखा और पूछा कि जल्दी केसे आ गई तो मैं ने बहाना बनाया कि तबीयत खराब हो गई थी इस लिए छुट्टी ले कर आई हो.उस दिन दोपहर का खाना मोम ने बनाया मैं अपने रूम में ही रही बहुत डर लग रहा था कि पापा क्या करेंगे ये ही सब सोचती सोचती शाम हो गई और पापा आ गये उन्हो ने मुझे बुलाया और रेस्टोरेंट वाले क़िस्से और उस लड़के के बारे मे पूछा मैं ने झूठ बोलने की कोशिश की तो पापा ने मुझे थप्पड़ मारा. मोम सारी बात से अंजान हैरानी से सब देख रही थी पापा मुझे और मारने के लिए बढ़े तो मोम ने उन को रोका और मुझे अपने रूम में जाने को कहा कि मैं रोती हुई अपने रूम मे आ गई थोड़ी देर गुज़री लेकिन मेरे पास ना मोम आईं ना पापा. 

कुछ देर वेट कर के मैं पापा और मोम के रूम की तरफ गई कि शायद मुझे कुछ पता चल जाय कि उन दोनो में मेरे मुतलिक क्या बात हो रही है. जैसे ही मैं उन के रूम के पास पहुँची तो डोर आधे से ज़्यादा बंद था लेकिन अंदर से आवाज़ आ रही थी जो मैं सुनने लगी .

पापा: मैं किरण को जान से मार दूँगा.

मोम: पागल मत बनो.

पापा:ये सब तेरी वजह से हुआ है तू खराब है तुझे देख कर किरण ने ऐसा किया है.

मोम:मैं ने उसे ऐसा करने को कहा था? और तुम कॉन सा बहुत ठीक हो तुम दूसरी औरतो के साथ अयाशी नही करते?
ये सुन कर पापा कुछ देर को चुप हो गये थोड़ी देर के बाद मोम बोली.

मों: देखो मामला खराब है मेरे पास एक आइडिया है वादा करो ठंडे डेमग से सोचोगे. इस तरह हम बदनामी से भी बच जाएँगे तुम्हारा भी काम बन जाएगा और किरण का भी.

पापा: क्या मतलब.

मोम: आइडिया ये है कि तुम किरण से जिस्मानी ताल्लुक बना लो इस तरह तुम्हें भी जवान जिस्म मिल जाएगा और तुम भी घर से बाहर नही रहोगे और दूसरे घर की बात घर मे ही रहेगी.

पापा:क्या बकवास कर रही हो.

मोम: ज़रा सोचो किरण आज उस लड़के के साथ थी क्या पता चुदवा ना लिया हो अगर नही चुदवाया तो कल को चुदवा लेगी फिर क्या करोगे? मैं कोई उस की दुश्मन थोड़ी हूँ.

पापा:लेकिन ये सब होगा केसे और लोग क्या कहेंगे ?किरण मान जाएगी?
Reply
05-23-2019, 11:25 AM,
#4
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
मों: देखो मामला खराब है मेरे पास एक आइडिया है वादा करो ठंडे डेमग से सोचोगे. इस तरह हम बदनामी से भी बच जाएँगे तुम्हारा भी काम बन जाएगा और किरण का भी.

पापा: क्या मतलब.
मोम: ज़रा सोचो किरण आज उस लड़के के साथ थी क्या पता चुदवा ना लिया हो अगर नही चुदवाया तो कल को चुदवा लेगी फिर क्या करोगे? मैं कोई उस की दुश्मन थोड़ी हूँ.

पापा:लेकिन ये सब होगा केसे और लोग क्या कहेंगे ?किरण मान जाएगी?


अब आगे ......


मोम:जहाँ तक बात किरण की है तो वो मुझ पर छोड़ दो जैसा मैं कहती हूँ तुम करते जाना .और लोगो को दिखाने के लिए हम किरण की नकली शादी कर देंगे और ये सिटी चेंज कर लेंगे और लोगो को बताएँगे कि किरण का हब्बी आउट ऑफ कंट्री है है. फिर जैसे चाहो किरण को यूज़ करो.

पापा:लेकिन वो तो मेरी डॉटर है.

मोम: वो एक लड़की भी है उस को मर्द की नज़र से देखो .वो एक मस्त लड़की है.

पापा:देखो मरवा ना देना.

मोम: हंसते हुए कुछ नही होगा.देखना तुम को कितना मज़ा देगी एक बार तुम्हारे नीचे आई तो फिर देखना कैसे उछल उछल कर चुदवायेगि.

ये सुन कर मैं अपने रूम में आ गई और सोचने लगी कि क्या मेरे पापा मेरे साथ ये सब करेंगे. मोम का आइडिया मेरी समझ मे आ गया था कि उन्हो ने ऐसा मुझ से बदला लेने के लिए किया था. मैं सारी रात रोती रही सुबह के करीब मेरी आँख लग गई.

सुबह मेरी आँख देर से खुली मेरे सर मे पेन हो रहा था थोड़ी देर के बाद मोम मेरे पास नाश्ता ले कर आईं मैं ने उन के मजबूर करने पर थोड़ा सा खाया. फिर मोम कहने लगी देखो मेरी बात को गोर से सुनना इनकार नही करना क्यूँ कि इनकार की सूरत में तुम्हारे साथ बहुत बुरा होगा.फिर उन्हो ने पूछा कि उस लड़के से जिस से तुम्हारा अफेर है चुदवाया तो नही?

मैं ने कहा कैसी गंदी बात कर रही है आप.

मोम ने कहा इतनी सीधी तुम भी नही हो जितना पूछा है उतना बताओ.

मैं ने कहा कि मैने उस से कुछ नही करवाया.

मॉम कहने लगी ये तो अच्छी बात है अब सुनो आज से तुम्हारा स्कूल जाना बंद है तुम्हारे पापा बहुत गुस्से मे हैं हम तुम्हारी शादी तुम्हारे पापा से कर रहे हैं .

ये सुन का मैं ने चीख कर पूछा कि ये आप क्या कह रही हैं? 

उन्हो ने मेरे फेस पर थप्पड़ मार कर कहा कुतिया बड़ी मुश्किल से तेरी पापा को राज़ी किया है ज़्यादा नखरे ना कर वरना जान से मार दूँगी. 

मैं रोने लगी. उन्हो ने कहा कि इस एज मे भी वो जवान हैं और तुझे बहुत खुश रखेंगे आज नही तो कल किसी को तो तू ने देनी है तो पापा को दे दे इस तरह वो भी घर से बाहर मूँह नही मारेंगे .फिर उन्हो ने कहा जैसा मैं कहूँ करती जाना मुझे शिकायत ना मिले अब पापा को ज़्यादा टाइम देना है और उन की पसंद ना पसंद को समझना है उन को प्यार दो और प्यार लो.

मैं ने कहा जो मर्ज़ी कर लो लेकिन मैं ये नही करूँगी .

ये सुन कर मोम ने मुझ पर थप्पड़ो की बारिश कर दी काफ़ी देर तक वो मुझे मारती रही जब मैं मार खा कर निढाल हो गई तो मुझे बेड पर पटक के चली गई.मेरा अंग अंग दर्द कर रहा था मुझे अपनी हालत पे रोना आ रहा था

इसी तरहा काफ़ी टाइम हो गया अचानक मेरे रूम का दरवाज़ा खुला और मोम मेरे लिए खाना ले कर आ गईं उन्हो ने मुझे खाना खाने को कहा मैं ने कहा मुझे भूक नही है तो मोम ने मुझे थप्पड़ मार कर कहा कुतिया खाना नही खाएगी तो मर जाएगी. 

मैं ने कहा एसी लाइफ से अच्छी तो मौत है. 

मोम हँसने लगी और कहने लगीं अगर तू मर गई तो तेरे पापा को इतना मस्त माल कहाँ से मिलेगा. 

मैं ने कहा शरम आनी चाहिए आप को वो मेरे फादर हैं. 

मोम ने हंसते हुए कहा समझो फादर थे अब तो उन की वाइफ बनने की तैयारी करो.फिर मोम ने मुझे मार पीट के ज़बरदस्ती खाना खिलाया और चली गई. 

मैं अपने रूम मे पड़ी रही रात को मैं ने सोचा कि पापा से बात कर के देखती हूँ . मैं मोम और पापा की बातें सुन तो चुकी थी लेकिन फिर भी मुझे गुमान था कि पापा इनकार कर देंगे. मैं अपने रूम से निकल कर मोम के रूम मे आई पापा बाथ रूम मे थे 

मोम ने मुझ से पूछा तुम किस लिए आई हो?

मैं ने पूछा मुझे पापा से बात करनी है वो कहाँ हैं?

मोम ने मेरा हाथ पकड़ा और मुझे रूम से बाहर ले आई और कहा एक बात कान खोल के सुन ले दुबारा तू अगर अपनी चुदाई से पहले पापा से बात करने की बात अपनी ज़ुबान पे भी लाई तो तेरे मूँह का वो हाल करूँगी कि बोलने के काबिल नही रहेगी तू अपने रूम मे जा.

मैं दिल मे मोम को गालियाँ देती हुई अपने रूम मे आ गई. रात गुज़रती रही और मैं अंदर ही अंदर मरती रही जब मैं ने पापा से बात करने के लिए एक बार और ट्राइ करने का सोचा इस लिए मैं फिर से मोम के रूम की तरफ आई मेरी ख्याल था मोम सो गई होंगी और मैं पापा से बात कर सकूँगी वैसे भी पापा के सामने मोम मेरा कुछ नही कर सकेंगी.जब मैं रूम के डोर पर पहुँची तो रुक गई अंदर से बातों की आवाज़ आ रही थी.

पापा:लगता है किरण नही माने गी.

मोम: मानेगी केसे नही तुम बस देखते जाओ.

पापा: वैसे भी अभी छोटी है.

मोम: कोई छोटी नही है कभी तुम ने गौर किया हो उस पर तो तुम्हें पता चले .

पापा:तुम बात को समझ नही रही हो मेरा मतलब है कि क्या वो मेरा लंड ले पाएगी?

मोम: हँसती हुई ले लेगी यार तुम फिकर ना करो इतनी भी छोटी नही है 

पापा: क्या प्रोग्रेस है कब तक कम बन जाएगा?

मोम: थोड़ा टाइम तो लगेगा अभी तो वो गुस्से मे है लेकिन ठंडा हो जाएगा उस का गुस्सा.

ये सुन के मेरे होश बिल्कुल ही उड़ गये और मेरी उम्मीद भी ख़तम हो गई क्यूँ कि पापा की बातों से साफ ज़ाहिर था कि वो भी वोही चाहते हैं जो मोम चाहती हैं.

मैं अपने रूम मे आ गई मेरा बस चलता तो मैं ख़ुदकुशी कर लेती लेकिन मुझ मे इतनी हिम्मत नही थी.

मोम ने मेरे साथ मार पीट का सिलसिला जारी रखा हुआ था.1 वीक हो चुका था लेकिन मैं ने हर नही मानी थी एक दिन मोम ने कहा तुम कहती हो कि तुम ने पापा से रीलेशन नही बनाना तो ना बनाओ लेकिन तैयार हो जाओ आज शाम मे हम तुम्हारी शादी कर कर रहे हैं.

मैं ने पूछा लेकिन किस से?

तब मोम बोली मेरे दूर के अंकल हैं उस को ओल्डेज में केर की ज़रूरत है उनको तुम्हारी पिक दिखाई थी उनको तुम बहुत पसंद आई ऑर तुम से शादी को तैयार हैं और ये कह के उन्हो ने मुझे एक पिक दी और कहा ये देख लो तुम्हारे पास 2 रास्ते हैं एक तो अगर पापा से शादी नही करनी तो इस से शादी करनी पड़ेगी नही तो पापा ही से होगी तुम्हारी शादी. वो ये कह कर चली गई कि सोच लो 1 अवर के बाद मे आउन्गि तुम पापा और इस मे से किसी एक को फाइनल कर के रखना.
Reply
05-23-2019, 11:25 AM,
#5
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
मैं ने हाथ मे पकड़ी पिक को देखा तो मेरे तो होश उड़ गये बहुत ओल्ड मॅन था वो आदमी , पापा उस के मुक़ाबले मे बहुत बेहतर थे. लेकिन वो मेरे पापा थे इसी वजह से मैं फ़ैसला नही कर पा रही थी काफ़ी सोचने के बाद मैं ने फ़ैसला कर लिया कि मुझे पापा से ही शादी कर लेनी चाहिए क्यूँ कि मोम और पापा अभी तो प्यार से कह रहे हैं कल को अगर मेरे इनकार की सूरत मे वो मेरे साथ ज़बरदस्ती भी तो कर सकते थे. ये सोच कर मैं अपने ज़हन को रीड करने लगी मैं हार गई थी पापा का सहारा था लेकिन वो तो खुद मुझे चोदना चाहते थे. 

मोम अंदर आई और मुझ से पूछा क्या फ़ैसला किया?

मैं ने सोचा दोनो से इनकार करने की ट्राइ करती हूँ शायद मैं बच जाऊ मैं ने कहा मैं किसी से भी शादी नही करूँगी. मोम को ये सुन कर गुस्सा आ गया उन्हो ने मुझ पर थप्पड़ो की बारिश कर दी और कहा कुतिया तू ऐसे नही माने गी मैं तेरे पापा को फ़ोन करती हूँ वो आज ही तुझे चोदेन्गे. ये कह कर मोम ने फ़ोन निकाला 

मैं ने फॉरन कहा मैं पापा से शादी करने के लिए तैयार हूँ लेकिन मुझे थोड़ा टाइम चाहिए.ये सुन के मोम ने कहा गुड गर्ल मुझे तुम से ये ही उम्मीद थी. जब तू मान ही गई है तो थोड़ा टाइम मिल जाएगा .वो मेरे करीब आईं और
उन्हो ने अचानक मेरी शलवार को थोड़ा सा नीचे किया और मेरे बालो को देख कर कहा कि इन्हे साफ रखा करो पापा को साफ चूत पसंद है देखना जब तुम्हारी चिकनी होगी तो तेरे पापा तेरी चाटेन्गे. जब अपनी चटवायेगी ना देखना तुम्हे कितना मज़ा आएगा . क्या कभी किसी से चटवाई है .

मैने कहा नही मम्मी ऑर ..

फिर मुझे कमीज़ उतारने को कहा मैं ने नही उतारी तो खुद ज़बरदस्ती उतार कर मेरी बगलें(आर्म्पाइट) मे बाल देख कर कहा गुड यहाँ के बाल साफ मत करना पापा को बहुत पसंद हैं. फिर मुझे कहा कि तैयार हो के जल्दी नीचे आओ हम शॉपिंग करने जाएँगे.

मैं बे दिली से तैयार हो के नीचे आई तो मोम मेरा वेट कर रही थी हम दोनो मार्केट आए पहले मॉम ने मेरे लिए कुछ टाइट फिटिंग के लो कट गले वाले बारीक ड्रेस लिए फिर कुछ लो कट्स ब्रा और पेंटीस ली उस के बाद वो मुझे पार्लर मे ले गई जहाँ मेरा फेशियल करवाया और हम घर आ गये.

घर पहुँच कर मैं दोपहर का खाना बनाने की तैयारी करने लगी बट मेरा दिमाग़ अभी तक इसी मे उलझा हुआ था कि ये क्या हो रहा है और आगे क्या होगा इसी उलझन में दोपहर का खाना बनाया. मोम ने मुझे कहा कि थोड़ा आराम कर लो उस के बाद जो शॉपिंग आज की है उन में से कोई ड्रेस पहन कर तैयार हो जाना आज पापा जल्दी आएँगे उन्हो ने फ़ोन कर के बताया है. 

मैं अपने रूम मे जा कर सो गई जब आँख खुली तो शाम होने वाली थी. मैं जल्दी से उठी और शॉपिंग वाले बॅग से कपड़े निकाल कर चूज करने लगी. सारी कपड़े ही सेक्सी थे मैं ने एक वाइट कलर का सूट और पिंक कलर की ब्रा और पैंटी चूज़ की जो आज ही खरीदी थी ये सब ले कर मैं बाथ रूम मे घुस गई. नहा कर वो ड्रेस पहन कर बाहर आई जब मैं मेकप करने मिरर के सामने बैठी तो मेरी आँखें खुली रह गईं. कमीज़ का गला बहुत बड़ा था और कमीज़ बहुत टाइट थी और बारीक इतनी कि मेरी ब्रा नज़र आ रही थी एसी ही हालत शलवार की भी थी कि उस में से मेरी लेग्स नज़र आ रही थीं . जब मैं मेकप कर के निकली तो मैं ने दुपट्टा अच्छी तरह से अपने सीने के गिर्द लपेट लिया

मोम ने देखा तो डाँट कर कहा कि घर मे दुपट्टा लेने की ज़रूरत नही है अपना हुश्न पापा को सही से दिखाओगी तो बात बनेगी और जल्दी मेरी सोतन बन सकोगी 

मैं शर्म से लाल हो गई मोम ने मेरा दुपट्टा मुझ से ले लिया और मुझे समझाया कि जब चलो तो ज़्यादा कूल्हे(गान्ड) को मटका कर चला करो क्यूकी मर्द जब औरतो की मटकती गान्ड देखते हैं वो उस पर ऑर ज़्यादा एग्ज़ाइटेड हो जाते हैं और जब खाना सर्व करना तो झुक कर करना इस से तुम्हारे बूब्स का हुस्न पापा को नज़र आना चाहिए और जब पापा आअएं तो उन से गले मिलना ताकि तुम्हारे जिस्म का टच उन को मिले ऑर एक अदा के साथ शरमाना..

मैं इन बातों का जवाब सिर हिला कर दिया ज्यों ज्यों पापा के आने का टाइम हो रहा था मेरा दिल ज़ोर ज़ोर से धडक रहा था फिर पापा आ गये मैं ने ही डोर खोला पापा ने जैसे ही मुझे इस ड्रेस मे देखा तो कुछ देर तो देखते ही रहे उन की निगाहें मेरे बूब्स पर थी उन्हो ने मुझे कहा आज बहुत खूबसूरत लग रही हो और मेरी कमर में हाथ डाल कर अंदर आए मैं ने फील किया कि पापा मेरी कमर पर हाथ फिरा रहे थे ऑर कभी उनका हाथ मेरी गान्ड पर भी पहुँच रहा है जिसे वो बड़े हल्के ढंग से मसल रहे थे मोम ने देखा तो हंस कर कहने लगी जोड़ी बहुत प्यारी लग रही है
Reply
05-23-2019, 11:26 AM,
#6
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
ये सुन कर मैं पापा से अलग हुई और किचिन में चली गई. खाना मैं ने टेबल पे लगाया मैं ने नोट किया कि पापा की निगाहें मुझ पर ही थी जब खाना लग गया तो मोम ने पापा के साथ वाली चेयर पर मुझे बैठने का इशारा किया मैं चुप चाप बैठ गई पापा की प्लेट मे खाना डालने के लिए मोम के बताए फ़ॉर्मूले के मुताबिक मैं थोड़ा सा झुकी तो कमीज़ के बड़े गले से बूब्स का काफ़ी नज़ारा पापा को मिल गया मैं ने नोट किया कि पापा की शलवार में तंबू सा बन गया था मेरे हुस्न का जादू चल रहा था लेकिन मुझ में झीजक थी.

मोम ने जल्दी से खाना फिनिश किया और कहने लगीं मैं कबाब में हड्डी बन रही हूँ इस लिए मैं सोने जा रही हो तुम लोग एक दूसरे को एंजाय करो.ये सुन कर मैं ने आँखें झुका ली. खाना खा कर पापा ने मुझे हग किया और मेरे गालों पर किस किया उन का लंड मेरी चूत को टच कर रहा था जिस से मेरे पूरे जिस्म में सनसनी की लहर दौड़ गई मैं हल्का सा वेट हो रही थी. इस के बाद पापा ने मुझे थॅंक्स कहा कि मैं ने उन के लिए तैयारी की.मैं खामोश रही.फिर पापा अपने रूम में चले गये और मैं कुछ वेट कर के उन के पीछे उन की बातें सुनने चली गई.पापा मोम से कह रहे थे यार तुम ने कमाल कर दिया किरण बहुत खूबसूरत लग रही थी दिल चाह रहा था कि अभी चोद दूं.

मोम: ऐसे केसे चोद दोगे पहले उसे शॉपिंग करवाओ ज्वेलरी, ड्रेस दिलवाओ उसको सिनिमा दिखाने ले जाओ उस के साथ थोड़ा टाइम गुज़ारो ताकि उस की झिझक कम हो.

पापा: तो मैं 2 दिन की छुट्टी ले लेता हूँ किरण के लिए.

मोम:ये ठीक रहे गा.

इस के बाद खामोशी छा गई और मैं धड़कते दिल के साथ अपने रूम मे आ गई .सुबह जब मैं नाश्ता बनाने के लिए किचिन में गई तो मोम ने कहा कि कुछ दिन तुम से काम नही करवाना आख़िर तुम्हारी शादी हो रही है मैं ने कहा आप भी ना.

नाश्ते की टेबल पर मोम ने कहा कि किरण तुम्हारी न्यू लाइफ शुरू हो रही है इस में जितना खुल के हिस्सा लोगी मज़े मे रहोगी वो तुम्हे घुमाने ले जा रहे है तुमको ड्रेस ऑर ज्वेलरी वग़ैरह ले कर देगे ऑर कुछ सेक्सी नाइटीस ऑर ब्रा पैंटी भी उनको अपना साइज़ ठीक से बता देना ऑर हाँ उनको बोल कर एक हेयर रिमूवर भी ले लेना इतना बोल कर मोम मुस्करा पड़ी .

मुझे बड़ी शर्म आ रही थी थी. 

मोम-मेरा काम तुम्हें मर्द को खुश रखने का तरीका बताना था सो वो मैं ने बता दिया. अब मैं तुम्हारे और पापा के दरमियाँ नही आउन्गी तुम दोनो को एक दूसरे को खुद हॅंडल करना होगा अगर कोई प्रोबलम हो तो मुझ से पूछ लेना ये कह कर मोम ने कहा कि वो अपनी किसी दोस्त के घर जा रही हैं देर से आएँगी.

पापा ने उन के जाने के बाद मुझे कहा कि तैयार हो जाओ कुछ शॉपिंग करनी है और फिल्म भी देखेंगे. मैं तैयार होने रूम में आई तो पीछे से पापा भी आ गये और कहने लगे आज से मैं तुम्हें जान कहूँगा .फिर उन्हो ने मेरे लिए ड्रेस सेलेक्ट किया जो पर्पल कलर का था और वाइट ब्रा और पैंटी भी . मैं तैयार होने लगी और पापा अपने रूम में कपड़े चेंज करने चले गये

जब मैं तैयार हो कर आई तो पापा तैयार हो चुके थे उन्हो ने ब्लू जीन्स और ब्लॅक टी शर्ट पहनी हुई थी और बहुत हॅंडसम लग रहे थे.मुझे देख कर पापा ने मुझे फिर से हग किया और मेरे लिप्स पे हल्की सी किस की. मेरे सारे जिस्म मे करेंट दौड़ गया. इस के बाद पापा की बाइक पे बैठ के हम घर से निकल गये मैं पापा से चिपक कर बैठी थी मेरे बूब्स पापा की कमर से लगे हुए थे जिस से मुझे भी मज़ा आने लगा और मेरे निपल्स खड़े हो गये. लॅडीस गारमेंट्स की शॉप से पापा ने कुछ ड्रेस लिए मेरे लिए 2 साड़ियाँ जिन के ब्लाउस हाफ थे लीं ,फिर अंडर गारमेंट्स यानी ब्रा ओर पैंटी जो बहुत ही स्टायलिश ऑर हॉट थी और सब से आख़िर में 5 नाइटीस लीं जो ट्रॅन्स्परेंट थीं और बहुत छोटी .

छोटी इतनी कि वो मेरे घुटनो(नीस) तक आतीं.जो बस एक डोरी खोल दो अपने आप ही सारी खुल जाती थी. जब हम ये समान खरीद कर जाने लगे तो मेने पापा से कहा मुझे कुछ लेना है तो पापा ने कहा क्या तो मैं उनको बोलने पर शर्मा गई थी पर उनके बार बार पूछने पर मैं बोली वो पापा हेयर रिमूवर तो तो 

पापा मेरी ओर देख कर मुस्करा पड़े मैं तो शर्म से पानी पानी हो गयी ये सब ले कर पापा मुझे ले कर एक सिनिमा हाल में ले आए जहाँ कोई इंग्लीश मूवी लगी हुई थी. हम टिकेट ले कर अपनी सीट्स पर बैठ गये लाइट ऑफ हुई फिल्म स्टार्ट हुई थोड़ी देर गुज़री कि पापा का हाथ मेरी कमर पर आ गया वो अंधेरे का फ़ायदा उठा कर मेरी कमर को सहलाने लगे कुछ देर ऐसा चलता रहा फिर पापा का हाथ मेरे एक बूब पर आ गया और वो कमीज़ के उपर से मेरे बूब को दबाने लगे मुझे बहुत मज़ा आने लगा और मैं भी हॉट हो गई और मैं ने अपने आप को पापा के नज़दीक और कर दिया पापा बारी बारी मेरे बूब्स मसलते रहे फिर उन्हो ने अपना एक हाथ मेरी शलवार मे डाल दिया ऑर मेरी श्लवार का नाडा खोल दिया और मेरी पैंटी के ऊपर से ही मेरी चूत के लिप्स को सहलाने लगे मेरी तो जान ही निकल गई मैं बुरी तरह से गीली हो रही थी.पूरी फिल्म मे ये खैल चलता रहा और मैं ने 3 बार पानी छोड़ा मेरी पैंटी मेरे पानी से भीग चुकी थी मैं ने आहिस्ता से पापा से कहा पापा पैंटी भीग गई है बाहर लोग देखेंगे तो क्या सोचेंगे इस पर पापा ने अपना हाथ मेरी शलवार से बाहर निकाल लिया. फिल्म एंड हुई हम अपने घर की तरफ चल पड़े.

घर पहुँची तो मोम नही आई थी. मैं चेंज करने अपने रूम में चली गई चेंज कर के आई तो पापा ने चाय पिलाने को कहा मैं ने पापा को चाय दी. मैं पापा से नज़रें नही मिला पा रही थी. चाय पी कर पापा किसी ज़रूरी काम का कह कर बाहर चले गये और मैं अपने रूम मे आ कर सो गई शाम को जब मैं उठी तो मोम और पापा दोनो आ चुके थे मोम ने खाना बनाया खाने के बाद मोम ने पूछा तुम लोगो का दिन कैसा गुज़रा? 

पापा ने कहा कि मेरा तो बहुत अच्छा गुज़रा किरण का पता नही. मोम ने मेरी तरफ सवालिया नज़रों से देखा तो मैं ने कहा मेरा भी अच्छा गुज़रा.मोम ने हंसते हुए पापा से कहा कहीं ले तो नही ली मेरा फेस शरम से लाल हो गया पापा बोले दिल तो बहुत कर रहा था. 

मोम ने कहा चलो फिर ये काम जल्द ही कर देते हैं. फिर मोम और पापा ने प्लान बनाया कि नेक्स्ट सनडे मैं पापा की वाइफ बन जाउन्गी और मुझे खुल कर फ्यूचर का प्लान का बताया कि मेरी सुहाग रात के बाद वन वीक के लिए हम हनीमून पर जाएँगे. उस की वापिसी पर हम ये सिटी छोड़ देंगे .पापा पहले ही अपनी ट्रान्स्फर की अप्लिकेशन दे चुके थे जो मंजूर हो गई थी . न्यू सिटी मे मेरी नकली शादी सिर्फ़ रिलेटिव्स के सामने होगी ता कि किसी को शक ना हो. इस के बाद पापा और मोम सोने चले गये और मैं अपने रूम मे आ कर सो गई.

सुबह उठी तो नाश्ते के बाद पापा ने कहा कि किरण तैयार हो जाओ हम ने ज्वेलरी और ब्राइड ड्रेस ( शादी की ड्रेस ) खरीदना है.मैं तैयार हो कर आई तो पापा रेडी थे मैं उन के साथ मार्केट आ गई पापा ने मेरी पसंद से ज्वेलरी सेट पर्चेस किया फिर एक मरून कलर की साड़ी हाफ ब्लाउस की पर्चेस की और हम घर आ गये. दिन थोड़े थे पापा ने आज की छुट्टी को बेकार करना मुनासिब नही समझा और लेबर बुला के गेस्ट रूम का डबल बेड मेरे रूम में लगवा दिया.ये सब तैयारी होती देख कर मेरा दिल धडक रहा था और मैं अपने आप को अंदर से स्ट्रॉंग करने लगी. टाइम गुज़रा और सॅटर्डे डे आ गया मुझे एक दिन के लिए मोम के साथ उन के रूम में शिफ्ट कर दिया गया और पापा गेस्ट रूम में.

पापा ने बहुत प्यारी सेज बनवाई सारी बेड पर रोज़ से मेरा नाम लिखवाया. आख़िर सनडे का दिन आ गया सुबह नाश्ता करने के बाद प्रोग्राम बना कि रात तो सारी जागते और जगाते गुज़रेगी दिन में थोड़ा आराम कर लिए जाए 

शाम को मैं पार्लर से तैयार हो जाउन्गी फिर रात में मोम हंडी कॅम से पापा और मेरी वीडियो बना लेंगी खाना कहीं बाहर हम तीनो खाएँगे और घर आ कर मैं और पापा अपनी सुहाग रात मनाएँगे. 
Reply
05-23-2019, 11:26 AM,
#7
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
दिन भर रेस्ट में और फिकर मे गुज़रा शाम को मैं मोम के साथ पार्लर चली गई. पापा ने उस दिन नेवी ब्लू पॅंट कोट पहना था.जब मैं तैयार हो गई तो मोम ने पापा को फ़ोन किया पापा ने हमे पार्लर से लिया और हम एक रेस्टोरेंट में आ गये वहाँ हम ने खाना खाया और घर पहुँचे मैं दुल्हन बनी हुई गजब ढा रही थी पापा की नज़रें मुझ पर से हट नही रही थीं .मोम ने शोखी से कहा कि होसला करो तुम्हारी ही चीज़ है इस पर मैं झेंप गई. मोम ने हंडी कॅम से हमारी यादगार मूवी बनाई फिर मेरे कान में कहा कि किरण डरना नही खुल कर एंजाय करना आज तुम ने पापा को दीवाना बना लिया तो सारी ज़िंदगी तुम्हारे पीछे पीछे फिरेंगे 

मैं खामोश रही बस सिर हिला दिया. इस के बाद मोम ने पापा से कहा आराम से करना और ज़्यादा तंग ना करना इस पर पापा मुस्करा दिए . इस के बाद मोम ने कहा अब तुम लोग जाओ रूम में किसी चीज़ की ज़रूरत हो तो मुझे कह देना ये कह का मोम मेरे माथे पे प्यार कर के चली गई .अब मैदान सॉफ था पापा ने मुझे गोद में उठाया तो मैं ने कहा ये क्या कर रहे हैं? पापा बोले मेरी जान को चलने में तकलीफ़ ना हो.ये कह कर पापा मुझे गोद में उठा कर रूम में ले आए और बेड पर बैठा दिया. सारा रूम रोज़ की महक से महक रहा था पापा ने डोर बंद किया और मेरे पास आए मेरा दिल ज़ोर से धड़क रहा था मैं ने अपना फेस नीचे कर लिया पापा ने कहा जान तुम दुल्हन बनी और भी हसीन लग रही हो फिर अपने हाथ से मेरा फेस उपर काइया और हल्के से मेरी आइज़, मेरे चीक्स और मेरे लिप्स को किस किया फिर अपनी पॉकेट में से एक बॉक्स निकाला उस में एक बहुत खूबसूरत लॉकेट था जिस पे किरण लिखा हुआ था पापा ने वो लॉकेट मुझे पहनाया और मेरी नेक पर किस किया 

पापा के गर्म लिप्स ने मेरे जिस्म में आग लगा दी थी फिर पापा ने मुझे अपनी गोद में बैठा लिया और कमर पर हाथ फेरने लगे और मेरी तारीफ करने लगे.मैं ने कहा मैं इतनी अच्छी तो नही जितनी आप झूठी तारीफ कर रहे हैं इस पर वो बोले तुम्हारा जिस्म गजब का है पतली कमर पर मुनासिब बूब्स और बाहर को निकलती गान्ड ने मेरा सकून ले लिया है. फिर पापा ने मेरी ज्वेलरी उतारी और अपना कोट भी उतार दिया.फिर मुझे लेटा दिया और मेरे साथ लेट कर मेरे जिस्म की स्मेल सूंघने लगी 

मैं ने पूछा कैसी लगी मेरे बदन की बू इस पर वो बोले बहुत प्यारी महक है. फिर पापा ने मेरे होंठो पर अपने होंठ रख दिए और चूसना शुरू किया मैं भी हॉट होने लगी और उन का साथ देने लगी.कुछ देर होंठो को चूसने के बाद मेरे पूरे फेस पे किस्सिंग शुरू कर दी फिर वो रुके और अपनी शर्ट उतार दी और बनियान भी उतार दी अब वो सिर्फ़ पॅंट मे थे फिर उन्हो ने मेरी साड़ी खोल के उतार दी अब मैं सिर्फ़ ब्लाउस और पेटिकोट मे थी 

पापा ने मेरे पेट पर किस्सिंग शुरू की और उन के हाथ मेरे बूब्स को सहला रहे था कुछ देर ये सिलसिला चला फिर उन्हो ने अपनी पेंट भी उतार दी अंडरवेअर मे उन का लंड खड़ा हुआ साफ फील हो रहा था फिर उन्हो ने मेरा ब्लाउस और पेटिकोट भी उतार दिया अब मैं सिर्फ़ ब्रा और पैंटी मे थी पापा ने मुझे इस हालत में देखा तो जोश में आ गये और मेरी ब्रा के हुक खोल दिए और ब्रा उतार दी मैं ने अपनी आँखें बंद कर ली. पापा कुछ देर मेरे बूब्स को देखते रहे फिर मेरे एक बूब को मूँह मे भर का चूसने लगे मज़े से मेरा बुरा हाल था मेरे निपल्स हार्ड हो गये पापा पागलो की तरह मेरे निप्पल्स को चूस रहे थे और कभी कभी दाँत से काट भी लेते जिस से मेरी सिसकारी निकल जाती काफ़ी देर मेरे बूब्स को चाटने चूसने और काटने के बाद पापा रुके.मेरे बूब्स पर निशान पड़ गये थे. पापा ने थोड़ी देर रिलेक्स किया फिर मेरी पैंटी भी उतार दी और मेरे लेग्स के दरम्यान अपने फेस को ले गये मेरी लेग्स को ओपन किया और मेरी चूत की स्मेल सूंघने लगे फिर बोले क्या स्मेल है.


फिर पापा ने मेरी चूत के लिप्स को फेलाया और अपनी ज़ुबान से चाटने लगे मेरे पूरे जिस्म में करेंट दौड़ गया. पापा के चाटने से मेरी चूत ने पानी छोड़ना शुरू कर दिया जिसे पापा चाटने लगे. कुछ देर चूत को ज़ुबान से चाटने के बाद पापा ने अपनी एक फिंगर मेरी चूत मे डाली जिस से मुझे पेन हुआ तो मेरे मूँह से आह निकल गई पापा ने कहा जान पहली बार थोड़ा पेन होगा बर्दस्त करना फिर बहुत मज़ा मिलेगा. 

एक फिंगर से चोदने के बाद पापा रुके और मुझे उठाया और अपना अंडररवेर उतार दिया मेरी तो आँखें खुली रह गई पापा का 8 इंच का होगा जो बहुत मोटा था और किसी साँप की तरफ सामने आ गया पापा बोले किरण इसे सहलाओ प्यार करो ये अब तुम्हारा है

मैं ने झिझकते हुए लंड को हाथ में पकड़ा और सहलाने लगी.थोड़ी देर के बाद पापा ने कहा इसे मूँह मे ले के चूसो.मैं ने कहा ये मूँह मे थोड़ी लेते हैं इस पर पापा ने ज़बरदस्ती मेरे मूँह मे डाल दिया लंड इतना मोटा और बड़ा था कि मेरे मूँह मे नही आ रहा था.मुझे शुरू मे अजीब सा लगा फिर मज़ा आने लगा मैं अपनी ज़ुबान को लंड की कॅप पर फेरने लगी जिस से पापा के मूँह से मज़े से सिसकारियाँ निकलने लगीं. तकरीबन 20 मिनट लंड चुस्वा कर पापा ने लंड को बाहर निकाला
इस के बाद पापा फिर मेरे लिप्स पर किस करने लगे मैं भी बे शरम हो कर उन के लिप्स चूसने लगी फिर पापा ने अपनी ज़ुबान मेरे मूँह क अंदर डाल दी. 

पापा की ज़ुबान का टेस्ट बहुत अच्छा था मैं ने उन की ज़ुबान चुसनी शुरू की उधर पापा के हाथ मुसलसल मेरे बूब्स को दबा रहे थे फिर पापा ने मुझे अपनी ज़ुबान चुसवाने को कहा तो मैं ने अपनी ज़ुबान उन के मूँह में डाल दी जिसे वो मज़े से चूसने लगे. कुछ देर ये सिलसिला चलता रहा मेरे होंठ पापा की टाइट किस्सिंग से सूज गये थे. फिर पापा होंठ छोड़ कर फिर मेरी चूत पर आ गये इस बार उन्हो ने अपनी ज़ुबान मेरी चूत के अंदर डाल कर अंदर बाहर करने लगे मैं ये बर्दाश्त नही कर पाई और मेरा जिस्म अकड़ने लगा और चूत ने पानी छोड़ दिया जो पापा के फेस को गीला कर गया.पापा ने बाकी पानी को चाट के चूत साफ कर दी और टिश्यू पेपर से अपना फेस साफ किया. फिर पापा मेरे बूब्स को चाटने और दबाने लगे जिस से मुझे पेन होने लगा लेकिन मज़ा भी बहुत आ रहा था कुछ देर बूब्स चुसवा कर मैं फिर से हॉट होने लगी और चूत भी वेट होने लगी.मैने पापा से कहा प्ल्ज़ अब कर दें और बर्दाश्त नही हो रहा इस पर पापा मुस्काराए और मुझे सीधा लिटा दिया मेरी कमर के नीचे एक पिल्लो रख दिया जिस से मेरी चूत के लिप्स खुल गये. फिर पापा ने मेरी ड्रेसिंग टेबल से क्रीम उठाई काफ़ी सारी क्रीम मेरी चूत पे और अपने लंड पे लगाई और मेरे उपर आ गये लंड की कॅप को चूत के मूँह पे सेट किया और कहा जान थोड़ा पेन होगा बर्दाशत करना नही तो तुम्हारी मोम कहेगी कि मैं ने ख़याल नही रखा.

मैं ने हाँ मे सिर हिलाया.पापा ने ज़ोर लगा कर अंदर करने की ट्राइ की लेकिन लंड स्लिप हो गया इस पर पापा ने लंड को दोबारा सेट किया और मेरे होंठो को अपने होंठो से काबू किया और धक्का मारा और लंड की टोपी मेरी सील तोड़ती हुई अंदर आ गई. पेन से मेरा बुरा हाल था मेरी तो आँखें फॅट गई थी पापा वही रुक गये और किस्सिंग करने लगे जब मेरा पेन कम हुआ तो एक करारा धक्का लगाया और आधा लंड मेरे अंदर था पेन से मैं पागल हो रही थी मैं ने पापा से कहा इसे बाहर निकाल लो पापा ने कहा बस थोड़ी देर की बात है फिर इधर उधर की बातों मे लगा लिया 

जब उन्हो ने देखा कि मेरा पेन कम हुआ है तो मेरे होंठो को अपने होंठो से दबा कर कि मेरी चीख बाहर ना निकले एक ज़ोर दार धक्का लगाया जिस से पूर लंड अंदर चला गया पेन से मैं बेहोश हो गई जब मुझे थोड़ा होश आया तो पापा ने लंड को धीरे धीरे अंदर बाहर करना शुरू किया. पापा बहुत आराम से लंड को अंदर बाहर कर रहे थे थोड़ी देर के बाद मुझे भी मज़ा आने लगा और पेन बहुत कम हो गया .अब पापा ने रफ़्तार थोड़ी तेज़ कर दी अब मैं भी चूतड़ उठा उठा के लंड को चूत में लेने लगी 

तकरीबन 20 मिनट नॉर्मल अंदाज़ में चुदाई करने के बाद पापा ने लंड की रफ़्तार और तेज़ कर दी इस दौरान मैं पानी छोड़ चुकी थी लेकिन पापा का स्टेंना कमाल था वो अब भी यंग थे और कमाल महारत से चोद रहे थे 15 मिनट मजीद तेज़ चुदाई के बाद पापा के धक्कों में तेज़ी आ गई मैं ने उन से कहा मेरी फारिघ् होने वाली है इस पर उन्हो ने कहा वो भी फारिघ् होने वाले हैं ये कह कर उन्होने पूरी ताक़त से धक्के लगाने शुरू किए इधर मैं फारिघ् हुई उधर पापा के लंड ने अपने गरम पानी का और सुहाग रात का तोहफा मेरी चूत को दे दिया पापा का पानी अंदर गिर रहा था और मुझे बहुत मज़ा आ रहा था
Reply
05-23-2019, 11:26 AM,
#8
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
तकरीबन 20 मिनट नॉर्मल अंदाज़ में चुदाई करने के बाद पापा ने लंड की रफ़्तार और तेज़ कर दी इस दौरान मैं पानी छोड़ चुकी थी लेकिन पापा का स्टेंना कमाल था वो अब भी यंग थे और कमाल महारत से चोद रहे थे 15 मिनट मजीद तेज़ चुदाई के बाद पापा के धक्कों में तेज़ी आ गई मैं ने उन से कहा मेरी फारिघ् होने वाली है इस पर उन्हो ने कहा वो भी फारिघ् होने वाले हैं ये कह कर उन्होने पूरी ताक़त से धक्के लगाने शुरू किए इधर मैं फारिघ् हुई उधर पापा के लंड ने अपने गरम पानी का और सुहाग रात का तोहफा मेरी चूत को दे दिया पापा का पानी अंदर गिर रहा था और मुझे बहुत मज़ा आ रहा था







जब पापा का पानी गिरना बंद हुआ तो पापा ने आराम से अपने लंड को बाहर निकाला पापा का लंड मेरी चूत के ब्लड और हम दोनो के पानी से सना हुआ था.हम दोनो की साँसें तेज़ हो रही थी कुछ देर हम एक दूसरे की बाहो मे लेटे रहे जब सांस बहाल हुई तो पापा उठे और मुझे भी उठाया मुझ से चला नही जा रहा था मैं ने देखा कि मेरे ब्लड से बेड शीट सनी हुई थी.पापा ने मुझे गोद मे उठाया और बाथरूम में लाए वहाँ मुझे अच्छी तरह साफ किया और खुद को भी साफ किया.मेरी चूत पापा के लंबे मोटे लंड और लंड के धक्कों से सूज गई थी पापा ने मुझे बेड पी बैठाया और खुद बेड शीट चेंज की फिर मुझे कहा जान एक शिफ्ट और हो जाए 



मैं ने बेइखहतियार कहा ना बाबा आज के लिए इतना ही काफ़ी है. इस पर पापा ज़ोर से हँसे और कहा जो हुकम जनाब का आज से बंदा आप का गुलाम है. इस पर मेरी भी हँसी छूट गई और हम दोनो हँसने लगे. फिर पापा ने मुझे ब्रा और पैंटी पहनाई और मेरी चूत पे किस की और अपनी लाई हुई एक नाइटी मुझे पहनाई. रात बहुत हो चुकी थी और चुदाई की इस रेसलिंग ने काफ़ी थका दिया था इस लिए हम ने एक दूसरे को गुड नाइट किस की और जफ्फि डाल कर सो गये. सुबह अभी हम सो ही रहे थे कि मोम ने नाश्ते के लिए डोर नौक किया मेरे तो पूरी जिस्म मे पेन था इस से पहले कि मैं हिम्मत कर के उठती और डोर खोलती पापा मुझ से पहले उठ गये और डोर ओपन कर दिया



मोम अंदर आ गई पापा सिर्फ़ अंडररवेर मे थे और मैं नाइटी में थी कल रात हम बहुत थक गये थे इस लिए पापा कपड़े पहने बगैर ही सो गये थे पापा और रूम की हालत देख कर मोम मुस्कुराइ और पापा से कहा लगता है बहुत काम किया है जो कपड़े पहनने का टाइम भी नही मिला. रूम की हालत भी खराब हो रही थी फर्श पर मेरी टूटी हुई चूड़ियाँ(बॅंगल) पड़ी थी जो रात पापा से ज़ोर आज़माई मे टूट गई थी. एक तरफ मेरे ब्लड मे सनी हुई बेड शीट पड़ी थी. मैं भी अब उठ क बैठ गई थी मोम मेरी तरफ आईं मेरे होंठ सूजे हुए देख कर और मेरी नेक, और बूब्स की लाइन पर काटने और चूसने के निशान देख कर मुस्कुराइ और कहा लगता है कल रात खूब मेहनत की है मेरी रानी ने मैं झेंप गई. फिर मोम ने पूछा कि सब ठीक रहा मैं ने हाँ मे सिर हिलाया. इस के बाद मोम ने कहा तुम लोग जल्दी से नाश्ते के लिए आ जाओ जाते हुए फर्श पर पड़ी बेड शीट मोम ने उठाई कि वो धो देंगी जब उस पर ब्लड के बड़े से निशान को देख कर पापा से कहा कहीं किरण की फाड़ तो नही दी?



पापा ने मुस्करा कर कहा नही यार और मोम शीट ले कर चली गईं पापा ने पॅंट पहनी और मुझे सहारा दे के नाश्ते की टेबल पे ले आए.नाश्ते के दोरान मोम मज़ाक करती रही और मुझ से पूछा कि पापा ने तंग किया था क्या?पापा फॉरन बोले मैं ने तो तंग नही किया. इस पर मैं ने फॉरन कहा इतना तो तंग किया था ये सुन कर हम तीनो हँसने लगे. नाश्ते के बाद मोम बर्तन किचिन में रखने गयी तो पापा ने मुझे कहा जान चूत का दीदार ही करवा दो मैं ने कहा मोम जाएँगी रूम में दीदार कर लेना लेकिन पापा कहाँ रुकने वाले थे हाथ बढ़ा कर मेरी पैंटी सामने से नीचे की और मेरी चूत देख कर निहाल हो गये इतने मे मोम आती दुखाई दीं तो मैं ने जल्दी से अपनी पैंटी ठीक की. मोम ने कहा मुझे तुम लोगो से ज़रूरी बात करनी है क्यूँ कि 1/2 दिन मे तुम लोग हनीमून के लिए चले जाओगे और मैं चाहती हूँ इस से पहले जब कि तुम लोगो का फ्यूचर सेट हो चुका है मेरा भी कुछ बन जाए. पापा और मैं ने हैरत से मोम को देखा कि वो क्या कहना चाहती हैं.फिर पापा ने मोम से कहा कि कहो क्या बात है



मोम: तुम लोगो ने सुहाग रात मना ली है तुम लोगो का काम बन गया है लेकिन मेरी किसी को फिकर नही है. फिर पापा को मुखातिब कर के कहा आप के पास तो मेरे लिए टाइम नही था.आप तो दूसरी औरतों की चुदाई कर के रिलेक्स हो जाते थे लेकिन मेरे भी कुछ जज़्बात थे मेरा भी दिल चुदवाने को करता था लेकिन आप ने तो मेरी परवाह ही नही की.



पापा: खुल कर बोलो क्या कहना चाहती हो.



मोम: बात ये है कि मुझे भी कोई लाइफ पार्ट्नर चाहिए जो मैं ढूँढ चुकी हूँ बस मसला आप की इजाज़त का है. आप दोनो लगे रहें मैं और वो लगे रहेंगे. जब हमारा मूड बना करेगा हम सेक्स कर लिया करेंगे.



पापा: क्या बकवास कर रही हो?और कॉन है वो आदमी?



मोम: इस में बकवास की क्या बात है तुम दोनो का मिलन मेरी वजह से हुआ है मैं ना होती तो इतनी मस्त लड़की इस एज मे तुम्हें मिलती? जब रात अपनी बेटी को चोद रहे थे तब मेरा प्लान बकवास नही लगा तुम्हें.और हाँ वो आदमी कोई और नही मेरे कज़िन रियाज़ हैं. और तुम से ज़्यादा मुझे प्यार करते हैं. जिस तरह मैं ने तुम्हारा काम करवाया है वेसे ही मेरा काम भी करवाओ.



पापा गुस्से मे मोम को मारने उठे तो मैं ने उन का हाथ पकड़ कर रोक लिया.



मोम: मैं मार्केट तक जा रही हो तब तक आप के पास सोचने का टाइम है.ये कह कर मोम चली गईं.



मैं ओर पापा अकेले रह गये पापा बहुत गुस्से मे थे.मैं ने उन से कहा रूम में चल कर बात करते हैं.हम दोनो रूम मे आए मैं ने पापा से कहा देखें हम दोनो फँस चुके हैं. मोम ने हमे ट्रॅप कर लिया है वो ऐसे ही मोके की तलाश में थी जब ही तो कल की बजाए आज ही ये बात की उन को डर हो गा कि अगर वो कल ये बात करेंगी तो कहीं आप मुझे अपनी वाइफ बनाने से इनकार ना कर दें और उन का प्लान खराब हो जाए.मसला ये है कि अगर आप ने उन की बात नही मानी तो वो हमारे रीलेशन के बारे में लोगो को ना बता दें.



पापा कुछ देर सोचते रहे फिर बोले बात तो तुम्हारी ठीक है अब क्या किया जाए?



मैं ने कहा उन की बात माननी पड़ेगी अगर अपने आप को बचाना है और वैसे भी मोम की बातों से लग रहा था कि आप के उन के साथ रिलेशन्स नही हैं. और जहाँ तक बात ग़लत की है तो जो रात हम ने किया वो भी तो ग़लत था.





पापा- कहती तो तुम ठीक हो जब तुम्हारी मोम आए गी तो उस को हाँ करनी पड़े गी वो हरामजादि बहुत मक्कार निकली.



फिर मैं ने पापा से कहा मुझे डॉक्टर के पास जाना है मेरी बुरी तरह सूज गई है और पेन है. पापा बोले जान ठीक है तैयार हो जाओ कल से नहाने का टाइम भी नही मिला. फिर पापा ने अपने और मेरे लिए कपड़े निकाले. और मुझे उठा के बाथरूम में ले आए मैं ने कहा ये क्या कर रहे हैं तो कहने लगे साथ साथ नहाएँगे. बाथ रूम मे जा कर पापा ने मेरी नाइटी ब्रा और पैंटी उतार कर नंगा किया फिर खुद नंगे हो गये उन का लंबा मोटा लंड खड़ा हो गया था पापा ने मुझे अपनी तरफ खेंचा और झप्पी डाल दी



मैं रात की चुदाई के बाद बहुत बेशरम हो गई थी मैं ने भी उन को कस किया और हम लिप्स किस्सिंग करने लगे थोड़ी देर के बाद मैं ने पापा के लंड को पकड़ा और सहलाने लगी पापा जोश मे आ रहे थे मैं ने कहा अभी कंट्रोल रखें. फिर मैं ने पापा के कहे बगैर उन का लंड मूँह मे ले लिया और चूसने लगी थोड़ी देर चुसाइ के बाद हम नहाने लगे पापा ने मेरी बॉडी पे सोप लगाया मैं ने उन की बॉडी पे सोप लगाया. इस तरह मस्ती करते करते नहाए और नंगे बाहर आ गये



फिर मैं ने पापा के लिए वाइट सूट चूज़ किया और पापा ने मेरे लिए रेड कमीज़ और वाइट शलवार और रेड कलर की ब्रा और पैंटी चूज़ की.हम जल्दी जल्दी तैयार हुए और डॉक्टर के पास जाने के लिए निकल गये. पापा मुझे ले के लेडी डॉक्टर के पास गये डॉक्टर ने मुझ से मसला पूछा मैं ने बताया कि मेरी कल सुहागरात थी इंटर कोर्स के बाद नीचे काफ़ी सूजन हो गई है बॉडी मे पेन है और चला भी नही जा रहा. इस पर डॉक्टर ने मुझे कहा कि नीचे का मुआयना करना पड़े गा 



मैं ने अपनी शलवार और पैंटी हटा के चूत दिखाई डॉक्टर ने चेक कर के मेडिसिन लिखी और मुझ से कहा सूजन काफ़ी ज़्यादा है लगता है आप के हज़्बेंड का काफ़ी बड़ा है .



मैं ने मुस्करा कर जवाब दिया जी काफ़ी बड़ा है 



इस पर डॉक्टर ने कहा फिकर की बात नही है जल्द ही आप को आदत हो जाएगी मैं वहाँ से बाहर आई और पापा को मेडिसिन का पेपर दिया हम ने रास्ते में मेडिकलस्टोर से मेडिसिन ली और घर आ गये. घर पहुँचे तो मोम आ गई थी मैं और पापा मोम के पास बैठ गये.मोम ने पूछा क्या सोचा?


पापा ने कहा कि मुझे मंज़ूर है लेकिन तुम हमे तंग नही करना हम तुम्हारा ख़याल रखेंगे. मोम ने कहा रियाज़ को कब बुलाउ बात करने के लिए.पापा ने कहा कल शाम में बुलवा लो.इस के बाद मैं अपने रूम में रेस्ट करने के लिए आ गई और पापा मोम के पास बैठ गये. रात को पापा रूम मे आए और मेरे साथ बैठ गये और इधर उधर की बातें करने लगे कुछ देर के बाद बोले मैं तो भूल ही गया था ये कह कर पॉकेट से 2 टिकेट्स निकाल कर मुझे दी.मैं ने पूछा ये किस के टिकेट्स हैं पापा बोले हमारे हैं कल रात को हम हनी मून पर जा रहे हैं. फिर पापा कहने लगे जान क्या मूड है मैं ने कहा मूड तो है लेकिन आज सबर कर लें मेरी तबीयत ठीक हो जाए. पापा ने कहा ठीक है.फिर हम लोग पॅकिंग करने लगे
Reply
05-23-2019, 11:26 AM,
#9
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
मैं अपनी अलमारी से कपड़े निकाल रही थी कि पापा मेरे पीछे आ कर खड़े हो गये उन का लंड खड़ा था जो मेरी गान्ड को टच कर रहा था मैं ने पीछे मूड के देखा और कहा नो मस्ती अभी पॅकिंग करने दें. पापा ने कहा जान पॅकिंग कॉन सी करनी है वहाँ तुम्हे कॉन से कपड़े पहनने हैं सारा दिन तो तुम्हे नंगी ही रखुगा अपनी गोद मे बोलो ना जान रहोगी ना नंगी मेरी गोद मे 


पापा की बात सुन कर मे शर्मा गयी ऑर मैने हाँ कर दी पापा ने कहा बस तुम 1 2 जोड़े के इलावा अपनी सेक्सी नाइटी ऑर ब्रा पैंटी ही ले लो अपनी तुम्हारी मस्त जवानी का जलवा दिखाउन्गा सारा दिन.हम लोगो ने पॅकिंग की रात का 1 बज रहा था मैं ने कहा मैं तो थक गई हूँ मैं चेंज कर के आती हूँ ये कह के मैं बाथ रूम में घुस गई मुझे शरारत सूझी मैं ब्रा और पैंटी नही पहनी सिर्फ़ नाइटी पहन कर बाहर आ गई.बाहर आई तो देखा पापा बेड पर नंगे लेटे थे लंड खड़ा हो कर पेट से लगा हुआ था मैं ने पापा के लंड को हाथ मे ले कर कहा इसे नींद नही आती.पापा ने कहा इसे तुम्हारी चूत मे सोना है मैं ने कहा वो तो आज नही मिले गी पापा ने इस को फिर क्या मिले गा?


मैं ने लंड पे किस करते हुए कहा ये मिले गा. फिर मैं ने लंड को मूँह मे लिया और चूसने लगी मैं ने पापा के लंड के पी होल भी ज़ुबान फेरनी शुरू की पापा मज़े से पागल हो गये उन्हो ने मेरी नाइटी उतार दी अब हम दोनो नंगे थे मैं पापा का लंड चूस रही थी और पापा मेरी गान्ड मे फिंगर करने लगे हम दोनो मस्त थे काफ़ी देर लंड चूसने के बाद मुझे लगा कि लंड की कॅप और ज़्यादा मोटी हो रही है इस से पहले कि मैं कुछ समझती पापा के लंड ने पानी छोड़ दिया मैं ने जल्दी से लंड मूँह से निकाला मेरा सारा मूँह पानी से भर गया था मैं बाथरूम मे गई और मूँह वॉश किया और बाहर आ कर बनावटी गुस्से से कहा ये आप ने क्या किया मुझे बताना तो था पापा सॉरी करने लगे मैं ने हंसते हुए कहा मैं तो मज़ाक कर रही थी चलो इस बहाने आप का लंड रेलेक्स तो हुआ 

पापा ने मुझे अपने पास खींचा और मुझे किस किया फिर हम लोग सो गये.सुबह मोम ने डोर नॉक किया हम नंगे थे मैं ने जल्दी से चादर ओढ़ ली पापा ने शलवार या अंडररवेर कुछ भी नही पहना और नंगे ही डोर ओपन किया पापा को नंगा देख कर मोम मुस्कुराइ तो नशाते का कह कर चली गई. मैं ने जल्दी से कपड़े पहने और पापा को कहा कि वो भी कपड़े पहनें ताकि हम नीचे जाए. नाश्ता कर के पापा बाहर चले गये और मैं ने मोम से पूछा आज तो आप की सुहाग रात हो गी क्या तैयारी की? 

मोम ने हंसते हुए कहा तैयारी क्या करनी है बस न्यू ड्रेस लिया है मरून कलर की कमीज़ है और वाइट शलवार. मैं ने कहा आप पार्लर से तैयार हो जाएँ इस पर वो कहने लगी मेरा कॉन सा पहली बार है छोड़ो. फिर हम ने इधर उधर की बातें की फिर मैं अपने रूम मे चली गई शाम को पापा आ गये मोम ने फ़ोन कर के रियाज़ अंकल को बुला लिया टी पीने के बाद रियाज़ अंकल ने पापा से कहा कि आप का थॅंक्स.पापा ने फॉरमॅलिटी से वेलकम कहा. फिर मोम ने कहा हम बाहर जा रहे हैं देर हो जाएगी आप लोग टाइम से घर लॉक कर के स्टेशन चले जाना. इस के बाद मोम और अंकल चले गये पापा ने कहा जान हम भी बाहर चलते हैं. हम लोग भी बाहर आ गये सैर करते रहे फिर खाना खाया तो काफ़ी टाइम हो गया था हम घर आए अपना सामान लिया और स्टेशन की तरफ चल दिए .



स्टेशन पर पहुँचे तो ट्रेन आ चुकी थी हम ने अपना सामान रखा और अपनी सीट्स पर बैठ गये. मेने दुल्हन ही ड्रेस पहेनी हुई थी ऑर हाथो मे मेहंदी लगी हुई . डब्बे मे काफ़ी रश था इस लिए सारे रास्ते कोई मस्ती न हो सकी हमारे सामने की बर्त पर बहुत अच्छा कपल बैठा हुआ था जो काफ़ी हंस मुख था. हमे देख कर वो बोले लगता है तुम दोनो की नई नई शादी हुई ओर हॅन्मुन के लिए जा रहे हो सारा रास्ता अच्छा कट गया. सुबह हम अपनी मंज़िल पर पहुँचे टॅक्सी ले कर एक होटेल गये जो कि काफ़ी आलीशान होटेल था. पापा ने वहाँ रूम मिस्टर आंड मिसेज़ भाटिया के नाम से हनीमून रूम बुक करवाया और हम रूम मे आ गये रात ट्रेन मे सही से नींद नही आई थी इस लिए हम दोनो आ गये . पापा ने रूम मे आते ही मुझे पीछे से पकड़ लिया ऑर मेरे बूब को मसल्ते हुए बोले जान अब हम यहाँ अकेले हैं ऑर मैं चाहता हूँ कि तुम भी यहाँ मेरे साथ खुल मस्ती करो देखो अब हम दोनो पति पत्नी हैं इसलिए तुम भी यहाँ चुदाई का पूरा मज़ा लो यहाँ पर तुम मुझे पापा नही डार्लिंग या जान राजा जो तुम्हे अच्छा लगे वो बोलो. 

फिर पापा ने मुझ से पूछा जान बताओ क्या तुम यहाँ खुल कर गंदी बाते कर के मुझे मज़ा दोगी. मैं भी उनसे लिपट कर बोली हाँ दूँगी ना डियर अब आप जैसे चाहो मुझे चोदो. तभी मम्मी का फ़ोन आ गया तो पापा मोम से बाते करने लगे. मोम से बात करते देख कर मैं जलन से उनसे दूर हो कर बोली क्यूँ जी अभी भी यहाँ पर उस से बात कर रहे हो ऑर मैं यहाँ अकेली हूँ. तो पापा मेरे गले मे अपने बहे डालते हुए बोलो नही जान तुम तो मेरे दिल की रानी हो वो तो उस से बस ऐसे ही ,


तो मैं भी शरारत से पापा के लंड को पॅंट के उपर से पकड़ कर सहलाते हुए बोली ऑर इस की तो पापा मुझे चूमते हुए बोले अरे तुम ही हो इस लंड की असली रानी आज से ये तुम्हारा दास हैं ऑर मैं भी तो मैं पापा को चूमते हुए बोली ये मेरा दास नही मैं ही अब आप के इस मस्त लंड की दासी हूँ ऐसे ही सेक्सी बाते करते हुए हम एक दूसरे के गले मे बाहें डाले सो गये. 

शाम को आँख खुली तो पापा कहने लगे बाहर चल के घूमते हैं मैं ने हाँ कहा और हम तैयार हो कर बाहर निकल गये. उस टाइम मेने एक बहुत ही टाइट टॉप ऑर एक टाइट जीन्स पहेनी हुई थी जिस मेरा हर एक अंग साफ दिख रहा था. हम काफ़ी देर घूमते रहे एंजाय करते रहे रात हो गई हम ने खाना भी बाहर खाया.मेरी तबीयत काफ़ी हद तक ठीक थी जब हम रूम मे पहुँचे तो पापा ने आते ही मुझे दबोच लिया मैं ने भी उन के लंड को पकड़ कर खींचा तो पापा समझ गये कि आज मैं चुदाई के लिए रेडी हूँ हम बेड पर आ गये पापा ने मेरी कमीज़ उतार दी मैं ने भी उन का साथ दिया और उन की शर्ट उतार दी पापा ने मेरी ब्रा खोल दी और और बूब्स पर हमला कर दिया निपल्स को चूसने और काटने लगे मैं हॉट होने लगी.मैं ने भी पापा की पेंट खोल कर लंड बाहर निकाल लिया और सहलाने लगी.


थोड़ी देर के बाद हम ने लिप्स किसिंग शुरू कर दी बहुत मज़ा आ रहा था जब लिप्स किसिंग कर के हम थक गये तो पापा ने मेरी शलवार और पैंटी उतार दी और खुद भी नंगे हो गये फिर मुझे कहा कि 69 की पोज़िशन मे आ जाओ ता कि मैं लंड चुसू और वो मेरी चूत चाटे हम 69 की पोज़िशन मे एक दूसरे को मज़ा देने लगे अचानक पापा ने मेरी गान्ड के होल पर ज़ुबान फेरनी शुरू की और होल चाटने लगे मज़े से मैं पागल हो रही थी और मेरे मूँह से आह ओह ओह की आवाज़ निकलने लगी. मैं वेट होने लगी कुछ देर गान्ड चाटने के बाद पापा फिर से चूत चाटने लगे. और कहा जान तुम्हारा पानी बहुत टेस्टी है. पापा ने चूत के अंदर ज़ुबान डाल दी और ज़ुबान से चोदने लगे मैं इतनी मस्त हो गई कि मेरा पानी निकल गया जिसे पापा पी गये. 
Reply

05-23-2019, 11:26 AM,
#10
RE: Indian Porn Kahani पापा से शादी और हनीमून
हम कुछ देर के लिए रुके इस दौरान मैं पापा के सीने के बालों से खेलती रही जब कि पापा मेरी बगलों(आर्म्पाइट) को सूँघते और चाटते रहे. मैं फिर से हॉट होने लगी पापा आर्म्पाइट को छोड़ कर मेरी नेक पर किसिंग करने लगे फिर मुझे उल्टा लिटा कर मेरी बॅक पर किसिंग की .


मस्ती से मेरा बुरा हाल था तकरीबन 20 मिनट किस करने बाद मुझे सीधा किया और मेरे पेट(बेल्ली)को चाटने लगे. ये सिलसिला कुछ देर चला मेरी बस हो चुकी थी मैं बुरी तरहा गीली हो रही थी मैने पापा को कहा कि अब अंदर डाल दें पापा ने मेरी लेग्स को अपने शोल्डर्स पर रखा और मेरी चूत के पानी से लंड को गीला किया और लंड को चूत पर सेट कर के ज़ोर लगाया लंड धीरे धीरे चूत मे उतरने लगा मुझे थोड़ा पेन हुआ जो मैने बर्दाश्त कर लिया पापा आराम से लंड को अंदर करते रहे जब पूरा अंदर चला गया तो स्लो स्लो अंदर बाहर करने लगे पहली बार की निसबत मुझे ज़्यादा मज़ा मिल रहा था क्यूँ कि पेन नही हो रहा था 15/20 मिनट स्लो स्लो करने के बाद पापा ने रफ़्तार तेज़ की मैं भी गान्ड उठा उठा लंड अंदर लेने लगी मज़े की शिदत से मैं फारिघ् हो गई लेकिन पापा ने चुदाई नही रोकी लंड के धक्के लगाते रहे मैं थोड़ी देर मे फिर हीट मे आ गई और मज़ा लेने लगी 20 मिनट मज़ीद स्पीड से चुदाई करने के बाद पापा ने कहा मैं फारिघ् होने वाला हूँ ये कह कर उन के धक्को की रफ़्तार और तेज़ हो गई लंड ने मेरी चूत को हिला के रख दिया था और कुछ देर बाद मुझे अंदर गरम गरम सा फील हुआ मैं समझ गई कि पापा ने पानी छोड़ दिया है. 


मेरे अंदर पानी की बरसात जब ख़त्म हुई तो पापा ने लंड बाहर निकाला मैं ने अपनी चूत को कस के दबा लिया ता कि पापा का ज़्यादा तर पानी अंदर रहे. फिर भी पानी इतना ज़्यादा था कि चूत मे से बह रहा था.पापा थक कर मेरे साथ ही लेट गये जब थोड़ा रिलॅक्स फील किया तो उठ कर मेरी गीली चूत को चूम लिया. फिर हम बाथ रूम मे गये और अपने आप को साफ किया और नंगे बेड पर आ कर लेट गये. पापा मेरे बालों मे फिंगर फेर रहे थे मैं ने पापा के सीने पे मूँह रख दिया और उन की बॉडी की स्मेल फील करने लगी. पापा ने कहा किरण मैं फील कर रहा हूँ तुम मुझ से शर्मा रही हो. मैं खामोश रही फिर प्यार से मेरी आँखो मे आँखें डाल कर कहा देखो तुम मेरी बेटी के साथ साथ मेरी वाइफ भी हो. हज़्बेंड वाइफ के रीलेशन मे शरम नही होती तुम खुल का अपने जज़्बात का इज़हार करो ताकि मुझे भी पता चले मेरी वाइफ को मेरा साथ पसंद आया है.


मैं ने कहा पापा मैं ने आप को हज़्बेंड मान लिया है और आप के लंड के तो क्या कहने वो तो किसी भी लड़की को अपना बना सकता है. मैं आप की हूँ और जैसे चाहो मुझे चोदो. आइ लव यू पापा और मैं ने अपने होंठ पापा के होंठो पे रख कर किसिंग शुरू कर दी पापा भी मेरे होंठो का रस पीने लगे पापा के हाथ मेरे बूब्स पर थे वो बड़े प्यार से मेरे बूब्स को सहला रहे थे पापा ने मदहोशी मे कहा जान तुम बहुत खूबसूरत हो गोल गोल चुचियाँ पतली कमर सुडोल चूतड़. मैं ने कहा अच्छा जी.

हम दोनो काफ़ी हॉट हो रहे थे मैं ने कहा पापा चूत मे खुजली हो रही है आप खुजा दें. पापा ने आँख मार कर कहा मैं ने मेरा लंड इसे खुज़ाएगा . ये कह कर पापा मुझे झप्पी डालने लगे तो मैं जल्दी से साइड मे हो गई तो उन से बच के बेड से नीचे उतरी और पापा के सामने गान्ड को मटकाया पापा ने मेरे चुतड़ों को मटकते देखा तो पागलो की तरह मुझे पकड़ने के लिए बेड से उठे . 


मैं उन को तंग करने के लिए सोफे की तरफ भागी पापा भी तेज़ी से मेरे पीछे आए तो मुझे पकड़ लिया और सोफे पर पटक दिया और मुझे काबू मे कर लिया.फिर जल्दी से मेरी लेग्स को खोल के मेरी चूत पर प्यार से हाथ फेरा मेरी बॉडी मे करेंट दौड गया फिर मेरी चूत के लिप्स को फेलाया और क्लिट को अपने होंठो मे ले लिया , 

मेरे मूँह से निकला हॅयायियी पापा ज़ोर से चूसो इसे 

पापा क्लिट को चूसने लगे फिर ज़ुबान चूत के अंदर फिराने लगे मेरी चूत गीली हो रही थी पापा का भी जोश से बुरा हाल था उन का लंड झटके खा रहा था वो मेरे उपर चढ़ गये और लंड चूत पे रख कर सेट किया मेरे लिप्स को अपने लिप्स से पकड़ कर एक करारा धक्का मारा और आधा लंड अंदर पेल दिया मेरी चीख निकल गई हाइईइ मर् गई लेकिन पापा पे कोई असर नही हुआ लिप्स किसिंग करते हुए उन्हो ने एक और करारा धक्का मारा और लंड पूरा मेरी चूत मे था.

मैं:हाई पापा आराम से.

पापा: कंजरी मेरे सामने चूतड़ मटका कर भाग रही थी मुझे पागल कर रही थी, चूत मे खुजली हो रही थी ना? अब ले मिटवा अपनी खुजली.

मैं: भी मस्त हो चुकी थी और कहने लगी ज़ोर से पेलो लंड मेरे बेटी चोद पापा. मेरे सैया मेरा राजा मेरे मालिक अब मैं तेरी रांड़ हूँ जैसी मर्ज़ी चोद मुझे फाड़ दे मेरी चूत.


पापा ये सुन कर जोश मे आ गये और तेज़ी से धक्के मारने लगे. चूत बहुत गीली हो रही थी और लंड के अंदर बाहर होने से पच पच की आवाज़ आ रही थी जो बहुत अच्छी लग रही थी.

कुछ देर इसी तरह चोदने के बाद पापा ने लंड अंदर डाले रखा और मुझे इस हालत मे गोद मे उठा लिया और गोद मे भर के चोदने लगे इस तरह मे पहली बार चुद रही थी बहुत मज़ा आ रहा था मेरे बूब्स हवा मे उछल रहे थे. लंड जड़ तक मेरी चूत मे घुस कर बच्चा दानी से टकरा रहा था मेरे मूँह से आह आह ओह्ह्ह आहह हाइईईई की आवाज़ें निकल रही थी. पापा की स्पीड और तेज़ हो गई थोड़ी ही देर के बाद जैसे ही मैं फारिघ् हुई पापा भी फारिघ् हो गये. जब पापा का पानी सारा निकल गया तो मुझे बेड पे लिटाया और मेरे साथ लेट गये हम दोनो की साँसें तेज़ तेज चल रहीं थी.


जब सांस बहाल हुई तो पापा मुझे गोद में उठा के बातरूम मे ले आए जहाँ हम ने एक दूसरे को साफ किया फिर बेड पर लेट गये. टाइम देखा तो सुबह के 6 बज रहे थे.पापा ने कहा जान अब सो जाते हैं मैं ने कहा 1 सेकेंड और जल्दी से उठ कर पापा के लंड को किस किया और झप्पी डाल कर सो गये.
Reply


Possibly Related Threads...
Thread Author Replies Views Last Post
Thumbs Up Porn Story गुरुजी के आश्रम में रश्मि के जलवे sexstories 116 881,363 Yesterday, 07:58 PM
Last Post: nottoofair
  Mera Nikah Meri Kajin Ke Saath desiaks 8 45,941 09-18-2021, 01:57 PM
Last Post: amant
Thumbs Up Antarvasnax काला साया – रात का सूपर हीरो desiaks 71 23,264 09-17-2021, 01:09 PM
Last Post: desiaks
Lightbulb Kamukta kahani कीमत वसूल desiaks 135 535,019 09-14-2021, 10:20 PM
Last Post: deeppreeti
Lightbulb Maa ki Chudai माँ का चैकअप sexstories 41 333,851 09-12-2021, 02:37 PM
Last Post: Burchatu
Thumbs Up Antarvasnax दबी हुई वासना औरत की desiaks 342 264,907 09-04-2021, 12:28 PM
Last Post: desiaks
  Hindi Porn Stories कंचन -बेटी बहन से बहू तक का सफ़र sexstories 75 1,001,427 09-02-2021, 06:18 PM
Last Post: Gandkadeewana
Thumbs Up Hindi Sex Stories तीन बेटियाँ sexstories 170 1,335,862 09-02-2021, 06:13 PM
Last Post: Gandkadeewana
Lightbulb Maa Sex Kahani माँ की अधूरी इच्छा sexstories 230 2,549,508 09-02-2021, 06:10 PM
Last Post: Gandkadeewana
  क्या ये धोखा है ? sexstories 10 37,942 08-31-2021, 01:58 PM
Last Post: Burchatu



Users browsing this thread: 6 Guest(s)